charcha me| 

होम -> समाज

 |  एक अलग नज़रिया  |  4-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 24 नवम्बर, 2021 06:55 PM
ज्योति गुप्ता
ज्योति गुप्ता
  @jyoti.gupta.01
  • Total Shares

शादी का सीजन (wedding season 2021) चल रहा है...हमें तो यह तभी पता चलता है जब फेसबुक खोलते हैं वरना कब शादी का सीजन आया और कब चला गया, यह बताने वाला कोई नहीं है. कोरोना काल से पहले तो फिर भी पता लग जाता था जब किसी दोस्त की शादी का कार्ड व्हाट्सएप पर मिल जाता था, लेकिन अब वो दिन पुराने हो गए, मानो छोड़ आए हम वो गलियां...

अब फेसबुक पर तैर रही इन तस्वीरों को देखकर जिनकी शादी हो गई है उन्हें तो अपनी शादी की याद आ जाती होगी लेकिन जिनकी नहीं हुई उनका दर्द कौन समझेगा भाई? रोज फेसबुक सोशल मीडिया की टाइमलाइन पर शादी की फोटो देखते-देखते परेशान एक दोस्त ने कहा, भक यार, ये जीना भी कोई जीना है...तो किसी ने शादी सीजन के बुखार के नीचे दबकर घरवालों को फोन लगा कर बोल दिया मम्मी आप किसी लड़की का बोल रही थीं ना...सोच रहा हूं मिलने में क्या हर्ज है? बाकी आप देख लेना अपने हिसाब से मुझे कोई परेशानी नहीं है. वहीं जो कपल रिलेशनशिप में हैं वो भी अपनी शादी की प्लानिंग मन ही मन करने लगे हैं और ये यह पवित्र घटना लगभग हर साल शादी के सीजन के दौरान होती है. अब शादी है ही ऐसा लड्डू जो खाए पछताए ना जो ना खाए वो भी पछताए.

marriage, marriage photos, wedding, wedding season, marriage photo viral on social mediaक्या आपके दोस्तों की भी शादी हो रही है?

कोरोना ने भले ही कहर बरपाना कम कर दिया लेकिन लोगों को बहाने बढ़िया दे गया कि अब महामारी में कौन भीड़ जुटाए? एक कोरोना के पहले का दौर था और एक आज का दौर है यह याद ही नहीं है कि हम शादी की पार्टी में गए कब थे? क्या करेंगे जो करीबी दोस्त थे वो कबके शादी करके निपट लिए और हम जाते-जाते रह गए. अब जो बचे हैं वो शादी तो कर रहे हैं लेकिन एकदम प्राइवेट बॉलीवुड टाइप, जिसमें सिर्फ कुछ करीबी लोगों ही शामिल होते हैं. अब भईया बदलते समय के साथ हम इतने करीबी रहे नहीं और ना बुलाए गए.

अब तो बस फेसबुक दोस्त बनकर रह गए है. वैसे आपके दोस्त तो आपको बुलाते ही होंगे? बुरा ना मानिए हम मानें बस पूछ ही रहे हैं, आपको जलाने का हम सोच भी नहीं सकते...यहां तो खुद की कई लोग जलकर कोयला से भी काले हुए पड़े हैं.

अब सिर्फ फेसबुक पर नाइस कपल, आई एम हैपी फॉर यू और बधाई देकर ही अपने मन को तसल्ली दे सकते हैं. वैसे ये दर्द इसलिए भी कम नहीं होता कि जब हम फेसबुक खोलते हैं तो लगता है गलती से शादी.फॉम तो नहीं खोल लिया...जिसतरह सबके टाइमलाइन पर शादी की रोमैंटिक पोज वाली तस्वीरें हिलोड़े मारकर तैर रही होती हैं ऐसे में खुद पर डाउट तो होगा ही. खैर, ऊपर से बॉलीवुड में भी शादियों की आंधी चल रही हैं ऐसे में सोशल मीडिया पर न्यूज वेबसाइट भी उनकी तस्वीरों को पोस्ट कर जश्न ही मना रही हैं.

अब शादी करने वाले कम जालिम थोड़ी हैं. शादी की प्रीवेडिंग से सेलक शादी की फोटू डालने के बाद वे जीवनसाथी के साथ हर एक महीने में नई प्रोफाइल फोटो लगाना नहीं भूलते. मुझे लगता है कि शादी के बाद 2, 3 साल के लिए प्रोफाइल फोटो का इंतजाम तो हो ही जाता है. रोज फेसबुक स्टोरी पर एक नई फोटो.

इतने पर बात खत्म नहीं होती इसके बाद नंबर आता है सरनेम बदलने का. इतना ही नहीं कई के पासवर्ड में भी लाइफपार्टनर का नाम या जन्मदिन की तारीख होती है. मोबाइल के स्क्रीन से लेकर डीपी और व्हाट्सएप स्टेटस तक... इतना ही नहीं अभी आप हनीमून की फोटो के लिए भी तैयार रहिए. और हां असली बारी आती है फोटो डालने की जब कैमरे से ली गई फोटो आती है, मतलब मोबाइल वाला खत्म फिर कैमरे वाला शुरु. यू ट्यूब वीडियो को तो भूल मत जाना. शादी खत्म होने के एक महीने बाद डाली जाती है कैमरे से ली गई हल्दी की फोटो...

सुनिए फेसबुक वालों, अगर शादी हो गई है तो जाइए और पत्नी या पत्नी के साथ शादी का वीडियो देखिए और जिनकी नहीं हुई वो घबराएं नहीं जल्द ही इस पवित्र बंधन में बंधने का आपका नंबर आने वाला है...जिन्हें शादी नहीं करनी वो कुछ दिन सोशल मीडिया से दूर रहें और सोलो ट्रेवल करें और जिनकी शादी हो रही है उन्हें कुछ सलाह देने की जरूरत नहीं उन्हें आप फोटू डालने के लिए छोड़ दीजिए... कैप्शन भी तो सोचना पड़ता है, क्यों?

लेखक

ज्योति गुप्ता ज्योति गुप्ता @jyoti.gupta.01

लेखक इंडिया टुडे डि़जिटल में पत्रकार हैं. जिन्हें महिला और सामाजिक मुद्दों पर लिखने का शौक है.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय