होम -> स्पोर्ट्स

 |  7-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 13 जून, 2019 12:33 PM
अनुज मौर्या
अनुज मौर्या
  @anujmaurya87
  • Total Shares

India vs New Zealand क्रिकेट मैच 13 जून गुरुवार को होने वाला है. World Cup 2019 में भारत का ये मैच बेहद अहम है, क्योंकि प्रैक्टिस मैच (IND vs NZ) के दौरान न्यूजीलैंड ने भारत को बुरी तरह हराया था. ऐसे में ये मुकाबला बेहद दिलचस्प रहेगा, क्योंकि न्यूजीलैंड पहले ही भारत को हराने की वजह से आत्मविश्वास से लबरेज है, जबकि भारत को अपनी उस हार का बदला लेना है. अब भारत इस मैच में न्यूजीलैंड से अपना हिसाब बराबर कर पाता है या नहीं, ये देखने वाली बात होगी. हालांकि, दोनों ही टीमें टक्कर की हैं, तो अभी से इस बात का अनुमान लगाना थोड़ा मुश्किल है कि कौन जीत सकता है.

इस मैच में एक और चीज है, जो लोगों का ध्यान खींच रही है. ये है बारिश. पहले ही इस वर्ल्ड कप के 3 मैच बारिश में धुल चुके हैं. सबसे पहले 7 जून को पाकिस्तान और श्रीलंका का मुकाबला बारिश में धुला, फिर 10 जून को दक्षिण अफ्रीका और वेस्टइंडीज का मुकाबला बारिश की भेंट चढ़ा और फिर 11 जून को श्रीलंका-बांग्लादेश के मुकाबले पर भी बारिश ने पानी फेर दिया. 13 जून को भारत और न्यूजीलैंड के बीच मैच होना है, जिसमें भी मौसम विभाग की ओर से बारिश की आशंका जताई गई है. इस मैच को लेकर लोग काफी उत्साहित हैं. आइए जानते हैं कि ये मैच कब और कहां होगा. साथ ही ये भी जानते हैं कि इसकी लाइव स्ट्रीमिंग कैसे देखी जाए.

भारत vs न्यूजीलैंड, वर्ल्ड कप 2019, भारत, न्यूजीलैंडभारत इस मैच में न्यूजीलैंड से अपना हिसाब बराबर करने के लिए एड़ी-चोटी का जोर लगा देगा.

Hot star के अलावा Live streaming कहां?

वैसे तो आप ये मैच स्टार स्पोर्ट्स टीवी चैनल पर देख सकते हैं, लेकिन अगर आप मैच की ऑनलाइन लाइव स्ट्रीमिंग देखना चाहते हैं तो आपको Hot Star पर जाना होगा. इसके अलावा aajtak.intoday.in और indiatoday.in पर आप इस मैच का हर अपडेट पा सकते हैं.

भारत-न्यूजीलैंड मैच टाइमिंग और मैदान की विशेषता

भारत और न्यूजीलैंड के बीच खेला जाने वाला ये मैच नॉटिंघम के ट्रेंड ब्रिज स्टेडियम में होगा. शाम को करीब 2.30 बजे टॉस होगा, जिसके बाद भारत और न्यूजीलैंड के बीच मुकाबला शुरू हो जाएगा. इस मैच को लेकर पहला कयास तो यही है कि ये हो नहीं सकेगा. 12 जून को 2 बजे से दोनों देशों के बीच प्रैक्टिस मैच होना था, लेकिन बारिश की वजह से रद्द करना पड़ा. अगर कल तक बारिश रुक गई और मैच हुआ, तो मैदान की एक खास बात हो जाएगी, जिसका फायदा गेंदबाजों को मिलेगा, खासकर स्पिनर्स को. दरअसल, काफी बारिश हो जाने की वजह से मैदान पर नमी आ गई है, जिसका फायदा स्पिनर्स को मिलेगा. आपको बता दें कि ऐसे में बॉल स्विंग करना आसान हो जाता है. यानी गेंदबाजी के लिए तो ये मैदान परफेक्ट साबित होगा, लेकिन बल्लेबाजी थोड़ी मुश्किल हो जाएगी. ऐसे में मैच जिताने का दारोमदार गेंदबाजों पर होगा.

India-New Zealand preview: विश्व कप में किसका दबदबा?

अब तक भारत और न्यूजीलैंड के बीच कुल 7 वर्ल्डकप मैच हुए हैं, जिनमें से 3 मैच भारत जीता है और 4 न्यूजीलैंड जीता है. यानी भारत का स्ट्राइक रेट 43 फीसदी है. भले ही पहले भारत दबाव में खेलता रहा हो, लेकिन अब न्यूजीलैंड के मुकाबले भारत काफी मजबूत टीम बन चुकी है. 2015 वर्ल्ड कप के बाद से अब तक दोनों देशों के बीच कुल 13 मैच हुए हैं, जिनमें से 9 मैच भारत जीता है. यानी यहां भारत का स्ट्राइक रेट 69 फीसदी है. जनवरी में ही हुई वन डे सीरीज में भारत ने न्यूजीलैंड को उसी की जमीन पर 4-1 से हराया था. उसके बाद तो भारत का आत्मविश्वास काफी अधिक बढ़ा हुआ है. हालांकि, मौजूदा समय में वर्ल्ड कप से पहले हो रहे वार्म अप मैच में न्यूजीलैंड ने भारत को बुरी तरह से हराया है, जो खिलाड़ियों का मनोबल कमजोर भी कर सकता है. बावजूद इसके माना जा रहा है कि भारत इस मैच में अच्छा प्रदर्शन करेगा.

India-New Zealand टीमों की ताकत

पहले बात भारत की. हमारी टीम में रोहित शर्मा और विराट कोहली जैसे टॉप खिलाड़ी हैं. पिछले मैच तक तो शिखर धवन भी थे, लेकिन चोटिल होने के बाद उन्हें आराम दिया गया है. इनके अलावा हमारे पास दो स्पिनर (कुलदीप यादव और यजुवेंद्र चहल) हैं, जबकि बाकी टीमों के पास सिर्फ एक स्पिनर है. कम ओवर वाले मैच में स्पिनर बेहद खतरनाक साबित होते हैं. वैसे भी, मैदान की नमी इन स्पिनर को और घातक बनाने का काम करेगी. गेंदबाजी में हमारे पास बुमराह भी हैं, जिनका बॉलिंग स्टाइल सबसे अलग है. वो ऐसे हाथ घुमाते हैं कि सामने वाले खिलाड़ी को समझ नहीं आता कि बॉल कहां गिरेगी. भारत को इसका भी फायदा मिल सकता है.

यूं तो न्यूजीलैंड हमेशा से ही दावेदारों में गिनी जाती रही है, लेकिन अब तक एक बार भी वर्ल्ड कप नहीं जीत पाई है. पिछली बार भी ऑस्ट्रेलिया ने उसे हराकर चैंपियन्स ट्रॉफी अपने नाम कर ली थी. अब तक 6 बार (1975, 1979, 1992, 1999, 2007 और 2011) न्यूजीलैंड सेमीफाइनल में पहुंच चुका है, जो ये बताने के लिए काफी है कि वह एक ताकतवर टीम है. टीम की गेंदबाजी अच्छी है, खासकर तेज गेंदबाज ट्रेंट बोल्ट बेहद घातक हैं, जिनके सामने हमारी बल्लेबाजी लड़खड़ा जाती है. प्रैक्टिस मैच में हम इसका नमूना देख ही चुके हैं. इसके अलावा न्यूजीलैंड के बाद बल्लेबाजों की भी तगड़ी फौज है.

India-New Zealand team squads

भारत की ओर से बल्लेबाजी संभालने के लिए रोहित शर्मा और विराट कोहली हैं. विजय शंकर, केदार जाधव, हार्दिक पांड्या और रविंद्र जडेजा जैसे ऑलराउंडर भी भारतीय टीम में हैं. वहीं दूसरी ओर लोकेश राहुल, दिनेश कार्तिक और महेंद्र सिंह धोनी जैसे विकेट कीपर और बैट्समैन भी भारत की टीम को और मजबूत बना रहे हैं. शिखर धवन के चोटिल होने के बाद ऋषभ पंत भी इस टीम का हिस्सा बन सकते हैं, जो विकेटकीपर और बैट्समैन हैं. इनके अलावा कुलदीप यादव, जसप्रीत बुमराह, यजुवेंद्र चहल, मोहम्मद शामी और भुवनेश्वर कुमार जैसे बॉलर भी भारतीय टीम का अहम हिस्सा हैं.

न्यूजीलैंड की टीम में कप्तान केन विलिमसन, मार्टिन गप्टिल, हेनरी निकोलस और रॉस टेलर जैसे बैट्समैन हैं. इस टीम में 5 गेंदबाज हैं, जिनमें ट्रेंट बोल्ट, लोकी फर्गुसन, मैट हेनरी, टिम सौथी और इश सोधी हैं. इतना ही नहीं, कोलिन डी ग्रैंडहोम, कोलिन मुनरो, जेम्स नीशम और मिशेल सैंटनर जैसे ऑलराउंडर भी टीम को मजबूत बनाते हैं. इनके अलावा टीम में टॉम ब्लंडेल और टॉल लेथम जैसे विकेट कीपर और बैट्समैन हैं.

क्या हैं संभावनाएं?

यूं तो दोनों ही टीमें टक्कर की हैं, लेकिन उम्मीद जताई जा रही है कि इसमें भारत ही जीतेगा. एक बेटिंग वेबसाइट के अनुसार भारत के जीतने की संभावनाना 65.5 फीसदी है, जबकि न्यूजीलैंड के जीतने की संभावना सिर्फ 34.5 फीसदी है. दोनों ही टीमों की बैटिंग बेहद मजबूत है. दोनों ही टीमें अब तक इस वर्ल्ड कप में कोई मैच नहीं हारी हैं. यानी जो भी हारेगी, उसका 100% ट्रैक रिकॉर्ड टूट जाएगा. भारत के जीतने की अधिक संभावना के पीछे भारत की बॉलिंग है. इस बेटिंग वेबसाइट के अनुसार भारत का बॉलिंग अटैक न्यूजीलैंड से काफी बेहतर है, जो जीत दिलाने में मददगार होगा.

इस बार वर्ल्ड कप के टॉप-5 दावेदारों में न्यूजीलैंड का भी नाम है. वैसे तो हमेशा ही ये टीम दावेदारों में गिनी जाती है, लेकिन कभी वर्ल्ड कप अपने घर नहीं ले जा सकी. इस बार टीम पूरे फॉर्म में है और वर्ल्ड कप जीतने की पूरी कोशिश कर रही है. वहीं दूसरी ओर भारत है. पिछली बार का वर्ल्ड कप ऑस्ट्रेलिया की वजह से भारत के हाथों से निकल गया. अब इस बार भारत को अपनी ताकत दिखाना बहुत जरूरी हो गया है. वैसे भी, इस बार टीम में विराट कोहली के साथ-साथ एक बार भारत को वर्ल्ड कप जिताने वाले पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी भी हैं. प्रैक्टिस मैच में हारने के बाद भारत थोड़े दबाव में तो होगी, लेकिन अगर ये मैच भी हार गए तो दबाव बहुत अधिक बढ़ जाएगा. ऐसे में भारत को ये मैच जीता ही होगा. वैसे भी, शिखर धवन के चोटिल होने से भी टीम पर दबाव बढ़ गया है.

ये भी पढ़ें-

India vs Pakistan मैच सोशल मीडिया पर शुरू हो गया!

Yuvraj Singh: दुश्मनों के छक्के छुड़ा देने वाला योद्धा

India-Pakistan वर्ल्डकप मैच से पहले विज्ञापन की जंग

लेखक

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय