होम -> सिनेमा

 |  5-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 19 नवम्बर, 2020 08:15 PM
बिलाल एम जाफ़री
बिलाल एम जाफ़री
  @bilal.jafri.7
  • Total Shares

विदेशों में तो काफी समय पहले से था, लेकिन भारत में लोगों को OTT का चस्का कारोना वायरस (Coronavirus) की बदौलत चढ़ा. कोरोना काल में सिनेमाघर बंद थे और क्योंकि तनाव में घिरे आदमी के लिए मनोरंजन ज़रूरी होता है इस बात को निर्माता निर्देशकों ने वक़्त रहते समझा और आज एक से बढ़कर एक OTT प्लेटफॉर्म और वेब सीरीज हमारे सामने हैं. चूंकि भारतीय ऑडियंस हमेशा ही क्राइम के प्रति आकर्षित हुई है इसलिए जिन वेब सीरीज को देश की जनता ने हाथों हाथ लिया उनका कंटेंट या तो सस्पेंस ओरिएंटेड था या फिर वो अपराध के सियाह गलियारों को दर्शाती हैं. इतिहास फिर से दोहराया गया है. दर्शक एक बार फिर अपराध और सस्पेंस के मिले जुले कॉकटेल से रु ब रु होने जा रहे हैं. Zee5 और ऑल्ट बालाजी (Alt Balaji) पर जल्द ही नई वेब सीरीज 'बिच्छू का खेल' (Bicchoo Ka Khel) शुरू होने वाली है जिसमें अमेजन प्राइम की चर्चित वेब सीरीज मिर्जापुर से पॉपुलर हुए 'मुन्ना भइया' यानी दिव्येन्दु (Divyendu Sharma) एक ऐसा रोल करते दिखेंगे जो न सिर्फ चैलेंजिंग है बल्कि जो दर्शकों का भरपूर मनोरंजन करेगा.

Divyendu Sharma, Zee5, Alt Balaji, Bicchoo Ka Khel, Bicchoo Ka Kheel Zee5माना जा रहा है कि अपने आप में बिलकुल नयी तरह की कहानी है बिच्छू का खेल

'जी 5 और आल्ट बालाजी की जल्द आने वाली सीरीज 'बिच्छू का खेल' को लेकर बज़ बना हुआ है. जैसा कि ट्रेलर को देखने पर मालूम चल रहा है दिव्येन्दु इस वेब सीरीज में अखिल श्रीवास्तव के किरदार में हैं.

तो आखिर क्या है बिच्छू का खेल

बात अगर कहानी की हो तो ट्रेलर में दिखाया गया है कि अखिल के पिता की मौत पुलिस कस्टडी में हो जाती है. अखिल इसे अपने पर लेता है और ये पता लगाने में जुट जाता है कि पिता की मौत का असली कारण क्या है और वो कौन कौन लोग है जो उसके पिता की मौत के लिए जिम्मेदार हैं.

अखिल के लिए सच का पता लगाना इतना भी आसान नहीं है. सीरीज में उन तमाम चुनैतियों को दिखाया गया है जिनका सामना अखिल को करना पड़ता है. बात क्यों कि ट्रेलर की चली है तो ये बताना भी ज़रूरी हो जाता है कि सिर्फ दिव्येन्दु ही नहीं 'बिच्छू के खेल' में अन्य कलाकार भी हैं जिन्होंने अपना रोल शिद्दत से निभाया है और अपनी तरफ से पूरी कोशिश की है कि सीरीज हिट हो.

कहानी का बैकड्रॉप चूंकि उत्तर प्रदेश है इसलिए इसे देखते हुए उन्हें कुछ वैसी ही अनुभूति होगी जैसा उन्होंने मिर्जापुर सीजन 1 और 2, पाताललोक को देखते हुए की थी.

दो अलग लोग हैं अखिल और मुन्ना

जब ये घोषणा हुई कि मिर्जापुर सीजन 2 के बाद दिव्येन्दु 'बिच्छू का खेल' में नजर आने वाले हैं मीडिया ने उनसे बात की. अपने इस रोल पर दिव्येन्दु का कहना था कि मुन्ना और अखिल एक दूसरे से बिल्कुल अलग लोग हैं. मुन्ना दिल की सुनता है तो वहीं अखिल अपने किसी भी फैसले के लिए अपने दिमाग का इस्तेमाल करता है.

अखिल एक लेखक बनना चाहता है मगर हालात कुछ ऐसे बनते हैं जिनके चलते उसे अपने सपने को बीच में ही अधूरा छोड़ना पड़ता है. अपने रोल पर बात करते हुए दिव्येन्दु ने भी कहा कि 'बिच्छू का खेल' में एक दो मौके ही ऐसे आए हैं जब उसने बंदूक उठाई है जबकि मिर्जापुर में ऐसा बिल्कुल भी नहीं था.

'बिच्छू का खेल' हमारे सामने है. सीरीज हिट होती है या फिर फ्लॉप करार दी जाती है इसका फैसला वक़्त करेगा लेकिन जैसा माहौल इस वेब सीरीज को लेकर सोशल मीडिया पर बना है और जिस तरह का रिस्पांस फैंस दे रहे हैं बिच्छू का खेल ज़बरदस्त होने वाला है.

अन्य कलाकारों की अपेक्षा सीरीज की यूएसपी दिव्येन्दु हैं इसलिए उनसे उम्मीदें ज्यादा हैं. ऐसे में वो अपने रोल से इंसाफ कर पाते हैं या नहीं ये देखना भी दिलचस्प रहेगा.

ये भी पढ़ें -

Ashram-2 के बाद लोगों की आंखों की किरकिरी बन गए हैं प्रकाश झा और बॉबी देओल!

Ludo इसलिए भी देखिये क्योंकि अच्छी बॉलीवुड फ़िल्में कम ही आती हैं...

Laxmii और अक्षय कुमार के विरोध ने राजनीति के सभी धड़ों को एक कर दिया

लेखक

बिलाल एम जाफ़री बिलाल एम जाफ़री @bilal.jafri.7

लेखक इंडिया टुडे डिजिटल में पत्रकार हैं.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय