होम -> समाज

 |  5-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 14 दिसम्बर, 2019 06:53 PM
आईचौक
आईचौक
  @iChowk
  • Total Shares

कहा तो यही जाता है कि जीवन और मृत्यु अपने हाथ में नहीं होते. जन्म तो आप ले ही चुके हैं और मौत भी निश्चित है. लेकिन आप ही हैं जो मौत को चकमा देकर अपना जीवन बढ़ा सकते हैं.

ज्यादा जीना चाहते हैं तो इसके लिए आपको कुछ प्रयास करने होंगे, जो आपके स्वास्थ्य पर चमत्कारी असर डालेंगे. ये वो बाते हैं जिन्हें वैज्ञानिक तथ्यों के आधार पर लिखा जा रहा है.

1. ज्यादा खाना या overeating से बचें-

ज्यादातर लोग बढ़िया और मनपसंद खाना देखकर out of control हो जाते हैं. overeating से बचना जरूरी है. लंबी आयु पर किए गए अध्ययन कम कैलोरी के सेवन, लंबा जीवन, और बीमारी की कम संभावना के बीच संबंध की तरफ इशारा करते हैं. यानी अपना कैलोरी intake कम करके आप लंबा जी सकते हैं.

2. हेल्दी खाएं-

खाना खाएं लेकिन हैल्दी. खाने में nuts को शामिल करें. इसमें भरपूर मात्रा में protein, fiber, antioxidants, vitamins और minerals होते हैं. एक सोध में पाया गया है कि जिन लोगों ने एक सप्ताह में नट्स की 3 सर्विंग लीं उनमें असमय मृत्यु का खतरा 39 प्रतिशत कम पाया गया. खाने में हल्दी का इस्तेमाल करें. शाकाहार अपनाएं. शोध में पाया गया है कि शकाहार और वीगन खाना खाने से असमय मृत्यु का खतरा 12-15 प्रतिशत तक कम हो जाता है.

healthy foodपौष्टिक खाएं, स्वस्थ रहें, ज्यादा जिएं

3. शारीरिक रूप से एक्टिव रहें-

ज्यादा जीना है तो दिनचर्या में व्यायाम को शामिल जरूर करें. दिन के 15 मिनट की excercise आपके जीवन में 3 साल और जोड़ सकती है और असमय मृत्यु का खतरा 4 प्रतिशत कम कर सकती है. हाल ही में हुए एक शोध में पाया गया कि जो महिलाएं नियमित रूप से व्यायाम करती हैं उनमें दिल की बीमारी, कैंसर और अन्य कारण से होने वाली मौत का खतरा कम होता है.

4. धूम्रपान न करें-

धूम्रपान को सीधे तौर पर बीमारी और असमय मृत्यु से जोड़ा जाता है. जो लोग सिगरेट पीते हैं वो अपने जीवन के 10 साल कम कर लेते हैं. एक शोध कहता है कि 35 साल की उम्र तक धूम्रपान छोड़ दें तो भी जीवन के 8.5 साल बचाए जा सकते हैं.

5. शराब पर नियंत्रण रखें-

शराब पीना यानी लिवर, दिल और अग्नाशय की बीमारी हो सकती है. लेकिन अगर शराब पीने की आदत को नियंत्रित कर लिया जाए तो असमय मृत्यु का खतरा 17-18 प्रतिशत तक कम किया जा सकता है.

6. खुशियों को अहमियत दें

खुश रहेंगे तो ज्यादा जिएंगे. एक शोध कहता है कि यदि 22 साल की उम्र में आप बहुत खुश हैं तो आगे 6 दशक तक जीने की संभावना 2.5 गुना बढ़ जाती है. वहीं एक सोध में पता लगा कि खुश लोग बाकी लोगों की तुलना में 18% ज्यादा जीते हैं.

happy lifeखुशियों को अहमियत देंगे तो ज्यादा जिएंगे

7. तनाव और चिंता से बचें

शोध कहता है कि जो महिलाएं तनाव में रहती हैं उनमें दिल की बीमारी, स्ट्रोक और लंग कैंसर से मरने की संभावना दोगुनी हो जाती है. वहीं पुरुषों में ये  संभावन तीन गुनी होती है. अगर आप तनाम में हैं तो हंसी और सकारात्मकता ही समाधान है.

8. सामाजिक दायरा बढ़ाएं

शोध कहता है कि स्वस्थ सामाजिक दायरा बनाए रखने से आप 50% तक ज्यादा जीवित रह सकते हैं. लोगों से जुड़े रहना आपके दिल, दिमाग, हॉरमोन्स, और इम्यून सिस्टम पर सकारात्मक असर डालता है जिससे बीमारियों का खतरा कम रहता है, इससे तनाव भी कम होता है.

9. व्यवस्थित और अनुशासित रहें

जीवन में स्व-अनुशासित, संगठित, व्यवस्थित और उद्देश्य के साथ रहने वाले लोग बाकी लोगों की तुलना में 11% ज्यादा जीते हैं. ऐसे लोगों में बीमारियों का खतरा भी कम होता है. अगर आप ऐसे नहीं हैं तो किसी भी उम्र में अनुशासित हो सकते हैं.

10. चाय या कॉफी पिएं

चाय और कॉफी पीने से chronic  यानी लंबी बीमारी का रिस्क कम हो जाता है. चाय में मिलने वाले polyphenols and catechins कैंसर, डायबिटीज और दिल की बीमारी का रिस्क कम कर देते हैं. उसी तरह से कॉफी भी टाइप 2 डायबिटीज, दिल की बीमारी और कई तरह के कैंसर, एलजाइमर रोग का खतरा कम करती है. लेकिन बहुत ज्यादा कॉफी भी खतरनाक होती है.

teaचाय-कॉफी बुरी नहीं हैं, लेकिन बहुत ज्यादा नहीं11. अच्छी नींद लें

अगर आप अच्छी नींद लेते हैं और नियमित समय पर रोजाना उठते हैं तो ये आपकी उम्र बढ़ाता है. यदि आप 5-7 घंटो से कम सोते हैं तो असमय मृत्यु का खतरा 12% होता है. वहीं अगर आप 8-9 घंटों से ज्यादा नींद भी आपके जीवनकाल को 38% तक कम कर सकती है. इसलिए नियमित रूप से 7-8 घंटे की अच्छी नींद लें.

12. विटमिन D लें

एक शोध के मुताबिक जिन लोगों में विटमिन D ज्यादा होता है उनकी उम्र में 5 साल और बढ जाते हैं. विटमिन D का एकमात्र स्रोत है सूरज की रौशनी इसलिए रोजाना 15 मिनट सूरज की रौशनी में रहने से विटमिन D की कमी पूरी हो जाती है.

13. स्पर्श

हाथ पकड़ना, गले लगना, झप्पी देना ये वो चीजें हैं जो आत्मीयता बढ़ाती हैं. अपने जीवन साथी के साथ अगर ये सब किया जाए तो हॉर्मोन व्यवस्थित रहते हैं और आप स्वस्थ.

ये भी पढ़ें-

तुलसी के पत्‍ता से मोबाइल रेडिएशन कम करने का दावा कितना खरा, जानिए

Instant noodles आपके बच्चों को बीमार नहीं, बहुत बीमार कर रहे हैं

STD बीमारियां: हिस्सेदारी पुरुषों की लेकिन घाटा महिलाओं का

Health, Life, Long Life

लेखक

आईचौक आईचौक @ichowk

इंडिया टुडे ग्रुप का ऑनलाइन ओपिनियन प्लेटफॉर्म.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय