charcha me| 

होम -> सोशल मीडिया

 |  5-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 01 अगस्त, 2022 07:57 PM
देवेश त्रिपाठी
देवेश त्रिपाठी
  @devesh.r.tripathi
  • Total Shares

सोशल मीडिया पर शिवसेना नेता संजय राउत (Sanjay Raut) एक हॉट ट्रेंड टॉपिक बन गए हैं. दरअसल, मुंबई के पात्रा चॉल (Patra Chawl Scam) घोटाले में फंसे संजय राउत ईडी की गिरफ्त में आ चुके हैं. हालांकि, शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने इसे बदले की राजनीति से प्रेरित मामला बताया है. वैसे, मनी लॉन्ड्रिंग के आरोपों में गिरफ्तार किए गए संजय राउत के तेवर नरम नही पड़े हैं. संजय राउत ने गिरफ्तारी से पहले 'पुष्पा' स्टाइल में झुकेगा नही टाइप का एक ट्वीट किया था. वैसे, संजय राउत को मेडिकल कराने के बाद कोर्ट के सामने पेश किया गया था. जहां से उनको 4 अगस्त तक ईडी की कस्टडी में भेज दिया गया है. खैर, संजय राउत की गिरफ्तारी पर सोशल मीडिया पर यूजर्स ने उनके कुछ 'नॉटी' वीडियो और ऑडियो वायरल किए हैं. आइए डालते हैं इन पर एक नजर...

Patra Chawl Scam case Sanjay Raut sent to ED custody Social Media goes naughty with raut old statementsपात्रा चॉल घोटाले में ईडी कस्टडी में पहुंचे संजय राउत के लिए आगे की राह मुश्किल नजर आ रही है.

पात्रा चॉल घोटाले की गवाह के साथ 'नॉटी' बात

मुंबई पुलिस ने शिवसेना सांसद संजय राउत के खिलाफ स्वप्ना पाटकर के साथ गाली-गलौज वाली अभद्र भाषा का इस्तेमाल करने के लिए मामला दर्ज किया है. सोशल मीडिया यूजर अभिजीत मजूमदार ने इस ऑडियो क्लिप को बिना एडिट यानी बीप किए शेयर किया है. मजूमजार ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि 'मुंबई को महिलाओं के लिए बहुत सुरक्षित माना जाता है. क्योंकि, 3 मुख्य समुदायों (मराठी, पारसी, गुजराती) ने इस माहौल को बनाया है. जो अपनी महिलाओं का सम्मान करते हैं. यह आवाज कथित तौर पर संजय राउत की है. महाराष्ट्र पर एक धब्बा है. वैसे, क्या बॉलीवुड की किसी एक महिला ने इसके खिलाफ आवाज उठाई है.'

दरअसल, बीते दिनों सोशल मीडिया पर वायरल हुई एक ऑडियो क्लिप में संजय राउत को कथित तौर पर स्वप्ना पाटकर को भद्दी गालियां देते हुए धमकाते सुनाई पड़े थे. हाल ही में स्वप्ना पाटकर ने मुंबई पुलिस में एक शिकायत दर्ज कराई थी. जिसमें कहा गया था कि स्वप्ना को ईडी के सामने बयान देने पर मारने और बलात्कार किए जाने की धमकी मिल रही है. बता दें कि स्वप्ना पाटकर संजय राउत के करीबी सुजीत पाटकर की पत्नी हैं. और, पात्रा चॉल घोटाले की गवाह भी हैं. जिस मामले में संजय राउत को गिरफ्तार किया गया है.

यह ऑडियो अनएडिटेट है 

गिरफ्तारी से एक दिन पहले 'नॉटी मक्खन'

महाविकास आघाड़ी सरकार गिरने के बाद संजय राउत ने कई ऐसे बयान दिए, जिसमें उन्होंने भाजपा के साथ ही पीएम नरेंद्र मोदी पर भी खुलकर निशाना साधा था. लेकिन, ईडी द्वारा संजय राउत को गिरफ्तार किए जाने से एक दिन पहले का एक इंटरव्यू क्लिप मराठी अभिनेत्री केतकी चितले ने सोशल मीडिया पर शेयर किया है. जिसमें संजय राउत पीएम नरेंद्र मोदी के लिए जी और साहब जैसे संबोधन इस्तेमाल कर रहे हैं. इतना ही नहीं, इस क्लिप में राउत ने गृहमंत्री अमित शाह को भी अपना करीबी बताया है. इस वायरल वीडियो में संजय राउत ने पीएम मोदी की तारीफ करते हुए उन्हें भाजपा की श्रीकृष्ण तक कह दिया था. और, शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे और पीएम नरेंद्र मोदी के बीच भावनात्मक रिश्ते की दुहाई देते भी नजर आए थे. केतकी चितले ने वीडियो ट्वीट करते हुए लिखा है कि 'नॉटी ने पीएम मोदी को काफी मक्खन लगाया था. लेकिन कुछ काम नही आया.' 

घर में मिले रुपये, 'अयोध्या दौरे' के लिए थे

प्रवर्तन निदेशालय को संजय राउत के घर पर छापेमारी में 11.5 लाख रुपये मिले थे. मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया था कि संजय राउत इन पैसों की जानकारी नही दे पाए थे. जिसके बाद 11.5 लाख रुपये जब्त कर लिए गए थे. हालांकि, संजय राउत के भाई सुनील राउत ने दावा किया है कि ये रुपये शिवसैनिकों के अयोध्या दौरे के लिए रखी गई थी. और, नोटों के बंडल पर महाराष्ट्र के सीएम और बागी शिवसेना नेता एकनाथ शिंदे का नाम भी लिखा था. वैसे, संजय के भाई का ये दावा कई सवाल खड़े करता है. क्योंकि, आदित्य ठाकरे का अयोध्या दौरा जून महीने में 15 तारीख को हुआ था. जिसे बीते हुए करीब डेढ़ महीने हो गए थे. अगर यह पैसा अयोध्या दौरे का था. तो, अब तक संजय राउत के घर पर क्यों था? मान भी लिया जाए कि ये रुपये अयोध्या दौरे के लिए थे, तो ये पैसे किसके हैं और कहां से आए हैं? इसका जवाब अभी तक नहीं दिया गया है.

एकनाथ शिंदे का 'नॉटी' तंज

महाराष्ट्र में संजय राउत की गिरफ्तारी पर आरोप-प्रत्यारोप की सियासत तेज हो गई है. महाविकास आघाड़ी गठबंधन में शामिल एनसीपी, कांग्रेस और शिवसेना एक सुर में भाजपा के खिलाफ केंद्रीय एजेंसियों के दुरुपयोग का आरोप लगा रहे हैं. इन सबके बीच महाराष्ट्र के सीएम एकनाथ शिंदे ने राउत पर तंज कसते हुए कहा है कि 'रोज सुबह आठ बजे बजने वाला भोंपू अंदर गया. अगर संजय राउत बेकसूर हैं. तो, उन्हें डरना नहीं चाहिए.'

लेखक

देवेश त्रिपाठी देवेश त्रिपाठी @devesh.r.tripathi

लेखक इंडिया टुडे डिजिटल में पत्रकार हैं. राजनीतिक और समसामयिक मुद्दों पर लिखने का शौक है.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय