होम -> समाज

 |  6-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 11 जनवरी, 2019 01:54 PM
श्रुति दीक्षित
श्रुति दीक्षित
  @shruti.dixit.31
  • Total Shares

दुनिया भी बेमिसाल है. कई तरह के लोग, कई तरह के समुदाय, कई तरह के शहर और कई संस्कृतियां. हर बार किसी नए शहर के बारे में सोचकर ऐसा लगता है कि काश हम यहां जा पाते, लेकिन दुनिया के कई शहर ऐसे भी हैं जहां जा पाना आसान नहीं है.

iChowk.in अपनी ट्रैवल सीरीज 'अजीब शहर: अनोखा जीवन' में ऐसे ही शहरों के बारे में बताएगा जहां लोग एकदम चरम परिस्थितियों में रहते हैं. ऐसे शहर जहां आम लोग बसने तो छोड़िए कुछ दिन बिताने के लिए भी कई बार सोचेंगे. इसी कड़ी में हम आज बता रहे हैं दुनिया के सबसे सुदूर शहर के बारे में.

ट्रैवल, पेरू, अजीब शहर अनोखा जीवन, सोशल मीडिया, इक्विटोसइक्विटोस पेरू का एक शहर है. पेरू ब्राजील का पड़ोसी देश है जो साउथ अमेरिका में है.

ट्रैवल, पेरू, अजीब शहर अनोखा जीवन, सोशल मीडिया, इक्विटोसइक्विटोस का सिटी हॉल जो यहां के प्रमुख आकर्षणों में से एक है

गूगल पर 'Most remotely located city' सर्च करेंगे तो सामने आएगा Iquitos शहर का नाम. ये एक ऐसा शहर है जहां अभी तक सड़क नहीं बनाई जा सकी है. हालांकि, ये शहर असल में एक राजधानी है और यहां की आबादी भी कम नहीं है, लेकिन इसकी लोकेशन कुछ ऐसी है कि यहां सड़क बना पाना लगभग नामुमकिन है. ये शहर है पेरू में. पेरू के मायनास (Maynas) प्रांत की राजधानी इक्विटोस असल में पेरू की छंठवा सबसे बड़ा शहर है और यहां की आबादी साढ़े चार लाख के आस-पास है.

ट्रैवल, पेरू, अजीब शहर अनोखा जीवन, सोशल मीडिया, इक्विटोसइक्विटोस वैसे तो कमतर शहर समझने की जरूरत नहीं, यहां सभी तरह की सुविधाओं के साथ-साथ 5 स्टार होटल तक सब मौजूद है

पेरू में भी रेन फॉरेस्ट हैं यानी वर्षावन. और इक्वीटोस को पेरूवियन वर्षावनों की राजधानी भी कहा जाता है. दुनिया में सबसे ज्यादा बायोडाइवर्सिटी वाला इलाका यही है. पेरू के अमेजन वर्षावनों से ही इस देश का 60% हिस्सा बना है और इसे ज्यादा छेड़ा भी नहीं जाता है.

सड़क नहीं बल्कि हवा या पानी के रास्ते ही पहुंचा जा सकता है इस शहर में-

इक्विटोस दुनिया का ऐसा सबसे बड़ा शहर है जहां सड़कों द्वारा पहुंचा ही नहीं जा सकता है. क्योंकि ये इलाका जंगलों के इतने पास है इसलिए यहां से व्यापार भी बहुत ज्यादा होता है और ये शहर जंगल और नदियों के बीच एक मैदानी इलाके में बसा है.

ट्रैवल, पेरू, अजीब शहर अनोखा जीवन, सोशल मीडिया, इक्विटोसइस शहर में बहुत ज्यादा भीड़ भाड़ नहीं मिलेगी

19वीं सदी में ये इलाका रबर एक्पोर्ट का अहम साधन बन गया और Peruvian Amazon Company (PAC) की शुरुआत हुई. इसी कंपनी के साथ आए हज़ारों यूरोपियन जो यहां बिजनेस करना चाहते थे और शहर की अर्थव्यवस्था बनती चली गई.

नदियों पर बने घर-

इस शहर का एक अनोखा आकर्षण नदियों पर बने घर भी हैं. ये नदियों पर तैरते रहते हैं और जब यहां नदियों का पानी बढ़ता है तो ये घर भी उसके साथ ऊपर आ जाते हैं. इक्विटोस में कई समुद्री और वन्य जीवन की प्रजातियां मिलेंगी जिन्हें देखना अपने आप में किसी अजूबे से कम नहीं होगा.

नदी के किनारे बने फ्लोटिंग हाउस. ये यहां के मछुआरों के घर हैं.नदी के किनारे बने फ्लोटिंग हाउस. ये यहां के मछुआरों के घर हैं.

कैसे जाएं इक्विटोस?

इक्विटोस जाने का सबसे अच्छा तरीका है फ्लाइट्स, लेकिन फ्लाइट्स महंगी होंगी. ये इस बात पर निर्भर करता है कि आप कब इक्विटोस जाना चाहते हैं और किस जगह से. अगर आप नाव से ट्रैवल करने के बारे में सोच रहे हैं तो भूल ही जाएं कि आप जल्दी पहुंच सकते हैं. इस शहर में जाने के लिए पहले पेरू के एक और शहर Pucallpa तक बस से पहुंचना होगा. यहां लिमा (पेरू की राजधानी) से लगातार बस मिलती हैं. इसके बाद Pucallpa से इक्विटोस के लिए नाव ली जा सकती है. अगर दूसरे रास्ते से नाव लेनी है तो Leticia शहर से भी लिया जा सकता है. किस शहर से आप जा रहे हैं और कैसी नाव ले रहे हैं इसपर निर्भर करेगा कि कितने दिनों में आप पहुंचेंगे. जी हां, दिनों में. यहां पहुंचने के लिए कम से कम तीन दिन लगेंगे नाव से. साथ ही जरूरी नहीं कि आपको हर दिन वहां जाने वाली नाव मिल जाए. तो ये पहले से तय करके जाइएगा कि वहां पहुंचने के लिए नाव कब मिलेगी.

ट्रैवल, पेरू, अजीब शहर अनोखा जीवन, सोशल मीडिया, इक्विटोसइक्विटोस में पहुंचने के बाद कई दिनों तक इस शहर के साधारण जीवन का लुत्फ उठाया जा सकता है.

अब तो आप समझ ही गए होंगे कि ये शहर हमारी लिस्ट में क्यों है. इक्विटोस में अगर फ्लाइट से जा रहे हैं तो काफी सुविधा होगी. पर ये ट्रिप महंगा भी होगा. जैसे ही इक्विटोस में पहुंचेंगे वहां आपको मोटोकारो (motocarro- केबिन वाली मोटरसाइकल) चलाते हुए कई लोग दिखेंगे और यही तरीका है पेरू के इस दूर दराज शहर में घूमने का.

ट्रैवल, पेरू, अजीब शहर अनोखा जीवन, सोशल मीडिया, इक्विटोसयहां सामान भी कारगो जहाजों की मदद से पहुंचाया जाता है

किसी भी आम शहर की तरह यहां भी एयरपोर्ट के पास कई मोटोकारो ड्रायवर मिल जाएंगे बार्गेनिंग करने के लिए और वहां से पूरा शहर इन्हीं मोटोकारो से घूमा जा सकता है.

इतनी सुदूर होने के बाद भी इस शहर में लगभग सभी सुविधाएं हैं और कार्गो जहाज की मदद से यहां सामान पहुंचाया जाता है.

इस शहर में भले ही पहुंचना मुश्किल लग रहा हो, लेकिन एड्वेंचर के शौकीनों को ये शहर आकर्षित कर सकता है और साथ ही इस शहर में टूरिज्म इंडस्ट्री यहां की अर्थव्यवस्था का एक बड़ा हिस्सा है. यहां 1 स्टार से लेकर 5 स्टार तक सभी होटल मिल जाएंगे. 2012 में इस शहर की एक बड़ी खासियत अमेजन नदी को 7 प्राकृतिक अजूबा (natural wonder) में शामिल किया गया था. उसी साल यहां 2.5 लाख से ज्यादा टूरिस्ट आए थे और 2013 में यहां इंटरनेशनल फ्लाइट्स शुरू कर दी गईं.

अमेजन जंगल और अमेजन नदी इस शहर को चारों तरफ से घेरती है. इक्विटोस काफी शांत है और यहां आने वाले लोगों को ये माहौल अच्छा लगता है. इसी लिए लोग इतनी दूर जाते हैं.

ये भी पढ़ें-

अनोखा शहर जहां दो महीने का दिन होता है और 1.5 महीने की रात

50 हज़ार में विदेश यात्रा के बारे में सोचने वाले लोगों को पहले ये जान लेना चाहिए

लेखक

श्रुति दीक्षित श्रुति दीक्षित @shruti.dixit.31

लेखक इंडिया टुडे डिजिटल में पत्रकार हैं.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय