होम -> सोशल मीडिया

 |  4-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 06 अप्रिल, 2016 02:54 PM
आईचौक
आईचौक
  @iChowk
  • Total Shares

बॉलीवुड एक्ट्रेस जरीन खान भी उन अभिनेत्रियों में से हैं जिन्हें बॉडी शेमिंग का शिकार होना पड़ा. वो बात और है कि जरीन आज बॉलीवुड में एक उभरती हुई अभिनेत्री हैं और मॉडलिंग भी करती हैं.

जरीन खान ने 2010 में सलमान खान की फिल्म 'वीर' से बॉलीवुड में शानदार शुरुआत की थी. हाल ही में आई उनकी फिल्म 'हेट स्टोरी-3' भी काफी चर्चाओं में रही. लेकिन अभी चर्चा हो रही है उनके बचपन की उन तस्वीरों की जो उन्होंने सोशल मीडिया पर शेयर की हैं. इन तस्वीरों को देखकर यकीन करना मुश्किल है कि ये वही जरीन हैं जो आज अपनी शानदार फिगर को लेकर चर्चा में रहती हैं.

ये भी पढ़ें- ‘अपने ब्रेस्ट के अलावा भी मैं बहुत कुछ हूं’

zarine-khan_040616023330.jpg
 ये तब की तस्वीर है जब जरीन खान कक्षा 9 में थीं,                                   और ये तब की जब वो कॉलेज पहुंचीं

जरीन खान फिल्म इंडस्ट्री में आने से पहले काफी मोटी थीं, और खुद को इस फॉर्म में लाने के लिए उन्होंने काफी मेहनत की है. अपने स्कूल के दिनों की इन तस्वीरों के साथ-साथ जरीन खान ने अपने दिल की बात भी लोगों तक पहुंचाई जो उनके बॉडी शेमर्स के मुंह बंद करने के लिए काफी है.   

ये भी पढ़ें- कपड़े बेचने वाले अगर बोलें कि ‘आप जिम जाइए’ तो...

जरीन कहती हैं-

‘’जब मैं इन तस्वीरों को देखती हूं, तो आज मुझे गर्व होता है, ऐसा नहीं कि मैं पहले अपने बारे में इससे कुछ कम सोचती थी. इतनी मोटी होने के बावजूद मैंने लोगों के कमेंट और विचारों से खुद को परेशान नहीं होने दिया. चूंकि ये मेरी जिंदगी है, ये मेरा शरीर है, इसलिए इसके साथ क्या करना है इसका निर्णय मैं ही लुंगी.

तब एक दिन मैंने फैसला किया कि देखते हैं थोड़ा दुबला होकर कैसा लगता है, और तब मेरा वेट लॉस का सफर शुरू हुआ. ये जरा भी आसान नहीं था, लेकिन जब भी आइने में खुद में आए थोड़े भी बदलाव देखती मुझे और मेहनत करने का हौसला मिलता. अब मुझमें पहले से ज्यादा ऊर्जा थी, और इस बदलते हुए इंसान की हर चीज मुझे पसंद आ रही थी.

13_11_2015_9_03_18za_040616024051.jpg
 

जब मैं इस इंडस्ट्री का हिस्सा बनी तब मेरा वजन कम हो चुका था...यहां तक कि मुझे मेरी पहली फिल्म के किरदार के लिए वजन बढ़ाने के लिए कहा गया. अपने वजन को लेकर मेरी आलोचना की गई, लेकिन मुझे कोई फर्क नहीं पड़ा. मैं कैसे कर सकती थी? न लोगों ने मुझे इस तरह नहीं देखा था जैसी मैं इन तस्वीरों में हूं. जहां मैं थी वहां से यहां तक पहुंचने तक जो कुछ भी मुझे मिला वो मेरी उपलब्धि है. मैं फिटनेस के इस सफर पर ऐसे ही चलती रहुंगी क्योंकि अब फिटनेस मेरे लिए जीने का तरीका बन गया है. 

ये भी पढ़ें- मोटी महिलाएं क्यों न करें योग?

वजन घटाने से शरीर पर बहुत से स्ट्रेच मार्क्स आ गए हैं, लेकिन उस पर शर्मिंदा होने या उन्हें छिपाने के बजाय मैं उन पर इतराती हूं. इन धारियों की बदौलत मैं खुद को बाघिन की तरह महसूस करती हूं. इस फिटनेस के सफर में मैं बहुत दूर आ गई हूं और मुझे अभी और आगे जाना है... लेकिन इन सबके पीछे मैं ही हूं, न कि वे लोग जो मेरे शरीर पर कमेंट करते हैं. #IWillBeMe

जरीन खान ने अपने इस सफर को कितनी साफगोई से बयां कर दिया. उनकी इस पोस्ट ने एक तीर से दो निशाने लगाए हैं, ताने देने वाले समझ भी गए, और लोग इंस्पायर भी हो गए. ये रही उनकी फेसबुक पोस्ट-

Came across these pics of mine from school and college days. (White one was in std 9th & pink one was right after my std...

Posted by Zareen Khan on Monday, April 4, 2016

Zarine Khan, Body Shaming, Fat

लेखक

आईचौक आईचौक @ichowk

इंडिया टुडे ग्रुप का ऑनलाइन ओपिनियन प्लेटफॉर्म.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय