charcha me| 

होम -> स्पोर्ट्स

 |  5-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 23 जून, 2022 02:41 PM
देवेश त्रिपाठी
देवेश त्रिपाठी
  @devesh.r.tripathi
  • Total Shares

ऑस्ट्रेलिया में इसी साल टी20 वर्ल्ड कप 2022 का आयोजन होना है. और, हर सीरीज के बाद टीम इंडिया के स्क्वॉड की चर्चा जोर पकड़ लेती है. हाल ही में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खत्म हुई टी20 सीरीज के बाद भी टीम इंडिया के हेड कोच राहुल द्रविड़ से इसे लेकर सवाल किया गया था. लेकिन, राहुल द्रविड़ ने अभी तक टी20 वर्ल्ड कप के लिए स्क्वॉड तैयार नहीं होनी की बात कह कर सबको चौंका दिया. इतना ही नहीं, राहुल द्रविड़ ने विकेटकीपर ऋषभ पंत का पक्ष लेते हुए कहा कि 'वह ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी20 विश्व कप की तैयारियों का 'बड़ा' और 'अभिन्न' हिस्सा हैं.' बताना जरूरी है कि ऋषभ पंत ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टी20 सीरीज के चार मैचों में केवल 58 रन बनाए थे. और, उनका स्ट्राइक रेट भी केवल 105 रहा था.

वैसे, हाल ही में टीम इंडिया के हेड कोच राहुल द्रविड़ के साथ ऋषभ पंत इंग्लैंड दौरे पर गए हैं. अब क्योंकि, राहुल द्रविड़ के हिसाब से पंत T20 World Cup 2022 में अहम भूमिका रखते हैं. तो, यह संभव है कि इंग्लैंड के खिलाफ बचा हुआ एक टेस्ट मैच खेलने के बाद होने वाली टी20 सीरीज में ऋषभ पंत को फिर से मौका मिले. और, अगर ऐसा होता है, तो यह संजू सैमसन और दिनेश कार्तिक जैसे खिलाड़ियों को दरकिनार कर लिया गया फैसला ही कहलाएगा. जबकि, टी20 में ऋषभ पंत की खराब परफॉर्मेंस से लेकर बिगड़े आंकड़ों तक के लिए उनकी आलोचना हो रही है. और, इस हालात में भी टीम इंडिया के हेड कोच राहुल द्रविड़ का पंत का समर्थन करना क्रिकेटप्रेमियों को नहीं भा रहा है.

इसी साल अक्टूबर से ऑस्ट्रेलिया में शुरू होने वाले टी20 विश्व कप में 4 महीने से भी कम का समय बचा है. और, राहुल द्रविड़ का ये कहना कि टीम स्क्वॉड अभी तैयार नहीं हुआ है. किसी टीम इंडिया के प्रशंसकों के लिए किसी बड़े झटके से कम नहीं है. क्योंकि, ऋषभ पंत का समर्थन कर राहुल द्रविड़ ने कहीं न कहीं ये इशारा कर दिया है कि अभी खुद को साबित करने के लिए पंत को और मौके मिलेंगे. जिसकी वजह से इतनी जल्दी टीम इंडिया का स्क्वॉड नहीं फाइनल होना है. वैसे, आईसीसी ने इस पूरे मामले से जुड़ी एक खबर को ट्वीट किया है. जिस पर टीम इंडिया के प्रशंसकों का गुस्सा राहुल द्रविड़ पर फूट पड़ा है. कहना गलत नहीं होगा कि टी20 में ऋषभ पंत को मिल रहे मौकों पर राहुल द्रविड़ को निशाने पर आना ही था!

Rahul Dravid backs Rishabh Pant for T20 World Cup 2022 Social Media criticised Team India Coachदिनेश कार्तिक और ऋषभ पंत के बीच टीम इंडिया के टी20 स्क्वॉड में जगह पाने को लेकर अघोषित जंग चल रही है.

टी20 वर्ल्ड कप प्रतिभा निखारने की जगह नहीं 

सोशल मीडिया पर एक यूजर ने लिखा है कि यही कारण है कि टीम इंडिया वर्ल्ड कप नहीं जीत पाती है. हमें ऐसे खिलाड़ियों की जरूरत है, जो टी20 के फॉर्मेट में फिट हों और अच्छा प्रदर्शन कर रहे हों. ऋषभ पंत टेस्ट या वनडे में बेहतर प्रदर्शन करते हैं. नाकि, टी20 में. इस यूजर ने राहुल द्रविड़ को आड़े हाथों लेते हुए कहा है कि विश्व कप कुछ ऐसा नहीं है, जिसमें खिलाड़ियों को निखारा जाए. वर्ल्ड कप को जीतने के लिए खेला जाता है. हमें एक ऐसे कोच की जरूरत है, जो जानता हो कि कैसे जीतना है? देखा जाए, तो इस सोशल मीडिया यूजर ने एक अहम मुद्दा उठाया है. इस बात में कोई दो राय नहीं है कि टीम इंडिया के कोच राहुल द्रविड़ वर्ल्ड कप जैसे बड़े इवेंट की तैयारी लंबे समय से कर रहे हैं. लेकिन, जब इवेंट में 4 महीने से भी कम का समय बचा हो, तो स्क्वॉड को फाइनल करने में देरी लगाने का औचित्य समझ नहीं आता है.

प्रदर्शन को लेकर टीम इंडिया के कोच को होना चाहिए सख्त

वहीं, एक ट्विटर यूजर ने लिखा है कि राहुल द्रविड़ एक एकेडमी कोच हैं. उनके लिए सबसे सही जगह एनसीए में ही है. टीम इंडिया के लिए हमें फुटबॉल टीम के मैनेजरों की तरह एक कठोर कोच की जरूरत है, जो यह तय करने की पूरी ताकत रखता है कि कौन खेलता है, कौन नहीं. इस मामले में एक विदेशी कोच बेहतर हो सकता है, जो खिलाड़ियों की भावनाओं और उनके अहंकार से कम जुड़ेगा. वैसे, देखा जाए, तो विदेशी कोच के तौर पर जॉन्टी रोड्स ने टीम इंडिया के लिए एक बेहतरीन रोल निभाया था. वहीं, एक अन्य यूजर ने लिखा है कि यह समस्या भारतीय कोचों के साथ लगातार बनी हुई है. आउट ऑफ फॉर्म चल रहे खिलाड़ियों को 101 मौके देते हुए यह प्रतिभाओं को बेंच पर ही खत्म कर देते हैं.

इस बात में कोई दो राय नहीं है कि टी20 वर्ल्ड कप के लिए टीम इंडिया के संभावित स्क्वॉड में सबसे ज्यादा चर्चा दिनेश कार्तिक और ऋषभ पंत को लेकर ही हो रही है. क्योंकि, एक विकेटकीपर और टी20 बल्लेबाज के तौर पर दिनेश कार्तिक आंकड़ों के साथ ऋषभ पंत से कहीं आगे नजर आते हैं. वैसे, इस संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता है कि टी20 वर्ल्ड कप 2022 के लिए टीम इंडिया के स्क्वॉड में दिनेश कार्तिक और ऋषभ पंत दोनों को ही जगह मिल जाए. लेकिन, अहम सवाल यही है कि आखिर ऋषभ पंत को टी20 में इतने मौके देने का क्या औचित्य है? जबकि, वह टेस्ट और वनडे टीम में अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं.

लेखक

देवेश त्रिपाठी देवेश त्रिपाठी @devesh.r.tripathi

लेखक इंडिया टुडे डिजिटल में पत्रकार हैं. राजनीतिक और समसामयिक मुद्दों पर लिखने का शौक है.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय