charcha me| 

होम -> सोशल मीडिया

 |  5-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 10 मई, 2022 07:46 PM
देवेश त्रिपाठी
देवेश त्रिपाठी
  @devesh.r.tripathi
  • Total Shares

भारत में टिकटॉक बैन हो चुका है. लेकिन, इंस्टाग्राम रील्स (Instagram Reels) जैसे दर्जनों शॉर्ट वीडियो प्लेटफॉर्म युवाओं के बीच तेजी से लोकप्रिय हो रहे हैं. सस्ती शोहरत और पैसों कमाने के लिए लोग अपनी जान से भी खेलने में नहीं कतराते हैं. इतना ही नहीं, रील्स का जादू युवाओं के सिर पर इस कदर सिर चढ़कर बोल रहा है कि इसे बनाने के लिए दूसरों की जान आफत में डालने से भी कोई इन्हें कोई गुरेज नही है. क्योंकि, सोशल मीडिया पर ट्रेंड को फॉलो करते हुए रील्स बनाने में मजा नहीं आता. लीक से हटकर कुछ कर दिखाने के चक्कर में लोग फर्जी में सलमान खान बने जा रहे हैं. आसान शब्दों में कहा जाए, तो Reels के चक्कर में 'सलमान खान' बनना मानसिक बीमारी बन गई है. 

 
 
 
View this post on Instagram

A post shared by Azam Ansari (@azam00ansari)

पहले जानते हैं कौन बना सलमान खान...

उत्तर प्रदेश पुलिस ने लखनऊ में बॉलीवुड एक्टर सलमान खान के 'स्वघोषित' डुप्लीकेट आजम अंसारी को गिरफ्तार किया था. आजम अंसारी के खिलाफ शांतिभंग की धारा में चालान किया गया. दरअसल, आजम अंसारी खुद को सलमान खान मानते हुए ठाकुरगंज पुलिस थाने के अंतर्गत आने वाले क्लॉक टॉवर पर रील बना रहे थे. जिसके बाद पुलिस ने आजम अंसारी को गिरफ्तार कर लिया. उत्तर प्रदेश पुलिस के अनुसार, आजम अंसारी इससे पहले भी कई बार अर्धनग्न अवस्था में बीच सड़क पर और सार्वजनिक जगहों पर सिगरेट पीते हुए रील्स बनाते हुए नजर आ चुके हैं. आजम अंसारी की सोशल मीडिया पर अच्छी-खासी फैन फॉलोइंग है.

सलमान खान बनना क्यों बन गई मानसिक बीमारी?

बीते दिनों अभिनेत्री कंगना रनौत के शो 'लॉक अप' में भी ऐसी ही एक टिकटॉक स्टार अंजलि अरोड़ा ने काफी सुर्खियां बटोरी थीं. लिखी सी बात है कि इस शो में रहने के लिए अंजलि अरोड़ा को अच्छे-खासे पैसे भी दिए गए होंगे. और, ये सब कुछ अंजलि अरोड़ा को मिला ट्रेंडिंग रील्स बनाने से. दरअसल, सोशल मीडिया पर रील्स एक ऐसा जरिया बन चुके है, जिसके सहारे शोहरत और पैसा कमाना आसान हो गया है. लेकिन, इससे भी ज्यादा इन रील्स ने लोगों को आत्ममुग्ध बना दिया है. रील्स बनाने वाले लोगों में आत्ममुग्धता इस कदर घर कर गई है कि सलमान खान की तरह बॉडी बना लेने भर से वो खुद को सलमान खान मानने लगते हैं. जबकि, असल में उनकी शक्ल का छोटा सा भी हिस्सा सलमान खान से नहीं मिलता है. 

अपनी पुरानी फिल्मों में जिस तरह सलमान खान सिगरेट पीते थे, अर्धनग्न हालात में बीच पर डांस करते थे. ठीक उसी तरह आजम अंसारी भी लखनऊ के चौक-चौराहे पर कपड़े उतार कर रील्स बनाने में जुट जाता था. पुलिस के अनुसार, आजम अंसारी की इस कलाकारी को देखने के लिए भीड़ भी इकट्ठा हो जाती थी. जिससे ट्रैफिक जाम जैसी समस्याएं भी पैदा हो जाती थीं. आसान शब्दों में कहा जाए, तो ऐसे 'स्वघोषित' सलमान खान खुद को फेमस बनाने के चक्कर में नियमों को ताक में रखने में भी कोताही नहीं करते हैं. और, डॉक्टरों की भाषा में ऐसे ही लोगों को मानसिक बीमार कहा जाता है. हालांकि, चलते ट्रैफिक के साथ बीच सड़क पर रील्स बनाने के चस्के को देखते हुए गाड़ी चलाने वाला इन्हें पागलों की श्रेणी में रखता होगा. लेकिन, ये खुद को सलमान खान ही मानते हैं.

कितने सलमान खानों को बंद करेगी पुलिस?

उत्तर प्रदेश पुलिस ने आजम अंसारी को गिरफ्तार कर फिलहाल के लिए उन पर रोक लगा दी है. लेकिन, छूटने के बाद क्या आजम अंसारी की ये लत खत्म हो जाएगी? क्या खुद को सलमान खान मानने वाला ये शख्स दोबारा ऐसी कोई हरकत नहीं करेगा? ऐसे दर्जनों सवाल सलमान खान का डुप्लीकेट बनकर घूमने और वीडियो बनाने वाले आजम अंसारी पर खड़े किए जा सकते हैं. वैसे, बताना जरूरी है कि बीते दो दिनों में ही उत्तर प्रदेश पुलिस ने गाजियाबाद में इसी तरह के दो  रील्स कलाकारों को गिरफ्तार किया है. और, इस तरह की कार्रवाईयां होती रही हैं. लेकिन, लोगों के सिर से इसका भूत नहीं उतरता है. 

 
 
 
View this post on Instagram

A post shared by Azam Ansari (@azam00ansari)

मेरी राय...

आजम अंसारी जैसे लोगों को कुछ समय के लिए किसी मशहूर पागलखाने यानी मेंटल असाइलम में रखना चाहिए. और, उनकी मानसिक स्थिति को सुधरने की कोशिश करनी चाहिए. क्योंकि, तेरे नाम फिल्म की तरह सिर पर बालों का विग लगा लेने, मुझसे शादी करोगी फिल्म की तरह घास-फूस के कपड़े पहन कर डांस करने से, सलमान खान की तरह अधनंगा होकर रील्स बनाने की आदत इतनी आसानी से नहीं छुड़वाई जा सकती है. पुलिस को इनकी अच्छी तरह से खातिरदारी करना चाहिए. ताकि, अगली बार कानून तोड़ने से पहले सौ बार सोचें.

लेखक

देवेश त्रिपाठी देवेश त्रिपाठी @devesh.r.tripathi

लेखक इंडिया टुडे डिजिटल में पत्रकार हैं. राजनीतिक और समसामयिक मुद्दों पर लिखने का शौक है.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय