charcha me| 

समाज

 |  7-मिनट में पढ़ें  |   07-12-2018
पारुल चंद्रा
पारुल चंद्रा
  @parulchandraa
  • Total Shares

आपने वो कहावत जरूर सुनी होगी कि - घर में बर्तन होंगे तो टकराएंगे ही. ये टकराना असल में पारिवारिक खटपट को बयां करता है, और ये बर्तन सिर्फ आम लोगों के घरों में टकराते हों ऐसा भी नहीं है. ब्रिटेन के शाही परिवार में आजकल जो कुछ भी चल रहा है उसे देखकर कहा जा सकता है कि परिवार चाहे आम लोगों का हो या फिर ब्रिटिश घराने का, खटपट तो होगी ही.

जैसा आम घरों में होता है न, कि नई बहू आई तो उसकी कभी सास से नहीं बनती तो कभी ननद या जेठानी से, वैसा ही आजकल शाही परिवार की बहुओं में हो रहा है. पिछले कई दिनों से बड़ी बहू केट और छोटी बहू मेघन के बीच खटपट की खबरें आ रही हैं. और जिस तरह आम घरों के झगड़ों की कहानी पूरे मोहल्ले में फैलाने का काम घर की कामवाली बाइयों का होता है, ठीक उसी तरह ब्रिटिश शाही परिवार में दोनों बहुओं की खटपट की खबर महल में ही काम करने वाले स्टाफ द्वारा ही बाहर लाई गई है.

royal familyदोनों भाई अब साथ नहीं रहेंगे- कारण है बीवियों के बीच झगड़ाएक ही छत के नीचे रहना गंवारा नहीं

खैर ये मामला कितना गंभीर है वो इस खबर से समझा जा सकता है कि घर की छोटी बहू मेघन मार्कल और छोटे बेटे हैरी जल्दी ही केंसिंगटन पैलेस छोड़ने वाले हैं, यानी वो अब बड़े बेटे विलियम और बड़ी बहू केट के साथ एक छत के नीचे नहीं रहेंगें. उनका नया घर राजमहल से 20 मील दूर विंडसर में ही होगा. उसे वो अपने हिसाब से तैयार करवा रहे हैं.

गौरतलब है कि मेघन और हैरी की इसी साल मई में शादी हुई थी, और मेघन इस वक्त प्रेगनेंट हैं. मेघन राज परिवार की पहली अश्वेत बहू भी हैं. और पहली ऐसी बहू भी जो तलाकशुदा थी. महल में काम करने वाले एक व्यक्ति की मानें तो घर का माहौल मेघन के प्रति उसी दिन से बदल गया था जब हैरी और मेघन पहली बार महल में आए थे. तब मेघन को बेवकूफ और अशिष्ट के रूप में आंका गया था.

ये बेहद आम घर की कहानी है, एक लड़की जो लव मैरिज की वजह से घर की बहू बनी हो, जो सशक्त हो और विचारों से स्वतंत्र हो, उतने रसूखदार घराने की भी न हो, और जिसकी पहले भी शादी हो चुकी हो, उसे भले ही परिवार की बहू बना लिया जाता है, लेकिन दिलों में जगह शायद ही मिल पाती है. लेकिन मेघन के मामले में बात कुछ और है. मेघन एक सेलिब्रिटी थी, जिसकी शादी शाही परिवार में हुई थी. शाही परिवार के तौर तरीके, रहन सहन, और नियम आम घरों से बिलकुल अलग होते हैं. उन्हें मानना जरूरी होता है. मेघन के लिए पूरे परिवार ने अपना मन बदला. हैरी और मेघन अब ससेक्स के ड्यूक और डचेस बन चुके थे, लिहाजा मेघन से वही उम्मीद की जा रही थी जो शाही परिवार की बहू से की जाती है. लेकिन दोनों बहुओं के बीच खटपट की अहम वजह यही है कि मेघन अपने हिसाब से चलती हैं.

meghan kateमेघन और केट दोनों एक दूसरे से बिलकुल अलग हैं

हैरी शादी के बाद बदल गए ?

यहां एक बात और गौर करने वाली है कि हैरी और विलियम शुरू से ही काफी करीब रहे हैं. अपनी मां डायना की मौत के बाद विलियम ने हैरी का बहुत अच्छी तरह से ख्याल रखा है. शादी के वक्त भी विलियम इस बात को लेकर काफी चिंतित रहे थे कि मेघन उनके भाई के लिए सही पसंद हैं भी कि नहीं. लेकिन भाई की पसंद के आगे सभी की हां थी. शादी तो हो गई. लेकिन आज दोनों भाई अपनी-अपनी पत्नियों की वजह से एक दूसरे के आमने सामने खड़े हैं.

कहते हैं न जेठानी भी छोटी सास की तरह ही होती है. केट भी अपनी देवरानी को राजसी परिवार के नियम कायदे, पहनने ओढ़ने का ढंग सिखाने लगीं कि राजसी लोग कैसे रहते हैं. केट घर की सुशील बहू रही हैं और समझाना उनकी जिम्मेदारी भी थी, क्योंकि मेघन परिवार में नई आई थीं. केट ने चाय पर कई बार मेघन के साथ मीटिंग की जिसमें उन्होंने मेघन को नियम समझाने की कोशिशें कीं लेकिन शायद मेघन ने उन्हें कभी गंभीरता से नहीं लिया. कहा जाता है कि केट ने अपने दोस्तों से कहा था कि जो कुछ हो रहा है उससे वो बहुत दुखी हैं और उन्हें महसूस हो रहा है कि हैरी 'बदल' रहे हैं.

नई बहू के आने के बाद जब लड़का अपनी पत्नी का पक्ष लेने लगता है, तो अक्सर परिवारवालों को वो बदला हुआ नजर आने लगता है. हमारे यहां ऐसे ज्यादातर पतियों को 'जोरू का गुलाम' कहा जाता है.

new homeअब इस घर में रहने वाले हैं हैरी और मेघन

महल में काम करने वाले सदस्यों की मानें तो....

एक बार केट और मेघन के बीच कुछ बात हो गई. मेघन ने हैरी से शिकायत कर दी. हैरी ने अपनी पत्नी मेघन का साथ दिया और विलियम ने केट की तरफदारी की. उस वक्त केट 5 महीने की गर्भवती थीं और वो उस वक्त किसी भी तरह का टकराव नहीं चाहते थे. कुछ भी हो लेकिन माहौल थोड़ी देर के लिए 'जहरीला' जरूर हो गया था. जो पिता चार्ल्स के आने पर ही शांत हुआ था. पिता को इस बारे में विलियम ने बताया था, जिन्होंने सभी का मूड ठीक करने की पूरी कोशिश भी की थी.

रॉयल कमेंटेटर रॉबर्ट जॉबसन की एक नई किताब ने यह भी दावा किया कि हैरी ने एक कर्मचारी सदस्य को बताया था कि 'जो मेघन चाहती है, वो उन्हें मिलना चाहिए' (‘What Meghan wants, Meghan gets’).

स्रोत बताते हैं कि "मेघन बहुत मजबूत इच्छाशक्ति वाली महिला है, उन्हें चीजों को नियंत्रित करना पसंद है. महल के शाही कर्मचारी लंबे समय से चीजों को रानी की पसंद के मताबिक ही करते आ रहे हैं लेकिन एक विदेशी के आने और सबकुछ बदलने में बहुत मुश्किल हो रही है. तो स्वाभाविक है कि तनाव तो होगा ही.'

एक ने ये भी कहा- 'वह नियमों को तोड़ रही हैं और अपनी भूमिका फिर से लिख रही हैं जैसे उनका रुतबा किसी हॉलीवुड फिल्म स्टार का हो.'

जब चारों ने खुद कबूल की रिश्तों में खटास

खैर एक इंटरव्यू में ये चारों जिन्हें Fab four भी कहा जाता है, इनसे पूछा गया कि- परिवार के रूप में एकसाथ होने पर, क्या आप लोगों के बीच भी मतभेद होते हैं? तब मेघन तो नीचे देखने लगीं और केट अपने पति की ओर. और विलियम ने कहा- O yes !

तब इसे मजाक समझा जा रहा था, लेकिन इस बात ने इस तरफ इशारा तो कर ही दिया था कि दोनों परिवारों में मतभेद तो हैं ही. हालांकि हैरी ने तुरंत जवाब दिया कि- 'वो स्वस्थ मतभेद हैं. एक परिवार में चैलेंज तो होते ही हैं, लेकिन हम जिंदगी भर के लिए एकसाथ अटक गए हैं.'

तो अंदरखाने से लीक हुई खबरों और मीडिया में छपी बातों से पता चलता है कि शाही परिवार भी अब आम परिवारों की तरह ग्रहकलेश का शिकार हो चुका है और रानी भी इस विवाद में सुलाह कराने में नाकाम हैं. जाहिर है एक परिवार में अलग-अलग विचारों के लोग रहते हैं, मतभेद तो होते ही हैं. लेकिन हैप्पी फैमिली वही है जो सबके बीच सामंजस्य बिठा लेती है. हमारे यहां भी जॉइंट फैमिली हुआ करती थीं, लेकिन समय के साथ बदलाव हुए, विचार बदले, और ज्वाइंट फैमिली न्यूक्लियर फैमिली में बदलती गईं. लेकिन इस परिवार का बिखरना लोगों में अच्छा संदेश नहीं देता क्योंकि ये शाही परिवार है. अफसोस ये है कि इस मामले में मेघन विलेन के रूप में सामने आई हैं. जिसका अंदेशा परिवार वालों को पहले से था, वो उसे सच साबित कर रही हैं.

बहरहाल शाही परिवार भी इन खबरों की वजह से खासा परेशान होगा और इन्हें महज अफवाह बताने की पुरजोर कोशिशों में लगा हुआ है. देखते हैं ऊंट किस करवट बैठता है.

ये भी पढ़ें-

मेघन का प्रिंस हैरी के पीछे चलना सम्‍मान है या पितृसत्‍ता ?

प्रिंस हैरी की शादी से भी रोचक रही ब्रिटिश राजघराने की पहली समलैंगिक शादी

क्या इतना 'क्रूर' है ब्रिटिश राजघराने में माँ बनना

 

 

लेखक

पारुल चंद्रा पारुल चंद्रा @parulchandraa

लेखक इंडिया टुडे डिजिटल में पत्रकार हैं

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय