charcha me| 

समाज

 |  6-मिनट में पढ़ें  |   07-12-2018
श्रुति दीक्षित
श्रुति दीक्षित
  @shruti.dixit.31
  • Total Shares

कहते हैं लोग अपनी फितरत कभी नहीं बदलते. वो वही करते हैं जो वो हमेशा से करते आए हैं. जहां ये कहावत सभी पर लागू नहीं होती, लेकिन कुछ ऐसे लोग भी हैं जिनपर ये पूरी तरह से फिट बैठती है. हाल ही में मीका सिंह के अरेस्ट होने की खबर आई है (एक बार फिर से अरेस्ट वो पहले भी कई बार हो चुके हैं.) मीका सिंह को इस बार दुबई में गिरफ्तार किया गया है और आरोप भी बेहद संजीदा लगाए गए हैं. मीका सिंह को इसलिए गिरफ्तार किया गया है क्योंकि वो एक ब्राजीलियन मॉडल जो कि नाबालिग थी उसे अश्लील तस्वीरें भेज रहे थे.

उस ब्राजीलियन मॉडल ने पुलिस स्टेशन में रिपोर्ट दर्ज करवाई थी और दुबई के ही बुर्ज दुबई बार से वहां के समय के अनुसार रात 3 बजे मीका सिंह को गिरफ्तार कर लिया गया था. अभी उन्हें मुरक़्क़ाबात पुलिस स्टेशन में रखा गया है. भारत की तरफ से यूएई के अम्बैसेडर नवदीप सिंह सूरी के अनुसार उनकी टीम पुलिस स्टेशन पहुंच गई है और मीका सिंह के साथ है. ये भी माना गया है कि मीका सिंह को छुड़वाने की कोशिश हुई है, लेकिन ये हो न सका.

मीका सिंह, Metoo, सेक्शुअल हैरेस्मेंट, यौन शोषण, दुबईमीका सिंह को दुबई में अरेस्ट किया गया है, लेकिन ये पहली बार नहीं है जब मीका सिंह किसी मामले में गिरफ्तार हुए हैं

मीका सिंह को अभी कोर्ट में नहीं पेश किया गया है, लेकिन अभी तक इसके बारे में कोई जानकारी नहीं मिली है कि अब किस तरह की कार्यवाही मीका सिंह पर होगी.

मीका सिंह इस बात के लिए हमेशा चर्चा में रहते हैं कि न तो उनका व्यवहार सही है, न ही वो लड़कियों के मामले में शरीफ हैं. ये पहली बार नहीं है कि मीका सिंह पर ऐसा आरोप लगा है या वो जेल गए हैं. इस तरह के किस्सों में मीका सिंह कई बार जेल जा चुके हैं.

क्या सज़ा मिल सकती है?

हालांकि, अभी मीका सिंह का कोर्ट में पेश होना बाकी है, लेकिन दुबई का कानून ही उनपर इस केस में लागू होगा. इस धारा से निपटने के लिए दुबई में दो तरह के कानून हैं. यहां UAE पीनल कोर्ट के तहत मामला चलता है.

आर्टिकल 358-

इसमें अगर कोई खुले आम किसी तरह का कमेंट पास करता है या फिर कोई गलत हरकत करता है तो उसे 6 महीने की कैद हो सकती है. जिसके साथ ये जुर्म हुआ है अगर उसकी उम्र 15 साल के कम है तो कम से कम 1 साल की जेल का प्रावधान है.

आर्टिकल 359-

अगर कोई किसी महिला को पब्लिक में कुछ गलत कहता है या उसके साथ कोई गलत हरकत करता है तो उसे 1 साल की कैद या 10 हज़ार दिरहम का जुर्माना हो सकता सकता है. कुछ मामलों में ये दोनों सज़ा भी मिल सकती है. यही सज़ा उस इंसान के लिए भी लागू होगी जो किसी महिला के भेस में किसी ऐसी जगह जाता है जहां सिर्फ महिलाओं का आना ही वैध हो.

मीका सिंह की आदत है कॉन्ट्रोवर्सी में फंसना-

मीका सिंह और राखी सावंत का 2006 वाला मामला तो बहुत चर्चित है ही जहां मीका सिंह ने जबरन राखी सावंत को किस कर लिया था.

कुछ सालों पहले मीका सिंह और दलेर महंदी पर मानव तस्करी के आरोप लगे थे, लेकिन सबूतों के आभाव में वो बच गए थे.

उसके बाद मुंबई एयरपोर्ट पर उन्हें तय मात्रा से अधिक भारतीय करंसी और विदेशी करंसी ले जाते हुए गिरफ्तार किया गया था.

2015 में मीका सिंह ने एक कॉन्सर्ट में एक डॉक्टर को थप्पड़ मार दिया था और उस केस में पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार भी कर लिया था. उस डॉक्टर के कान में थप्पड़ के कारण इंजुरी भी हो गई थी.

साल 2016 में मुंबई में रहने वाली एक मॉडल ने मीका के खिलाफ शोषण करने का आरोप लगाया था, इस आरोप के बदले में मीका ने उस लड़की पर ही जबरन वसूली का आरोप लगा दिया था. मीका ने कहा कि वो लड़की उन्हें फंसाने की कोशिश कर रही है.

ये सब कुछ मामले हैं, लेकिन ऐसे और भी बहुत से मामले हैं जिनमें मीका सिंह का नाम किसी न किसी तरह से यौन शोषण के मामले में घिर गया था. 'कॉमेडी नाइट्स विद कपिल' के एक एपिसोड में मीका सिंह ने ट्विटर पर बिपाशा के साथ एक फोटो डाली थी जिसमें मीका के गाल पर लिपस्टिक का निशान था. मीका ने ये झूठ फैलाया कि वो किस बिपाशा ने किया था जब्कि वो अली अजगर ने दादी के मेकअप के साथ किया था ऐसे में मीका ने माफी मांगी थी.

यहां तक की कई फिल्मों के सेट पर मीका सिंह ने साथ काम कर रही महिलाओं के साथ बदतमीजी की है और भद्दे कमेंट्स पास किए हैं जिनकी जानकारी कहीं न कहीं सामने आती रही है. मीका के कारनामों की लिस्ट तो काफी लंबी है, लेकिन अगर कहा जाए कि मीका के व्यवहार में कुछ बदलाव आया है तो ऐसा नहीं है. हाल ही में मीका का अरेस्ट होना ये साबित करता है कि वो न बदले हैं और शायद कभी बदलें भी न.

क्या वाकई बॉलीवुड के #Metoo से कुछ हुआ?

बॉलीवुड के मी टू अभियान का क्या मामला रहा ये तो मीका सिंह का केस देखकर ही समझ आता है. ये भी सिर्फ एक सोशल मीडिया ट्रेंड बनकर ही रह गया. जिन लोगों का नाम सामने आया वो तो अभी भी वहीं के वहीं हैं. इंडस्ट्री के बड़े-बड़े दिग्गजों का नाम मी टू अभियान के तहत सामने आया, लेकिन क्या उनमें से किसी को भी सज़ा हुई?

उसी जगह अमेरिका के मी टू अभियान के बारे में जानिए जहां बड़े से बड़े स्टार को भी घुटनों पर ला दिया गया. 

अब क्या कहेंगे बॉलीवुड के मी टू के बारे में जहां अभी भी आरोपी खुले घूम रहे हैं और भारत में किसी को भी सजा नहीं हुई. मीका सिंह गिरफ्तार भी हुए तो दुबई में. भारत में न जाने कितने केस चलते रहते हैं उनपर, लेकिन कुछ होता नहीं. बॉलीवुड का मी टू एक छलावा मात्र ही है जहां इतने बड़े से बड़े आरोपियों को भी कोई सजा नहीं सुनाई जाती हां महिलाएं जिन्होंने ये आरोप लगाए हैं वो जरूर सवालों के घेरे में आ जाती हैं.

मीका सिंह की खबर बस घास के ढेर में एक सुई की तरह है जहां यकीनन लोगों को ये समझना चाहिए कि जब तक अभियान के साथ-साथ सज़ा का प्रावधान नहीं होगा तब तक ऐसे लोग सामने आते रहेंगे और बिना किसी परवाह अपना काम करते रहेंगे.

ये भी पढ़ें-

Metoo पर हंसना बंद करो प्रीति, हैरेसमेंट की शिकार तुम भी हुई हो...

रेप के 20 साल बाद मेडिकल होना बताता है कि यातनाएं झेलना तो पीड़िता की नियति है

लेखक

श्रुति दीक्षित श्रुति दीक्षित @shruti.dixit.31

लेखक इंडिया टुडे डिजिटल में पत्रकार हैं.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय