होम -> स्पोर्ट्स

 |  4-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 23 फरवरी, 2021 05:09 PM
मशाहिद अब्बास
मशाहिद अब्बास
  @masahid.abbas
  • Total Shares

विश्व टेस्ट चैंपियनशिप अपने निर्णायक मोड़ पर है. 18 जून को फाइऩल मैच है. ऐसे में अब विश्व की सभी टेस्ट टीमों के भाग्य का फैसला अब कुछ ही दिनों में हो जाने वाला है. फिलहाल टूर्नामेंट की दौड़ में केवल चार टीमें ही बची हुयी हैं. फाइऩल मैच में प्रवेश पाने वाली एकलौती टीम है नंबर एक पर काबिज न्यूज़ीलैंड की टीम. वहीं फाइनल मैच का टिकट हासिल करने के लिए अभी तीन दिग्गज टीमों के बीच घमासान मचा हुआ है. इन तीन टीमों में नंबर दो पर काबिज भारत के साथ इंग्लैंड और आस्ट्रेलिया भी फाइनल मैच में जगह बनाने के लिए जद्दोजहद में जुटी हुई है. आईसीसी पहली बार विश्व टेस्ट चैंपियनशिप का आयोजन कर रहा है. इस चैंपियनशिप में टेस्ट खेलने वाले सभी देशों को द्धिपक्षीय सिरीज़ खेलनी होती है जिसमें प्वाइंट देकर इसकी अंकतालिका आईसीसी जारी करता है. 18 जून 2021 को इस विश्व टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल मैच होना है. यह मैच लॅार्डस के मैदान पर खेला जाना है. विश्व टेस्ट चैंपियनशिप पहली बार ही इतना रोमांचक होगा इसकी उम्मीद कम थी, लेकिन अब इसके रोमांच को देखते हुए ऐसा लगता है कि यह टूर्नामेंट भी हिट साबित हुआ है. इस वर्ल्ड चैंपियनशिप के रोमांच का अंदाज़ा आप इसके अंकतालिका को देखकर ही लगा सकते हैं.

Pink Ball In Test Cricket Ind vs Eng Pink Ball tell reasons why new format of cricket is interesting pink ball cricket history भारत और इंग्लैंड दोनों की ही नजर पिंक बॉल पर है दोनों ही इस नए फॉर्मेट के शहंशाह बनने को बेक़रार हैं

फिलहाल इस टूर्नामेंट की अंकतालिका में पहले स्थान पर न्यूज़ीलैंड की टीम है जिसके कुल 70 प्वाइंट हैं, दूसरे नंबर पर भारत है जिसका कुल प्वाइंट 69.7 है. तीसरे स्थान पर आस्ट्रेलिया है जिसका प्वाइंट 69.2 है वहीं चौथे स्थान पर इंग्लैंड की टीम है जिसका कुल प्वाइंट 67 है.फाइनल मैच के लिए न्यूज़ीलैंड ने अपना स्थान पक्का कर लिया है. फाइनल में पहुंचने वाली दूसरी टीम कौन सी होगी इसका फैसला भारत और इंग्लैंड के बीच चल रहे टेस्ट सिरीज़ से ही तय होना है.

भारत और इंग्लैंड के बीच 4 टेस्ट मैचों की सिरीज़ चल रही है. फिलहाल दोनों ही टीम 1-1 मैच जीतकर बराबरी पर है. अगले 2 टेस्ट मैच ही विश्व टेस्ट चैंपियनशिप की दास्तान लिखेंगे. अगले दोनों टेस्ट मैच दुनिया के सबसे बड़े क्रिकेट ग्राउंड मोटैरा के मैदान पर होंगे. दोनों ही टेस्ट मैच डे-नाइट होंगे यानी कि पिंक बाल से खेले जाएंगे. अबतक खेले गए पिंक कलर की गेंद से भारत का प्रदर्शन संतोषजनक नहीं रहा है.

वहीं इंग्लैंड की टीम भी विदेशी मैदानों पर पिंक कलर की गेंद पर लढ़खड़ाती हुई ही नज़र आई है. ऐसे में कौन सी टीम किस पर हावी होगी इस बात का अंदाज़ा भी नहीं लगाया जा सकता है. भारत ने पिंक कलर की गेंद पर ही अपना सबसे निराशाजनक प्रदर्शन आस्ट्रेलिया में हालिया दिनों में किया था, जहां भारत की पूरी टीम 36 रनों पर बिखर गई थी.भारत को आईसीसी के टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंचने के लिए इंग्लैंड के खिलाफ अगले दोनों मैचों में से कोई भी मैच हारने नहीं हैं.

भारत अगर इंग्लैंड के खिलाफ मोटैरा स्टेडियम में अपने दोनों मैचों को जीत लेता है तो वह फाइनल में सबसे अधिक प्वाइंट लेकर प्रवेश कर जाएगी और न्यूज़ीलैंड की टीम दूसरे स्थान पर खिसक जाएगी. वहीं अगर भारत एक मैच जीत लेता है और दूसरा मैच ड्रा खेल जाता है तो भी भारत फाइनल का टिकट पाने में कामयाब हो जाएगा और न्यूज़ीलैंड के बाद दूसरे नंबर के साथ अंकतालिका को खत्म करेगा.

इसके साथ ही अगर भारत और इंग्लैंड के बीच दोनों मैच ड्रा हो जाते हैं तो दोनों ही टीम फाइनल की रेस से बाहर हो जाएंगी और न्यूज़ीलैंड और आस्ट्रेलिया के बीच फाइनल मैच खेला जाएगा. इंग्लैंड को फाइनल मैच में जगह पाने के लिए अपने दोनों मैचों का जीतना ज़रूरी है, दोनों मैचों में ड्रा खेलने पर वह खुद तो डूबेगा ही साथ ही भारत को भी ले डूबेगा. मोटैरा के मैदान पर अगले दोनों मैचों पर भारत, आस्ट्रेलिया, इंग्लैंड और न्यूज़ीलैंड के प्रशंसको की नज़रे बनी रहेंगी.

टेस्ट क्रिकेट का विश्व विजेता कौन होगा अब इसका फैसला कुछ ही समय बाद होने वाला है. फिलहाल भारत पिंक कलर की गेंद की ज़्यादा से ज़्यादा प्रैक्टिस में जुटा हुआ है.

ये भी पढ़ें -

IPL Auction 2021 से जुड़ी 5 रोचक कहानियां! जानिए...

वसीम जाफर और सांप्रदायिकता का आरोप: सबकी अपनी ढपली अपना राग

ब्रिस्बेन में मिली जीत का श्रेय किसे दें, इसकी बहस कहां से कहां पहुंच गई...

लेखक

मशाहिद अब्बास मशाहिद अब्बास @masahid.abbas

लेखक स्वतंत्र पत्रकार हैं और समसामयिक मुद्दों पर लिखते हैं

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय