charcha me| 

होम -> सिनेमा

 |  एक अलग नज़रिया  |  3-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 14 सितम्बर, 2021 09:36 PM
ज्योति गुप्ता
ज्योति गुप्ता
  @jyoti.gupta.01
  • Total Shares

बॉलीवुड अभिनेता आयुष्मान खुराना (Ayushmann Khurrana birthday) का नाम सुनते ही हमें लीक से हटकर फिल्मों की याद आती है. लोग कहते हैं कि आयुष्मान हिट फिल्मों की मशीन हैं. एक वक्त था जब दुनियां शाहरुख, सलमान और आमिर खान की दिवानी हुआ करती थी. हालांकि हर सितारे का एक समय होता है.

शाहरुख खान का भी एक दौर था, सलमान खान का भी था और अब आयुष्मान खुराना का है. लोग कहते हैं कि आयुष्मान खुराना एकदम अक्षय कुमार की राह पर चल चुके हैं. इनकी फिल्में लीग से हटकर भी होती हैं और कम बजट में बनने के बावजूद लोगों पर जादू चलाती हैं.

आयुष्मान ने कड़ी मेहनत और अभिनय के दम पर यह मुकाम हांसिल किया है. उन्होनें टीवी एंकरिंग भी की है. उनके कई गाने भी सुपर हिट हुए हैं. आज वे लोगों के दिलों पर राज करते हैं. आयुष्मान ने उन किरदारों को निभाया है जिन्हें करने से ज्यादातर अभिनेता कतराते हैं. इसी के दम पर आयुष्मान आज सबके चहेते बन गए हैं.

Dream Girl,Shubh Mangal Savdhan,Ayushmann Khurrana,bala,Ayushmann Khurrana filmsलोग कहते हैं आयुष्मान खुराना हिट फिल्मों की मशीन हैं

देखते ही देखते वे कुछ सालों में हिट फिल्म देने के मामले में शाहरुख, सलमान और आमिर खान को भी पीछे छोड़ दिया. आज वे कई युवा के सबसे पसंदीदा अभिनेता हैं. चलिए आज उनकी कुछ फिल्मों के बारें में बताते हैं जिनकी बदौलत वे आज आम लोगों की जिंदगी के असली हीरो हैं.

1- आयुष्मान खुराना ने अपनी पहली फिल्म विकी डोनर में वो स्पर्म डोनर बने. उस वक्त ऐसी फिल्मों में काम करना किसी के लिए आसान नहीं था. हालांकि यह फिल्म लोगों को काफी पसंद आई और लोग आयुष्मान खुराना के अभिनय के दिवाने हो गए.

2- आज भी लोग सेक्स एजुकेशन के बारे में खुलकर बात नहीं कर पाते. अपनी आंतरिक परेशानियां किसी से शेयर नहीं कर पाते. ऐसे में आयुष्मान खुराना ने अपनी फिल्म शभु मंगल सावधान में एक ऐसे शख्स की भूमिका निभाई जिसे जेंट्स प्रॉब्लम होती है. इस फिल्म ने भी लोगों की खूब तारीफें बटोरीं.

3- फिल्म अंधाधुन फिल्म को शायद आप भूले नहीं होंगे. अंधाधुन आयुष्मान खुराना की शानदार फिल्मों में से एक है. इस फिल्म में उन्होंने एक ऐसे प्यानो प्लेयर का रोल निभाया है जो नेत्रहीन होने का नाटक करता है. इस फिल्म की बदौलत आयुष्मान खुराना को नेशनल अवॉर्ड भी मिला.

4- आयुष्मान अपनी नेचुरल एक्टिंग से लोगों को हंसाने की भी ताकत रखते हैं. आपको पूजा तो याद ही होगी, अरे वही पूजा जो फिल्म ड्रीम गर्ल में फोन पर बात करके पुरुषों को रिझाने की कोशिश करती है. लोगों को पूजा बने आयुष्मान खुराना कुछ ज्यादा ही पसंद आ गए थे.

5- फिल्म 'बाला' में आयुष्मान खुराना ने एक ऐसे आम आदमी का किरदार निभाया था जो गंजा होने लगता है. इस फिल्म में गंजेपन और लड़कियों के काले रंग को लेकर समाज को आइना दिखाने का काम किया गया है.

कहने का मतलब है कि आयुष्मान खुराना का सारी फिल्में सामाजिक मुद्दों या लीग से हटकर होती हैं. इस एक्टर ने मायानगरी की भीड़ में अपनी एक अलग पहचान बनाई है. चाहें 'आर्टिकल15' में जातिवाद के खिलाफ लड़ना हो या फिर ‘शुभ मंगल ज्यादा सावधान’में समलैंगिक युवक का किरदार लोग आयुष्मान को हर रोल में पसंद करते हैं. इनकी फिल्में समाज को संदेश देने का काम करती हैं.

लेखक

ज्योति गुप्ता ज्योति गुप्ता @jyoti.gupta.01

लेखक इंडिया टुडे डि़जिटल में पत्रकार हैं. जिन्हें महिला और सामाजिक मुद्दों पर लिखने का शौक है.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय