होम -> स्पोर्ट्स

 |  6-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 15 अक्टूबर, 2020 10:24 PM
आईचौक
आईचौक
  @iChowk
  • Total Shares

आईपीएल (IPL) के रोमांचकारी मुकाबलों के बीच दर्शक इमरान ताहिर (Imran Tahir) के प्रदर्शन से वंचित हैं. इंडियन प्रीमियर लीग (Indian Premier League) के 13वें सीजन में चेन्नई सुपर किंग्स (Chennai Suparkings) की टीम में जगह पाने वाले इमरान ताहिर को अभी तक मैच से महरूम रखा गया है. इमरान पवेलियन में हैं और साथी खिलाड़ियों के ड्रिंक्स की जिम्मेदारी उनकी है. इमरान को इस तरह बैठाए जाने से क्रिकेट प्रेमियों को धक्का लगा है. उनका न खेलना फैंस को आहत कर गया है. वहीं फैंस के अलावा ऐसे भी लोग है जो इस छोटी सी बात को बड़ा मुद्दा बनाए हुए हैं और जिन्होंने सोशल मीडिया पर जमकर उत्पात काटा है. ये लोग इमरान ताहिर और सीएसके को लेकर ऐसी तमाम बातें कर रहे हैं जो विचलित करने वाली हैं. ड्रिंक्स और यूं बैठे रहने के मद्देनजर क्यों इमरान को खरी खोटी सुननी पड़ रही है इसकी भी वजह खासी दिलचस्प है. ध्यान रहे कि इमरान ताहिर पिछले सीजन में टीम में प्लेइंग इलेवन का अभिन्न अंग थे जिन्होंने अपने बेहतरीन प्रदर्शन से क्रिकेट प्रेमियों का दिल जीता था. पिछले सीजन में इमरान ने 17 मैचों में 26 विकेट लिए थे और पर्पल कैप अपने नाम की थी. अब चूंकि न खेलने के कारण इमरान लगातार ट्रोल (Troll) हो रहे हैं और एक से एक वाहियात बातों का सामना कर रहे हैं, अपने ट्वीट से इमरान ने ट्रोल्स को मुंह तोड़ जवाब दिया है और उनका मुंह बंद किया है.

IPL, IPL 2020, IPL 2020 UAE, BCCI IPL 2020,Chennai Super Kings, Imran Tahirपिछले सीजन में इमरान ताहिर का शुमार टॉप परफॉर्मर में था

इमरान ताहिर का ये ट्वीट इसलिए भी सोशल मीडिया पर चर्चा का विषय बना है क्योंकि इमरान ने अपना पक्ष भी रख दिया है और जो बातें उन्होंने कहीं हैं उनमें फैंस के अलावा आलोचकों के लिए प्यार है. कह सकते हैं कि इमरान की ये शालीनता ही उनके सुर्खियों में आने की वजह बनी है.

इमरान ताहिर ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि, 'जब मैं खेला करता था तो बहुत सारे खिलाड़ी मेरे लिए मैदान पर ड्रिंक्स लेकर आते थे, और अब जब डिजर्व्ड खिलाड़ी खेल रहे हैं, तो यह मेरी ड्यूटी बनती है कि मैं उनको फेवर लौटाऊं. यह मेरे बारे में नहीं है कि मैं खेल रहा हूं या नहीं, यह मेरे टीम के जीतने के बारे में है. साथ ही इमरान ने ये भी कहा है कि, अगर मुझे मौका मिलता है तो मैं अपना बेस्ट करूंगा और यही जरूरी है.'

गौरतलब है कि चेन्नई सुपर किंग्स का शुमार आईपीएल की उन चुनिंदा टीमों में है जो जानी ही इस बात के लिए जाती है कि वहां तमाम खिलाड़ियों के साथ बराबरी का व्यवहार होता है. टीम साथी खिलाड़ियों को बराबरी का मौका देती है और वहां न तो कोई सीनियर है और न ही जूनियर.

अब जबकि अपने ट्वीट के जरिये इमरान ने इतनी बड़ी बात कही है और साथी खिलाड़ियों के प्रति विश्वास जताया है तो साफ हो जाता है कि इस बात में कोई झूठ नहीं है कि चेन्नई सुपर किंग्स साथी खिलाड़ियों का पूरा ख्याल रखती है. ये देखना वाक़ई सुखद है कि खिलाड़ी अपने से ज्यादा टीम का ध्यान दे रहे हैं और उसकी बेहतरी के बारे में सोच रहे हैं.

बताते चलें कि आईपीएल के इस 13 वें सीजन में सीएसके ने अब तक कुल आठ मैचों में अपना प्रदर्शन किया है जिसमें टीम को तीन मैचों में जीत मिली है जबकि पांच मैचों में उसे हार का मुंह देखना पड़ा है. फिलहाल टीम के 6 प्वॉइंट्स हैं और टैली में टीम छठें पायदान पर है. बात इमरान ताहिर और ट्रोल्स को उनके जवाब पर हुई है तो बता दें कि इमरान के इस रिएक्शन को जनता ने भी खूब सराहा है. जैसी प्रतिक्रियाएं इमरान को अपने इस ट्वीट के बाद मिल रही हैं साफ है कि उन्होंने क्रिकेट प्रेमियों का दिल जीत लिया है.

ताहिर ने जो बातें कहीं हैं लोग यही कह रहे हैं कि हमें उनपर और उनकी सोच पर गर्व है.

वहीं इमरान ताहिर को ड्रिंक्स पकड़वाना सीएसके के लिए एक बड़ी मुसीबत बनता जा रहा है. तमाम यूजर्स हैं जो इस फैसले के खिलाफ हैं और उनका मानना है कि इमरान को मौका देना चाहिए.

बहरहाल इस बात में कोई शक नहीं है कि दक्षिण अफ्रीका से आने वाले इमरान ताहिर एक उम्दा क्रिकेटर हैं. जिस तरह इमरान को सीएसके ने बैठाया है ज़रूर कोई बात है. हो सकता है कि इमरान को यूं बैठाना टीम की रणनीति का हिस्सा हो. वजह जो भी हो जवाब हमें आने वाले वक़्त में मिल जाएगा लेकिन हम बस इतना कहकर अपनी बात को विराम देंगे कि अगर ये रणनीति है तो कोई बात नहीं लेकिन अगर इमरान को जानबूझकर बैठाया गया है तो इसकी बड़ी कीमत टीम को चुकानी पड़ेगी.

टीम अभी 6 वें पायदान पर है और अब वो वक़्त आ गया है जब इमरान ताहिर को मैदान में उतार देना चाहिए। क्या पता इमरान ताहिर ही वो वजह हों जो सीएसके को आईपीएल सीजन 13 का कप दिलवा दे.

ये भी पढ़ें -

बिना दर्शकों के IPL 2020 का UAE में आगाज जानें कैसा होगा

Dhoni retirement से देश और पीएम मोदी की उदासी की वजह क्रिकेट से कहीं ज्यादा है

MS Dhoni: बड़े शहर के मठाधीशों को चुनौती देने वाली छोटे शहर की आंधी   

लेखक

आईचौक आईचौक @ichowk

इंडिया टुडे ग्रुप का ऑनलाइन ओपिनियन प्लेटफॉर्म.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय