charcha me| 

सोशल मीडिया

 |  4-मिनट में पढ़ें  |   08-10-2018
पारुल चंद्रा
पारुल चंद्रा
  @parulchandraa
  • Total Shares

फेसबुक अब डराने लग गया है. आए दिन कुछ न कुछ सुनने मिलता है. कभी फेसबुक कहता है कि 5 करोड़ यूजर्स के अकाउंट हैक हो गए हैं, कभी कोई अकाउंट हैक करके पैसे मांगने की खबर आती है तो कभी अकाउंट का क्लोन बनाने की. अभी मेरी फ्रेंड लिस्ट के दो तीन लोगों ने मेसेज करते कहा कि मेरे नाम से अगर कोई फ्रेंड रिक्वेस्ट आए तो एक्सेप्ट मत करना. सोचा किसी ने बदमाशी की होगी, लेकिन जब खबर सोशल मीडिया पर फैल गई तो चिंतित होना बनता है.

facebook msgये मैसेज वायरल हो रहा है

इस वायरल हुए मैसेज में कहा गया है कि-

''कल मुझे आपकी तरफ से एक और फ्रेंड रिक्वेस्ट मिली, जिसे मैंने नजरअंदाज कर दिया ताकि आप अपना अकाउंट चेक कर सकें. अपनी उंगली को इस मैसेज पर तब तक रखें जब तक फॉरवर्ड बटन न दिखे, उसके बाद इस मैसेज को उन सभी लोगों को फॉरवर्ड करें, जिन्हें आप करना चाहते हैं. मैंने सभी लोगों को कर दिया है. गुड लक!''

लोग इस मैसेज का धड़ाधड़ शेयर भी कर रहे हैं. क्योंकि इस मैसेज से लोग चिंतित हैं. लेकिन अब इस तरह का कोई मैसेज आपके पास आता है तो उसे या तो इग्नोर कर दें या फिर डिलीट करें, आगे फॉर्वर्ड मत करें. क्योंकि ये फेक है. हालांकि 2016 में मास क्लोनिंग स्कैम की खबरें आई थीं, लेकिन फेसबुक का कहना है कि इस वायरल मैसेज का अकाउंट क्लोनिंग से कोई भी संबंध नहीं है. ये मैसेज फेक है.

पहले जान लें कि क्लोन अकाउंट है क्या

यदि कोई व्यक्ति आपके फेसबुक अकाउंट से आपकी फोटो, नाम और अन्य जानकारी चुराकर दूसरा अकाउंट बना लेता है, तो उस अकाउंट को क्लोन अकाउंट कहते हैं. क्लोन अकाउंट या फेक अकाउंट या डुप्लीकेट अकाउंट इसे कुछ भी कह सकते हैं. बड़े-बड़े लोगों के क्लोन अकाउंट आपको आसानी से दिख जाएंगे. लेकिन आपका क्लोन बना है या नहीं उसके लिए आपको फेसबुक पर अपने नाम सर्च करना होगा. आपके नाम जैसे और भी अकाउंट्स हो सकते हैं लेकिन नाम और फोटो भी अगर एक जैसा हो तो उसे तुरंत रिपोर्ट करें. फेसबुक उसे डिलीट कर देगा.

हालांकि ये क्लोनिंग है जो हैकिंग से अलग होती है. क्लोनिंग में एक ही नाम से एक डुप्लीकेट अकाउंट बनाया जाता है, जबकि हैकिंग में हैकर अकाउंट को एक्सेस कर सकता है. लेकिन क्लोनिंग में डर ये है कि अगर उस अकाउंट से आपके और मित्र भी जुड़ जाएं तो वो आपके नाम पर कुछ भी पोस्ट कर सकता है. ऐसा कई बार देखा गया है कि बदला लेने की नियत से कई बार लोग इस तरह के अकाउंट बनाकर अश्लील तस्वीरें या अश्लील मेसेज फेसबुक पर पोस्ट कर देते हैं.

फेक अकाउंट का आतंक किस तरह फैला है ये दो नाम आपको बता रहे हैं. महात्मा गांधी हों या नरेंद्र मोदी, आपको असंख्य अकाउंट्स मिल जाएंगे. और आश्चर्य मत करिएगा जब किसी फिल्मी सितारे की तरफ से आपको फ्रेंड रिक्वेस्ट आ जाए.

clone accountआप भी सर्च करके देखें कितने क्लोन अकाउंट मिलेंगे

अपनी सुरक्षा अपने हाथ, ऐसे रहें सिक्योर

- क्लोनिंग और हैकिंग दोनों ही खतरकनाक हैं. इससे बचने के लिए अपने फेसबुक प्रोफाइल पिक पर सिक्योरिटी गार्ड लगाएं.

- अपने फोटोज पोस्ट करते वक्त भी ध्यान रखें कि वो केवल दोस्तों को दिखें या फिर उन्हें प्राइवेट रखें. अपनी तस्वीरें निजी रखें, पब्लिक न करें. और अपने दोस्तों की निजी तस्वीरें भी शेयर करने से बचें.

- अपनी कोई भी निजी जानकारी खासकर अपना मोबाइल नंबर पब्लिक न करें.

- लोग अपनी पूरी डेट ऑफ बर्थ भी प्रोफाइल में लिख देते हैं. ऐसा करने से किसी को भी आसानी से आपकी पूरी जानकारी मिल जाती है और उसका गलत इस्तेमाल किया जा सकता है.

- किसी की भी फ्रेंड रिक्वेस्ट एक्सेप्ट मत करें, पहले उसकी पड़ताल करें, देखें कि वो फेक तो नहीं है, तब ही एक्सेप्ट करें.

ये भी पढ़ें-

घरवालों को फेसबुक पर दोस्त बनाना आखिर क्यों भारी पड़ता है?

ऐसे पता चलेगा आपने कितना समय फेसबुक पर कर दिया बर्बाद, लत लगने से बचाएं खुद को !

लेखक

पारुल चंद्रा पारुल चंद्रा @parulchandraa

लेखक इंडिया टुडे डिजिटल में पत्रकार हैं

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय