होम -> स्पोर्ट्स

 |  3-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 29 अगस्त, 2018 10:27 PM
बिजय कुमार
बिजय कुमार
  @bijaykumar80
  • Total Shares

भारत और इंग्लैंड के बीच खेली जा रही 5 टेस्ट मैचों की सीरीज से पहले भारतीय खेमे में जिस इंग्लैंड खिलाड़ी को लेकर ज्यादा चर्चा हो रही थी वो तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन थे. ऐसा माना जा रहा था कि वो विराट कोहली सहित अन्य भारतीय बल्लेबाजों के लिए खासी दिक्कत पेश करेंगे और सीरीज में अबतक का उनका प्रदर्शन इस तरह की संभावनाओं पर मुहर भी लगता है. भारत के खिलाफ गुरुवार (30 अगस्त) से साउथम्टन में शुरू हो रहे चौथे टेस्ट मैच में इस खिलाड़ी की नजर कम से कम 7 विकेट लेने पर होगी क्योंकि ऐसा करते ही वो दुनिया में सबसे ज्यादा टेस्ट विकेट लेने वाले तेज गेंदबाज बन जाएंगे.

james andersonभारतीय खिलाड़ियों के लिए चुनौती साबित होंगे एंडरसन

बता दें कि 36 वर्षीय जेम्स एंडरसन इस समय विकेट लेने के मामले में पांचवे पायदान पर हैं लेकिन तेज गेंदबाजों में केवल ऑस्ट्रेलिया के पूर्व दिग्गज गेंदबाज ग्लेन मैकग्रा ही उनसे आगे हैं. सभी को ये उम्मीद है कि वो भारत के खिलाफ चौथे टेस्ट में इस मुकाम को हासिल कर लेंगे जिसे तोड़ पाना बहुत नामुमकिन है. खुद ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज ने भी यही भविष्यवाणी की है. मैक्ग्रा की मानें तो टेस्ट मैचों की कमी के कारण आने वाले समय में किसी भी गेंदबाज के लिए एंडरसन को पछाड़ना नामुमकिन होगा. मैक्ग्रा ने कहा, "एंडरसन के मुझसे आगे निकलने के बाद यह देखना दिलचस्प होगा कि वह कुल कितने विकेट लेते हैं. आज के समय जितनी टी-20 क्रिकेट हो रही है उससे मुझे यह नहीं लगता कि कोई भी तेज गेंदबाज उन्हें पीछे छोड़ पाएगा."

james andersonजेम्स एंडरसन अब तक 557 विकेट अपने नाम कर चुके हैं

अब बात करें जेम्स एंडरसन के फॉर्म कि तो तेज गेंदबाज के लिहाज से वो उम्र के उस पड़ाव पर हैं जहां से ज्यादा लम्बा खेलना कठिन है लेकिन मौजूदा सीरीज में उनका प्रदर्शन बेहतरीन है. जेम्स एंडरसन ने धार और रफ्तार से भारतीय बल्लेबाज़ों को परेशान करते हुए पहले तीन टेस्ट मैचों में 17 विकेट लिए हैं. वहीं लॉर्ड्स टेस्ट में तो एंडरसन ने नौ विकेट लेकर भारतीय टीम की कमर ही तोड़ दी और अपनी टीम को जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई थी. फिलहाल एंडरसन 557 विकेट अपने नाम कर चुके हैं. साल 2007 में क्रिकेट से संन्यास ले चुके मैकग्रा फिलहाल टेस्ट क्रिकेट में दुनिया के सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले तेज गेंदबाज हैं. उन्होंने 563 विकेट चटकाए थे. टेस्ट क्रिकेट में विकेट लेने के मामले में तेज गेंदबाजी में अगर एंडरसन मैकग्रा को पीछे छोड़ते हैं तो वाकई उनको लम्बे समय तक पीछे करना मुमकिन नहीं दिख रहा है क्योंकि उनके आसपास भी फिलहाल कोई नहीं दिख रहा है.

वैसे टेस्ट क्रिकेट में गेंदबाजों के मामले में श्रीलंका के स्पिनर मुथैया मुरलीधरन (800) सबसे ऊपर हैं जिनके बाद ऑस्ट्रेलिया के शेन वार्ने (708) का नाम आता है. तीसरे पायदान पर भारत के अनिल कुंबले (619) हैं. जिस तरह से इन तीनों ही स्पिनरों की तूती टेस्ट क्रिकेट में बोलती थी ठीक उसी तरह से तेज गेंदबाजी के मामले में मैक्ग्रा भी थे जिन्हें पछाड़कर एंडरसन चौथे नंबर पर जा सकते हैं और जिस तरह से टेस्ट क्रिकेट में स्पिन गेंदबाजी के मामले में मुथैया का रिकार्ड अभेद है उस लिहाज से कहा जा सकता है कि एंडरसन भी तेज गेंदबाजी में वो मुकाम हासिल कर लेंगे.     

ये भी पढ़ें-

भारत के लिए क्यों अहम है Asian Games के तीन स्वर्ण पदक

क्या भारतीय टीम के लिए फिर लकी साबित होगा लॉर्ड्स का मैदान ?

खली नहीं, असल हीरो तो दलीप सिंह राणा हैं

 

लेखक

बिजय कुमार बिजय कुमार @bijaykumar80

लेखक आजतक में एसोसिएट प्रोड्यूसर हैं

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय