charcha me| 

होम -> समाज

 |  एक अलग नज़रिया  |  5-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 25 जुलाई, 2022 11:04 PM
ज्योति गुप्ता
ज्योति गुप्ता
  @jyoti.gupta.01
  • Total Shares

रणवीर सिंह की नंगी तस्वीरों (Ranveer singh nude photos) ने इंटरनेट पर आग लगा दी हैं. लोग अपनी आंखों की कसम खाकर कह रहे हैं कि "हम झूठ नहीं कहेंगे, रणवीर सिंह की ये तस्वीरें सच में दमदार हैं. वह कितने सुंदर इंसान है. ऐसा सिर्फ वही कर सकता है जो खुद से सुरक्षित हो".

अब एक मिनट के लिए मान लीजिए कि अगर यही फोटोशूट बॉलीवुड या साउथ की किसी अभिनेत्री ने कराई होती तो? क्या तब भी लोगों के मुंह से उसकी तारीफ में फूल झड़ते? जिन्हें ब्रा की पट्टी और क्लीवेज से दिक्कत हो जाती है, हम उनके लिए बोल रहे हैं...बराबरी की बात करने वालों के पास इसका भी जवाब होगा? माने बस पूछ रहे हैं.

Ranveer singh, Ranveer singh nude photoshoot, mimi chakraborty, vijay devarakonda, Ranveer singh nude picsजिस तरह देवरकोंडा के पोस्टर ने इंटरनेट पर गर्दा उ़डा दिया था, उसी तरह पेपर मैगजीन के फोटोशूट में रणवीर सिंह को देखकर लोग पगला गए हैं

विजय देवरकोंडा की तरह रणवीर सिंह की हो रही वाहवाही

बॉलीवुड वाले तो रणवीर सिंह की हॉटनेस पर प्यार लुटा रहे हैं. उनका कहना है कि देश ने अब तक का सबसे अच्छा कवर शॉट देखा है. लोग रणवीर सिंह की बहादुरी की ठीक उसी तरह तारीफ कर रहे हैं, जिस तरह विजय देवरकोंडा के 'लाइगर' पोस्टर को देखकर कर रहे थे. इस पोस्टर में देवरकोंडा नंगे खड़े थे. उन्होंने एक हाथ में ग्लव्स तो दूसरे हाथ में फूलों का गुलदस्ता पकड़ा था. उनकी इज्जत तो फिर भी गुलदस्ते ने बचा ली थी, लेकिन रणवीर सिंह एकदम नंगे होकर फर्श पर लेट गए हैं. जिस तरह देवरकोंडा के पोस्टर ने इंटरनेट पर गर्दा उ़डा दिया था, उसी तरह पेपर मैगजीन के फोटोशूट में रणवीर सिंह को देखकर लोग पगला गए हैं.

कुल मिलाकर कहने का मतलब यह है कि लोगों को रणवीर सिंह और विजय देवरकोंडा का न्यूड होकर फोटो शूट करना बुरा नहीं लगा. उल्टा लोगों ने दोनों को सेक्सी और हॉट कहा...इन अभिनेताओं के काम और मेहनती की सराहना की.

हम भी इन अभिनेताओं के कला की कद्र करते हैं, लेकिन सवाल यह है कि अगर किसी अभिनेत्री ने यह जहमत उठाई तो उनके साथ लोग क्या करते? क्या अभिनेत्रियां कलाकार नहीं है. या फिर लोगों के दिमाग में यही है कि एक महिला को अपना शरीर पूरी तरह ढककर ही रहना चाहिए. लोगों को तो अभिनेत्रियों के नेकलाइन दिखने और छोटी स्कर्ट पहनने से भी परेशानी है. तभी तो "ये अभिनेत्री हुई ऊप्स मोमेंट की शिकार" जैसी खबरों के सहारे कुछ लोगों की दुकान चलती है और शर्मिंदगी अभिनेत्रियों को झेलनी पड़ती है.

टीएमसी सांसद ने जवाब मांगा है

टीएमसी सांसद और बंगाली स्टार मिमी चक्रवर्ती ने रणवीर सिंह की तस्वीर देखकर लोगों से एक सवाल पूछा है. वे कहती हैं कि, "मैं सोच रही थी कि अगर रणवीर सिंह की जगह कोई महिला होती तो उसे भी अभिनेता के बराबर सराहना मिलती? या आप उसके घर को जला देते या फिर उसे जान से मारने की धमकी दी जाती? हम जिस समानता की बात करते हैं, वह कहां है? हमारा सही नजरिया किसी को आबाद कर सकता है तो किसी को बर्बाद कर सकता है."

महिलाओं के पहनावे पर सवाल क्यों?

क्यों भाई, क्या अभिनेत्रियां सिर्फ मांस और हड्डी हैं. क्या वे कलाकार नहीं है. कुछ लोगों की निगाहें तो अभिनेत्रियों के शरीर पर ही टिकी होती हैं. वह मोटी हो गई है, वह पतली हो गई है, उसकी ब्रा दिख रही है, उसका बेबी बंप दिख रहा है...सोचिए जब अभिनेत्रियों का यह हाल है तो फिर आम महिलाओं के पहनावे पर कितने सवाल उठाए जाते होंगे. आखिर कोई और क्यों तय करेगा कि एक महिला को कैसे कपड़े पहनने चाहिए.

सिर्फ महिला की छिनार है?

अगर किसी अभिनेत्री ने बोल्ड फोटोशूट करा लिया तो लोग उसे बेशर्म से लेकर ना जाने क्या-क्या बोलने लगते हैं. उसके नाम का हैशटैग चलाया जाता है. उसे फूहड़ कहा जाता है. उसके चरित्र पर उंगली उठाई जाती है. उस पर गंदे इल्जाम लगाए जाते हैं. उसकी बेइज्जती की जाती है. उसे गाली दी जाती है और साथ में नसीहत भी...

सोचिए महिला-पुरुष को एक समान कहने वाले ये लोग कितने दो तरह की बातें करते हैं. कई लोगों को अभिनेत्रियों के फोटोशूट सेक्सी कम और अश्लील अधिक लगते हैं. अभिनेत्रियां कम कपड़ों में शर्मिंदा करती हैं लेकिन अभिनेता नाम कमाते हैं. क्या अभिनेत्रियां अपने फिट फिगर को पाने के लिए जिम में घटों पसीना नहीं बहातीं?

दरअसल, वे वही लोग हैं जो किसी एक्ट्रेस के मोटी हो जाने पर सबसे पहले उन्हें आंटी कह देंगे. इनकी माने तो भले ही वे कलाकार हैं लेकिन उन्हें समाज के तय पैमाने के हिसाब से ही रहना चाहिए. वरना वे नंगी कहलाएंगी...और उनका बायकॉट किया जाएगा.

कुछ लोग आज भी उन महिलाओं को आदर्श मानते हैं जो सूट और साड़ी पहनती है. किसी दिन अगर उसने वह ड्रेस पहन ली जो लोगों के तय पैमाने में फिट ना बैठे तो वह बुरी हो जाएगी. यह वह समाज है जो एक तरफ समानता की बात करता है तो दूसरी तरफ भेदभाव करना नहीं छोड़ता...आपके पास है इस सवाल का जवाब?

#रणवीर सिंह, #न्यूड, #फोटोशूट, Ranveer Singh, Ranveer Singh Nude Photoshoot, Mimi Chakraborty

लेखक

ज्योति गुप्ता ज्योति गुप्ता @jyoti.gupta.01

लेखक इंडिया टुडे डि़जिटल में पत्रकार हैं. जिन्हें महिला और सामाजिक मुद्दों पर लिखने का शौक है.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय