होम -> स्पोर्ट्स

 |  4-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 21 अगस्त, 2018 05:32 PM
आईचौक
आईचौक
  @iChowk
  • Total Shares

एशियाई खेल या यूं कहें कि एशियाड हमेशा से ही भारतीय खिलाड़ियों के लिए कुछ खास होते हैं. अभी तक इसके पहले 17 एशियाई खेल हो चुके हैं और इन खेलों में अभी तक भारतीय खिलाड़ियों ने 139 स्वर्ण पदक, 178 रजत पदक और 299 कांस्य पदक जीते हैं. और इस साल तो तीसरे दिन तक ही भारतीय खिलाड़ियों ने मेडल की झड़ी लगा दी है. अभी तक तीन दिन के खेलों में 8 पदक मिले हैं जिनमें से 6 शूटिंग के अलग-अलग खेलों में मिले हैं.

18वें एशियन गेम्स में अभी तक तीन स्वर्ण पदक आ चुके हैं. इंडोनेशिया में हो रहे इन खेलों में मिले ये दोनों ही पदक अपने आप में कीर्तिमान हैं. ये तीनों पदक जिस तरह से खिलाड़ियों ने लिए हैं और जो कीर्तिमान इन खिलाड़ियों ने बनाया है वो खास है.

16 साल के खिलाड़ी ने पहले ही इंटरनेशन खेलों में जीता स्वर्ण पदक..

यहां उस खिलाड़ी की बात हो रही है जिसने तीन साल पहले ही अपना करियर शुरू किया है और ये मेरठ के एक किसान के बेटे हैं. सौरभ चौधरी ने अपनी जिंदगी का पहला गोल्ड जीता है. 16 साल के निशानेबाज सौरभ चौधरी ने 10 मीटर एयर पिस्टल के मेन्स इवेंट में गोल्ड मेडल जीता है. एशियन गेम्स में छोटी उम्र में ऐसा कारनामा करने वाले वो पहले भारतीय निशानेबाज हैं.

एशियाई खेल, एशियाड, गोल्ड मेडलदाएं सौरभ चौधरी और बाएं अभिषेक वर्मा

ये जीत खास इसलिए भी है क्योंकि सौरभ चौधरी ने गोल्ड मैडिल चार बार ओलिंपिक जीतने वाले गोल्ड मैडलिस्ट जिन जॉन्ग ओह को पीछे छोड़कर जीता है. जूनियर वर्ल्ड शूटिंग चैंपियनशिप में सौरभ पहले ही गोल्ड जीत चुके हैं. दूसरे स्थान पर रहे तोमोयुकी मात्सयुदा दोनों स्टेज में कुल 239.7 और अभिषेक वर्मा ने 219.3 अंक का स्कोर किया. सौरभ स्टेज वन खत्म होने पर तोमोयुकी से पीछे थे. स्टेज 2 में भी वे तीसरे से 8वें राउंड तक नंबर वन पर ही चल रहे थे. नौवें राउंड में तोमोयुकी ने गलत शॉट लगाया और वो पीछे हो गए. उन्होंने इस राउंड के पहले प्रयास में 8.9 और दूसरे प्रयास में 10.3 का स्कोर किया, वहीं सौरभ ने अपना प्रदर्शन सुधारते हुए 10.2 और 10.4 का स्कोर किया, सौरभ के इस स्कोर ने उन्हें चैम्पियन बना दिया.

एशियाई खेलों में पहली भारतीय महिला खिलाड़ी जिसने गोल्ड जीता..

पिछले 17 बार से एशियाई खेलों में भारत महिला कुश्ती के लिए स्वर्ण जीतने के लिए इंतज़ार कर रहा था और विनेश फोगट ने स्वर्ण पदक जीतकर नया कीर्तिमान गढ़ दिया. 20 अगस्त को विनेश फोगट पहली महिला खिलाड़ी बनी जिन्होंने रेस्लिंग में एशियन गेम्स में गोल्ड जीता.

एशियाई खेल, एशियाड, गोल्ड मेडलगोल्ड जीतने के बाद विनेश फोगट

विनेश ने जापान की यूकी ईरी को हराकर ये पदक जीता. दोनों खिलाड़ियों के बीच फासला भी बहुत था. 6-2 के फासले के साथ खेल खत्म होने के पहले ही लगभग तय सा लग रहा था कि विनेश ही कुश्ती में जीतेंगी. 50किलो फ्रीस्टाइल रेस्लिंग में स्वर्ण पदक जीतने वाली विनेश ने आखिर देश का नाम रौशन कर ही दिया.

कुश्ती में एक और गोल्ड जिसने भारत की चमक और बढ़ाई..

24 साल के बजरंग पुनिया ने इस एशियाई खेलों में पहला गोल्ड दिलाकर भारत को खेल शुरू होने के पहले ही दिन खुश कर दिया था. 65 किलो फ्रीस्टाइल रेस्लिंग में ये गोल्ड जीतकर बेहतरीन खेल का प्रदर्शन किया. पुनिया ने उज़बेकिस्तान के सिरोजिद्दिन, तजीकिस्तान के फैज़िव अब्दुलकोसिम और मंगोलिया के एन बातमग्नाई बातचुलू को हराकर फाइनल में अपनी जगह बनाई थी.

एशियाई खेल, एशियाड, गोल्ड मेडलबजरंग पुनिया ने गोल्ड जीतकर बड़े-बड़े धुरंधरों को पीछे छोड़ दिया

आखिरी खेल में दाईची ताखतानी से खेल के दौरान बजरंग ने एक बार भी अपनी एकाग्रता नहीं खोई.

ये तीनों ही पदक अपनी-अपनी जगह पर खास हैं और भारत की शान हैं.

एशियाई खेलों में मिले अन्य मेडल-

भारत को एशियन गेम्स 2018 में अभी तक कुल 8 मेडल मिल चुके हैं जिनमें से दो कुश्ती में हैं और बाकी 6 शूटिंग में.

  1. 19 साल के लक्ष्य ने पुरुष ट्रैप शूटिंग में रजत पदक जीता.
  2. दीपक कुमार ने पुरुष 10 मीटर राइफल में रजत पदक जीता.
  3. रवि कुमार और अपूर्वी चंदेला ने 18वें एशियन खेलों में मेडल लाने की शुरुआत की थी. 10 मीटर एयर राइफल मिक्स्ड टीम में इस जोड़ी ने कांस्य पदक जीता.
  4. 10 मीटर एयर पिस्टल इवेंट में अभिषेक वर्मा ने कांस्य पदक जीता.
  5. 50 मीटर राइफल खेल में संजीव राजपूत ने रजत पदक जीता.

ये भी पढ़ें-

अब कप्तान के रूप में कोहली का भी टेस्ट है

क्या भारतीय टीम के लिए फिर लकी साबित होगा लॉर्ड्स का मैदान ?

Saurabh Chaudhary, Saurabh Chaudhary Gold Medal, Saurabh Chaudhary Shooter

लेखक

आईचौक आईचौक @ichowk

इंडिया टुडे ग्रुप का ऑनलाइन ओपिनियन प्लेटफॉर्म.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय