होम -> सिनेमा

 |  4-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 27 मार्च, 2019 08:26 PM
अनुज मौर्या
अनुज मौर्या
  @anujmaurya87
  • Total Shares

इस बार के लोकसभा चुनाव से पहले फिल्मों के जरिए सियासत का दौर चल पड़ा है. पहले नरेंद्र मोदी की बायोपिक 'पीएम नरेंद्र मोदी' बनी और फिर लाल बहादुर शास्त्री की मौत पर 'द ताशकंद फाइल्स'. इस लिस्ट में अब एक नया नाम जुड़ गया है 'मोदी: जर्नी ऑफ ए कॉमन मैन'. हालांकि, ये कोई फिल्म नहीं, बल्कि एक वेब सीरीज है. इरोज नाउ ने इसका ट्रेलर लॉन्च किया है, जिसे खूब देखा जा रहा है.

पीएम मोदी पर बनी इस वेब सीरीज का ट्रेलर देखकर ये साफ कहा जा सकता है कि ये विवेक अग्निहोत्री द्वारा बनाई गई पीएम मोदी की बायोपिक से काफी बेहतर है. विवेक अग्निहोत्री ने सबसे बड़ी गलती तो पीएम मोदी के किरदार के लिए विवेक ओबेरॉय को चुनकर की है. विवेक ओबेरॉय में पीएम मोदी की झलक भले ही ना दिखे, लेकिन वेब सीरीज 'मोदी: जर्नी ऑफ ए कॉमन मैन' में नरेंद्र मोदी का किरदार निभा रहे महेश ठाकुर को एक नजर देखने पर यही लगता है जैसे वाकई पीएम मोदी ही हों.

नरेंद्र मोदी, फिल्म, वेब सीरीज, राजनीति, लोकसभा चुनाव 2019पीएम मोदी पर बनी फिल्म में मोदी बनावटी (दाएं) लग रहे हैं, लेकिन वेब सीरीज में नहीं.

मिर्च-मसाला नहीं, वास्तविकता की झलक

विवेक अग्निहोत्री की फिल्म 'पीएम नरेंद्र मोदी' का ट्रेलर देखकर साफ होता है कि फिल्म को भाजपा की बढ़ाई करने के लिए बनाया गया है. फिल्म का ट्रेलर ही दिखा रहा है कि पूरी फिल्म में सिर्फ पीएम मोदी के राजनीतिक करियर की बात की गई है. वैसे भी, विवेक अग्निहोत्री खुद कांग्रेस और लेफ्ट के खिलाफ बोलते हैं, तो उनकी फिल्म में भी वही सब दिखेगा, जैसा कि ट्रेलर में है. लेकिन वेब सीरीज के साथ ऐसा नहीं है. पहले देखिए विवेक अग्निहोत्री की फिल्म 'पीएम नरेंद्र मोदी' का ट्रेलर.

वेब सीरीज 'मोदी: जर्नी ऑफ ए कॉमन मैन' में पीएम मोदी की राजनीति से ज्यादा उनके जीवन का संघर्ष दिया गया है. जैसा कि सीरीज का नाम है, जर्नी ऑफ ए कॉमन मैन, इसमें पीएम मोदी के बचपन, जवानी और रजानीतिक करियर को दिखाया गया है. इस वेब सीरीज को बनाया है ओ माय गॉड के डायरेक्टर उमेश शुक्ला ने. वेब सीरीज के बारे में शुक्ला ने पहले ही साफ कर दिया था कि वह किसी फिल्मी सितारे को लेकर वेब सीरीज नहीं बनाएंगे, क्योंकि ऐसे में लोग मोदी की कहानी में एक एक्टर को ढूंढ़ने लगेंगे. उन्होंने कहा था कि वह अच्छे एक्टर्स को लेंगे और वेब सीरीज का ट्रेलर देखकर ये साफ हो जाता है कि उमेश शुक्ला ने वेब सीरीज के लिए बेहतरीन एक्टर चुने हैं.

जहां पले-बढ़े मोदी, वहीं की शूटिंग!

ये वेब सीरीज 10 एपिसोड की होगी, जिसका 3.16 मिनट का ट्रेलर स्ट्रीमिंग वेबसाइट EROSNOW पर रिलीज किया गया है. इसमें मोदी को वडनगर स्टेशन पर चाय बेचते, गाय को चारा खिलाते, कबड्डी खेलते और समाज कल्याण के लिए पैसे जुटाते भी दिखाया गया है. इस वेब सीरीज को गुजरात के ग्रामीण इलाकों सिद्धपुर और वडनगर जैसी जगहों पर भी फिल्माया गया है, जहां पीएम मोदी बड़े हुए हैं.

विवेक अग्निहोत्री की फिल्म 'पीएम नरेंद्र मोदी' पहले ही जावेद अख्तर और समीर का नाम फिल्म के ट्रेलर में दिखाने की वजह से विवादों में है. वहीं दूसरी ओर, कांग्रेस भी इस फिल्म की रिलीज को रोकने के लिए चुनाव आयोग के दरवाजे पर पहुंच चुकी है और 5 अप्रैल को इसकी रिलीज पर खतरा मंडरा रहा है. दरअसल, आचार संहिता लगी हुई है और कांग्रेस का मानना है कि इस फिल्म की वजह से पीएम मोदी का प्रचार हो रहा है. लेकिन अगर बात करें उमेश शुक्ला की 'मोदी: जर्नी ऑफ ए कॉमन मैन' की, तो पहली बात तो ये कि फिल्म नहीं, बल्कि वेब सीरीज है. अभी तक इसकी रिलीज डेट जारी नहीं की गई है, हां ये जरूर कहा गया है कि इसे अप्रैल में रिलीज किया जाएगा. अभी तक इस वेब सीरीज को लेकर कोई विवाद नहीं हुआ है. ऐसे में अगर वेब सीरीज रिलीज हो जाती है और फिर भले ही इसके खिलाफ कोई चुनाव आयोग चला जाएगा, तो जब तक इस पर रोक लगेगी, तब तक तो देशभर के लोग इसे देख चुके होंगे.

ये भी पढ़ें-

The Tashkent Files के वो डायलॉग जो कांग्रेस और गांधी परिवार को ध्यान में रखकर लिखे गए

Tashkent Files: शास्त्री जी की मौत का राज़ हमेशा ही सवाल खड़े करता है

सपना चौधरी का कांग्रेस जॉइन करना, छोड़ना 'बिग बॉस' स्क्रिप्ट का हिस्सा था!

लेखक

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय