charcha me | 

होम -> स्पोर्ट्स

 |  5-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 26 नवम्बर, 2021 05:39 PM
बिलाल एम जाफ़री
बिलाल एम जाफ़री
  @bilal.jafri.7
  • Total Shares

अच्छे दिन आते हैं और सबके आते हैं. बस ज़रूरी है कि जिसके आए हैं वो मेहनती तो हो ही साथ ही उसकी किस्मत भी बुलंद होनी चाहिए. यूं भी कहा यही गया है कि सफलता के दो ही मूलमंत्र हैं, पहला मेहनत. दूसरा भाग्य. बड़े बुजुर्गों का तो इस मामले में यहां तक कहना है कि मेहनत और किस्मत में से कोई भी एक तत्व घट जाए या बढ़ जाए तो व्यक्ति कुछ भी हो सकता है लेकिन सफल हरगिज़ नहीं. इन बातों को ध्यान में रखिये और टीम इंडिया के दिग्गज ओपनिंग बैट्समैन रोहित शर्मा का रुख कीजिये. रोहित मेहनती तो हैं ही साथ ही उनकी किस्मत भी बुलंद है और शायद यही वो कारण है कि टीम इंडिया के हेड कोच राहुल द्रविड़ के फेवरेट रोहित शर्मा की पांचों उंगलियां घी और सिर कढ़ाई में है. मौजूदा समय में रोहित टी20 टीम के कप्तान हैं. ध्यान रहे अभी हाल ही में बीते टी20 वर्ल्ड कप में टीम इंडिया की शर्मनाक हार का ठीकरा कप्तान कोहली के सिर पर फोड़ा गया था. जिसके बाद उन्होंने टी20 की कप्तानी छोड़ दी थी. रोहित अपनी मेहनत से ख़ुद को सिद्ध कर चुके हैं साथ ही भाग्य भी उनके साथ था इसलिए टी20 टीम की कप्तानी के लिए 34 साल के रोहित सबकी पहली पसंद बने. शेष हमारे सामने है. लेकिन क्या आपको पता है कि रोहित बहुत ज्यादा दिनों तक क्रिकेट के इस फॉरमेट में कप्तानी नहीं कर पाएंगे.

Team India, T20, Rohit Sharma, Captain, Virat Kohli, World Cup, Rishabh Pantरोहित शर्मा की उम्र और फिटनेस ने उन्हें टेंशन में डाल दिया है जा सकती है टी20 की कप्तानी

हैरत में पड़ने की कोई जरूरत नहीं है. है कोई जो उनकी जगह लेने को बेकरार है. दिलचस्प ये कि उस शख्स ने न केवल अपने गेम बल्कि अपनी निर्णायक क्षमता के कारण पहले ही सिलेक्टर्स के दिल में खास जगह बना रखी है. जैसा कि हम बता चुके हैं आज भले ही रोहित शर्मा टी20 टीम के कप्तान है और बहुत ज्यादा दिनों तक कप्तानी उनके साथ नहीं रहेगी तो ये बातें यूं ही हवा में नहीं कही गई हैं. इनके पीछे मजबूत तर्क हैं.

ध्यान रहे उम्र के लिहाज से रोहित 34 साल के हैं. जैसा इंटरनेशनल क्रिकेट का इतिहास है 34 साल वो उम्र है जब अधिकांश खिलाड़ी गिरती फिटनेस का शिकार होते हैं और अपने रिटायरमेंट का ऐलान कर देते हैं. चूंकि टी20 फॉरमेट युवाओं या ये कहें कि कम उम्र के खिलाड़ियों का फॉरमेट है इसलिए प्रबल संभावना है कि जल्द ही रोहित या तो टी20 कप्तान का पद छोड़ देंगे या फिर उन्हें हटा दिया जाएगा.

रोहित के साथ यदि किसी तरह की कोई भी अनहोनी होती है. तो जो सबसे बड़ा सवाल है, वो ये कि आखिर उनकी जगह लेगा कौन? ज्ञात हो कि टीम इंडिया के पास पहले से एक खिलाड़ी ऐसा मौजूद है, जो रोहित के बाद लंबे समय तक टी20 फॉरमेट में कप्तान की जिम्मेदारी का निर्वाह कर सकता है. जिस खिलाड़ी की बात हम कर रहे हैं वो टीम इंडिया के युवा विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत हैं.

माना यही जा रहा है कि ऋषभ पंत का शुमार उन चुनिंदा लोगों में है जो रोहित के बाद टीम को संभाल सकते हैं. उम्र के लिहाज से पंत महज 24 साल के हैं. 24 साल की उम्र में जिस तरह पंत ने आईपीएल में कप्तानी की है वो काबिल ए तारीफ है. बहुत ही कम समय में टीम इंडिया में खास मुकाम हासिल कर चुके पंत युवा हैं. अभी बहुत सा क्रिकेट न केवल उन्हें खेलना है, बल्कि उनके अंदर बाकी भी है.

कहा तो यहां तक जा रहा है कि यदि मौका दिया जाए तो ऋषभ पंत टीम इंडिया को उस मुकाम पर पहुंचा सकते हैं जो आपकी और हमारी सोच और कल्पना दोनों से परे हैं. क्रिकेट जैसे खेल में फॉरमेट भले ही कोई हो लेकिन खिलाड़ी की टाइमिंग मायने रखती है. ऐसे में जब हम ऋषभ पंत के गेम और उनकी टाइमिंग को देखते हैं तो एक बार के लिए भी ऐसा बिल्कुल नहीं लगता कि कोई 24 साल का खिलाड़ी मैदान में है और इस हद तक सधी हुई पारी खेल रहा है.

तमाम क्रिकेट एक्सपर्ट्स हैं जो मुखर होकर इस बात को कहते हैं कि बतौर कप्तान ऋषभ पंत एक बेहतरीन विकल्प हैं. बात ऋषभ पंत की चली है तो ये बताना भी बहुत जरूरी हो जाता है कि आईपीएल 2021 में ऋषभ पंत ने दिल्ली कैपिटल्स की कप्तानी जिस अंदाज में की थी उसने सभी क्रिकेट फैंस के मन मोह लिया था.

ये ऋषभ की कप्तानी का ही परिणाम था कि दिल्ली लीग मैचों के बाद अंक तालिका में टॉप पर रही. हालांकि क्वालीफायर के दोनों मैचों में इस टीम को हार झेलनी पड़ी. फिर भी पंत ने पहली ही बार में दिखा दिया कि वो कप्तानी कैसे कर सकते हैं. चाहे वो साथी खिलाड़ियों का मनोबल बढ़ाना हो या खुद का खेल पूरे आईपीएल में अपनी रणनीति से सभी का ध्यान अपनी तरफ खींचा था.

बहरहाल बात रोहित शर्मा पर चली थी. उनकी कप्तानी पर चली थी. उनकी उम्र पर चली थी तो जिस तरह क्रिकेट की दुनिया में 'बुजुर्गों' के मुकाबले युवाओं को तरहजीह दी जा रही है साथ ही ऋषभ पंत जैसे युवा जिस तरह अपने गेम और फिटनेस पर काम कर रहे हैं अच्छे दिन आने के बावजूद रोहित के सामने चुनौतियों का पहाड़ है.

सवाल ये है कि इन चुनौतियों से कैसे रोहित खुद को पार लगाएंगे? बाकी आने वाला वक़्त टीम इंडिया के मद्देनजर रोहित और ऋषभ पंत दोनों के लिए खासा महत्वपूर्ण है. रोहित को जहां एक तरफ अपनी कप्तानी बचानी है तो वहीं ऋषभ के सामने चुनौती ये है कि वो कप्तानी पर कैसे कब्ज़ा करें.

ये भी पढ़ें -

रवि शास्त्री-विराट कोहली की तरह नई जोड़ी रोहित शर्मा-राहुल द्रविड़ की!

T20 World Cup से टीम इंडिया के बाहर होने की 5 बड़ी वजह

टी20 विश्वकप से टीम इंडिया के बाहर होने पर अब सिर्फ लकीर पीटी जा रही है!  

लेखक

बिलाल एम जाफ़री बिलाल एम जाफ़री @bilal.jafri.7

लेखक इंडिया टुडे डिजिटल में पत्रकार हैं.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय