charcha me| 

समाज

 |  4-मिनट में पढ़ें  |   11-01-2018
अनुज मौर्या
अनुज मौर्या
  @anujmaurya87
  • Total Shares

'जनाजा जितना हल्का होता है, उतना ही अधिक भारी होता है.' इन दिनों पाकिस्तान के पंजाब में कसूर की सड़कों पर भी एक ऐसा ही जनाजा रखा है, 7 साल की बच्‍ची जैनब के इस जनाजे के बोझ तले पूरा पाकिस्तान दबा हुआ है. जिस तरह भारत में निर्भया रेप के बाद मामला तेजी से सोशल मीडिया और आम जनता के बीच आग की तरह फैला था, वैसी ही आग में इन दिनों पाकिस्तान भी तप रहा है. #JusticeForZainab को लेकर लोगों के गुस्से की आग साफ देखी जा सकती है. लोग सोशल मीडिया पर तो अपना विरोध दर्ज कर ही रहे हैं, सड़कों पर उतरकर प्रदर्शन भी कर रहे हैं. कई जगहों पर हिंसा तक होने की खबरें आ रही हैं.

निर्भया, रेप, हत्या, अपराध, पाकिस्तान

क्या है जैनब का मामला?

पाकिस्तान के कसूर में 7 साल की मासूम जैनब का रेप करके उसकी हत्या कर दी गई है. जैनब का शव मंगलवार, 9 जनवरी को बरामद हुआ, जिसके बाद हिंसा भड़क उठी. बच्ची 4 जनवरी से लापता थी. उसे आखिरी बार अपने घर के पास रोडकोट में कुरान की ट्यूशन जाते देखा गया था. पुलिस की रिपोर्ट के मुताबिक बच्ची के साथ कई बार रेप किया गया और उसके बाद हत्या कर के कूड़े में फेंक दिया. बच्चे के माता-पिता उमराह के लिए सऊदी अरब गए हुए थे. मां-बाप को क्या पता था कि जिसकी लंबी उम्र की दुआ वह सऊदी में उमरा करते हुए मांग रहे हैं, उसकी सांसों की डोर कोई वहशी दरिंदा काटने की फिराक में है.

पाक एंकर बेटी के साथ आई टीवी पर

जैनब के मामले में अपना विरोध दर्ज कराने के लिए पाकिस्तान के समा टीवी की एंकर किरन नाज अपनी बेटी के साथ एंकरिंग करने आईं. एंकरिंग शुरू करने से पहले ही उन्होंने कहा कि आज वह एक मां की हैसियत से आई हैं, इसीलिए अपनी बच्ची को साथ लेकर आई हैं. उन्होंने बच्चों के खिलाफ हो रहे अपराध के खिलाफ अपना विरोध दर्ज करते हुए कहा- उधर मां-बाप अपने बच्चे की जिंदगी की दुआ कर रहे थे, इधर कोई दरिंदा उसी बच्ची की जिंदगी की डोर काट रहा था. उन्होंने कहा कि आज मासूम जैनब का जनाजा नहीं उठा है, बल्कि पूरी इंसानियत का जनाजा उठा है. बेहद मार्मिक अंदाज में किरन नाज ने कहा- जैनब का इंसाफ तो रब करेगा, जब वह अपने छोटे से जनाजे से उठकर पूछेगी कि मुझे किस जुर्म में मारा?

पकड़ा गया हत्यारा

एक वकील अहमद रजा कसूरी के अनुसार पाकिस्तान के चीफ जस्टिस मियां साकिब निसार ने कहा है कि जैनब के हत्यारे को पकड़ लिया गया है. हत्यारा परिवार का ही कोई रिश्तेदार बताया जा रहा है. 'डेली पाकिस्तान' मीडिया से बात करते हुए कहा कि सीसीटीवी फुटेज के आधार पर हत्यारे की पहचान करते हुए उसे गिरफ्तार कर लिया गया है.

विरोध प्रदर्शन में मारे गए 2 लोग

जैनब को इंसाफ दिलाने की मांग को लेकर कसूर की सड़कों पर विरोध प्रदर्शन भी हुए. यह प्रदर्शन इतने उग्र हो गए कि हिंसा का रूप ले लिया. समा टीवी के अनुसार प्रदर्शनकारियों पर पुलिस ने गोलियां भी चला दीं, जिसमें दो लोगों की मौत हो गई है. विरोध प्रदर्शन में मारे गए लोगों में मोहम्मद अली और शोएब हैं.

मासूम जैनब का जनाजा तो अब दुनिया से विदा हो चुका है, लेकिन वह मासूम अपने पीछे कई सवाल छोड़ गई है. सवाल ये कि आखिर उसका जुर्म क्या था? सवाल ये कि कुछ अपने ही भरोसा क्यों तोड़ देते हैं? सवाल ये भी कि 7 साल की मासूम बच्ची को देखकर लाड, प्यार और दुलार तो किसी के भी मन में आ सकता है, लेकिन ये वहशी दरिंदे कौन होते हैं, जो रेप करने पर उतर आते हैं?

पिछले कुछ सालों में पाकिस्तान के कसूर शहर में यह छठा मामला है, जिसमें किसी बच्ची को अगवा करके उसका रेप किया और फिर हत्या कर दी. इस हत्या को एक सीरियल किलर का काम भी माना जा रहा है. बीबीसी के अनुसार इससे पहले हुए पांच मामलों में भी पीड़िता को कूड़े में या कूड़े के पास फेंका गया था. पुलिस हत्यारे को गिरफ्तार कर चुकी है और अब देखना ये होगा कि मासूम जैनब और उसके जैसी ही कई और बच्चियों को इंसाफ मिलता है या नहीं.

ये भी पढ़ें-

अच्छा हुआ ये हेलिकॉप्टर सर्जिकल स्ट्राइक में नहीं था

प्रार्थना में भी धर्म खोज लेना मानसिक दिवालिएपन से ज्यादा कुछ भी नहीं

राष्ट्रगान बजाने की अनिवार्यता तो खत्म हुई, लेकिन मामला अभी सुलझा नहीं है !

लेखक

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय