होम -> सियासत

 |  7-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 18 मार्च, 2021 02:48 PM
बिलाल एम जाफ़री
बिलाल एम जाफ़री
  @bilal.jafri.7
  • Total Shares

90 के दशक के बहुत बाद तक बॉलीवुड में ऐसी फिल्मों की भरमार थी जिसमें किसी 'शरीफ' या 'इज्जतदार' को फंसाने के लिए विलेन के गुर्गे उसके पास एक महिला भेज दिया करते दोनों अंतरंग होते उनके प्राइवेट मूमेंट्स शूट होते बाद में उस व्यक्ति को ब्लैकमेल किया जाता. ऐसी फिल्मों में हर वो एलिमेंट होता जिसे दर्शक खूब पसंद करते और फ़िल्म बॉक्स ऑफिस पर रिकॉर्ड तोड़ कमाई करती. ऐसा नहीं है कि ये प्रथा यूं ही है या फिर इसे केवल फिल्मों तक ही सीमित किया गया है. मौके बेमौके हमारे सामने ऐसी तमाम घटनाएं आ जाती हैं जिनमें किसी शरीफजादे या इज्जतदार की सीडी बनी और तूफ़ान खड़ा हो गया. ऐसी ही एक सेक्स सीडी ने कर्नाटक की सियासत में भूचाल ला दिया है. बीते दिनों कर्नाटक के एक मंत्री रमेश जारकीहोली का एक सेक्स टेप वायरल हुआ था. कर्नाटक सरकार में मंत्री रमेश जारकीहोली पर आरोप था कि उन्होंने कर्नाटक पावर ट्रांसमिशन कॉरपोरेशन लिमिटेड (KPTCL) में एक महिला को नौकरी दिलाने के नाम पर उसका यौन उत्पीड़न किया, लेकिन बाद में वह अपने वादे से मुकर गए. पुलिस अभी इस मामले की जांच कर ही रही थी कि इस मामले में एक नया पेंच फंस गया है और पूरी कहानी किसी फिल्म के जैसी हो गयी है. मंत्री के खिलाफ अब पीड़ित लड़की के माता पिता खुलकर सामने आए हैं और उन्होंने तमाम तरह के गंभीर आरोप लगाए हैं. लड़की के माता पिता का कहना है कि उनकी लड़की का अपरहण हो गया है और उसकी जान को खतरा है. लड़की के माता पिता ने बेलगावी के एपीएमसी पुलिस स्टेशन में मामले की शिकायत दर्ज कराई है जिससे पुलिस भी खासी कंफ्यूज है.

Karnataka, Sex CD, Viral Video. Ramesh Jarkiholi, BJP, Resignation, Job, Congressकर्नाटक सीडी विवाद में लड़की के माता पिता के सामने आने के बाद मामला बहुत पेंचीदा हो गया है

फिलहाल पुलिस ने लड़की के पिता से प्राप्त शिकायत के बाद आईपीसी की धारा 363, 368, 343, 346, 354 और 506 के अंतर्गत केस दर्ज कर लिया है और इस पूरे मामले की जांच नए सिरे से शुरू कर दी है.मामले के मद्देनजर लड़की के पिता ने एक वीडियो भी रिलीज किया है जिसमें उन्हें ये कहते सुना जा सकता है कि उनकी बेटी की जान को खतरा है ऐसा इसलिए क्यों कि मामला सामने आने के बाद से ही उनकी बेटी गायब है.

लड़की की मां ने बेटी से हुई आखिरी बातचीत का हवाला देकर कहा है कि घटना के बाद मैंने अपनी बेटी को फोन किया था और बताया था कि टीवी पर एक आपत्तिजनक वीडियो प्रसारित हो रहा है. उसमें जो लड़की दिखाई दे रही है उसका हुलिया उससे मिल रहा है. इसपर लड़की ने कहा था कि इस वीडियो के बारे में उसे कोई जानकारी नहीं है.. और वो पूरी तरह से फेक है. फ़ोन पर लड़की ने अपने मां बाप से ये भी कहा था कि उसने कुछ भी गलत नहीं किया है. इसके बाद जब लडक़ी से घर आने की बात कही गई तो उसने ये कहकर घर आने से मना कर दिया कि उसकी जान को खतरा है.

गायब होने से पहले लड़की ने अपने माता पिता को इस बात से अवगत कराया था कि वो पूरी तरह से सेफ है और कुछ दिनों तक उसके मैसेज भी आए जोकि अब आने बंद हो गए हैं और लड़की का फोन भी ऑफ है. मामले के मद्देनजर लड़की की मां ने ये भी कहा है कि बाद में उन्होंने अपनी बेटी का एक वीडियो और देखा जिसमें उसने आत्महत्या कर मरने की बात कही थी.

गौरतलब है कि कर्नाटक की सियासत में भूचाल अभी बीते दिनों तब आया जब एक सेक्स सीडी स्कैंडल सामने आया और राज्य सरकार में मंत्री रमेश जारकीहोली दोषी पाए गए. मंत्री पर आरोप था कि उन्होंने नौकरी का लालच देकर लड़की का यौन शोषण किया. बाद में जब विवाद बढ़ा तो उन्होंने अपने पद से इस्तीफ़ा तो दिया है साथ ही ये कहकर विरोध में बुलंद आवाजों को दबाने का प्रयास किया कि उनके खिलाफ साजिश हुई है.

मामले पर अपनी सफाई पेश करते हुए  रमेश जारकीहोली कहा कि, उनकी जो सीडी वायरल हुई है उसमें कोई सच्चाई नहीं है. यह एक साजिश है. मैं निर्दोष हूं. मुझे कुछ दिन पहले ही इस सीडी के बारे में पता चला था और इसकी जानकारी मैंने अपने भाई को दी थी.

अपने इस्तीफे पर बात करते हुए रमेश जारकीहोली ने कहा था कि ऐसा करने के लिए उन्हें हाई कमान ने प्रेरित किया था. जारकीहोली ने कहा था कि हाई कमान ने उनसे कहा था कि यदि वो अपना इस्तीफ़ा देते हैं तो उन्हें कानूनी मदद मिल जाएगी. उस दौरान भी मैंने यही कहा था कि मैं इससे लडूंगा, मीडिया ने मुझे नायक और खलनायक बनाया, इस्तीफ़ा मेरा फैसला है. मैंने इस्तीफ़ा देने से पहले एक रात इसके बारे में पूर्ण विचार किया और ये भी सोचा कि इस इस्तीफे के परिणाम क्या होंगे.

ध्यान रहे रमेश जारकीहोली के इस्तीफे के मद्देनजर कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा का नाम आ रहा है इसपर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए रमेश जारकीहोली ने कहा कि इस्तीफे के लिए येदियुरप्पा ने उनसे कुछ भी नहीं कहा ये उनका फैसला था. जारकीहोली कड़े अनुसार मैं नहीं चाहता कि पार्टी शर्मिंदा हो.

बताते चलें कि मामला हाई प्रोफाइल होने के कारण खूब सुर्खियां बटोर रहा है. साथ ही पुलिस भी जांच में जुट गयी है और सभी पहलूओं की विस्तृत जांच हो रही है. ध्यान रहे सामाजिक कार्यकर्ता और नागरिक हक्कू होरता समिति के अध्यक्ष दिनेश कल्लाहल्ली ने मीडिया को सीडी जारी की थी और उसके बाद से ही कर्णाटक की सियासत में सियासी घमासान मचना शुरू हो गया है. मंत्री रमेश जारकीहोली राज्य सरकार और राज्य के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा विपक्ष और आलोचकों के निशाने पर हैं. सवाल राज्य की कानून व्यवस्था के मद्देनजर हो रहा है और कहा यही जा रहा है कि येदियुरप्पा के राज्य में कुछ इस तरह महिलाओं को सुरक्षा दी जा रही है और उनका सम्मान किया जा रहा है.

बात कर्नाटक के सन्दर्भ में हो रही है तो ये बताना बहुत जरूरी है कि कर्नाटक में सेक्स सीडी स्कैंडल कोई नयी बात नहीं है. 2019 में भी कर्नाटक में कुछ ऐसा ही हुआ था तब भाजपा के अरविंद लिम्बावल्ली ने आरोप लगाया था कि उनके पॉलिटिकल राइवल्स उन्हें बदनाम करने के लिए अश्लील सामग्री को प्रचारित और प्रसारित कर रहे हैं. बात उस सीडी की हो तो उसमें साफ़ देखा जा सकता है कि वर्तमान येदियुरप्पा सरकार में मंत्री अरविंद लिम्बावल्ली एक महिला पार्टी वर्कर के साथ अश्लील हरकटी कर रहे थे. इसी तरह कांग्रेस नेता एच व्हाई मेति और भाजपा के एमएलए रेणुकाचार्य की भी एक सीडी 2019 में वायरल हुई थी जिसने कर्नाटक की सियासत में गर्मी पैदा की थी. 

बहरहाल बात  सेक्स सीडी विवाद की चल रही है तो अब जिस तरह पीडीटी लड़की के घरवाले सामने आए हैं और उन्होंने अपनी लड़की के गायब होने की बात कहते हुए पुलिस में शिकायत की है यकीनन मामला पेचीदा हो गया है और ऐसा प्रतीत हो रहा है कि हमारे सामने एक ऐसी फिल्म चल रही है जिसके क्लाइमेक्स से हम अनजान हैं. बाकी जैसा कन्यूजन मामले में स्थापित हुआ है इतना तो तय है कि जैसे जैसे दिन बीतेंगे इसमें ऐसा बहुत कुछ निकलेगा जो रमेश जारकीहोली के अलावा स्वयं राज्य के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा और उनके निजाम को मुसीबत में डालेगा. कुल मिलाकर कहा यही जा सकता है कि कर्णाटक सेक्स सीडी विवाद के मद्देनजर आने वाला वक़्त खासा दिलचस्प और सस्पेंस से भरा हुआ है.

ये भी पढ़ें -

राजस्थान का बारन हो या फिर यूपी और बिहार बदला लेने के लिए आसान टार्गेट महिलाओं की इज्जत है!

बेटियों के पहनावे को पिता ही जज करे, तो समाज क्यों न करे!

कंगना रनौत को उनके कंन्फ्यूजन ने बनाया 'कंट्रोवर्सी क्वीन'

लेखक

बिलाल एम जाफ़री बिलाल एम जाफ़री @bilal.jafri.7

लेखक इंडिया टुडे डिजिटल में पत्रकार हैं.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय