charcha me| 

होम -> स्पोर्ट्स

 |  5-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 19 जनवरी, 2021 10:43 PM
मशाहिद अब्बास
मशाहिद अब्बास
  @masahid.abbas
  • Total Shares

Indian Cricket Team ने इतिहास रच दिया है. Australia को उसी की धरती पर भारतीय क्रिकेट टीम ने धो डाला है. आस्ट्रेलियाई गेंदबाज जहां भारतीय खिलाड़़ियों को चोट देने में जूझते रहे वहीं भारतीय खिलाड़ियों ने पूरी आस्ट्रेलिया टीम को ही चित कर डाला है. भारतीय टीम के आधे से अधिक खिलाड़ी चोटिल थे, कप्तान छुट्टी पर थे, मैदान पर थे भारत के नए नवेले खिलाड़ी, जिनमें अधिकांश को तो 10 मैचों का भी अनुभव नहीं था. मैदान पर उनपर तंज मारे गए और खूब तरीके आज़माए गए भारतीय खिलाड़ियों के हौसलों को तोड़ने के, लेकिन भारतीय शेरों का मनोबल नहीं टूटा और वह एक घायल शेर की तरह आस्ट्रेलिया का शिकार कर बैठा. आस्ट्रेलियाई टीम के सबसे पसंदीदा मैदान पर भारतीय टीम ने उसे पटखनी दे दी, उस मैदान पर भारत ने आस्ट्रेलिया (Team India Beat Australia) को मात दी है जिस मैदान पर पिछले 33 साल से आस्ट्रेलियाई टीम एक भी टेस्ट मैच नहीं हारी थी. आस्ट्रेलिया ने इस मैदान पर पिछले सातों टेस्ट मैच में जीत दर्ज की थी लेकिन भारत ने इसी मैदान पर आस्ट्रेलिया को हराकर उसकी अकड़ को चुनौती दे दी है. क्रिकेट के इतिहास में 70 साल पहले वेस्टइंडीज ने आस्ट्रेलिया के खिलाफ इस मैदान पर सबसे अधिक रनों का पीछा किया था, अब भारत के नाम यह रिकार्ड हो गया है जहां 328 रनों का विशाल स्कोर भारतीय टीम ने सफलतापूर्वक हासिल कर लिया है.

Team India, India, Australia, Test, Virat Kohli, Rishabh Pantt, Jasprit Bumrah, Ajinkya Rahaneघायल होने के बावजूद जैसे टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया को शिकस्त दी वो बेमिसाल है

यह जीत खास इसलिए भी है क्योंकि भारत ने इसी सिरीज के पहले टेस्ट मैच में शर्मनाक प्रदर्शन किया था. मात्र 36 रनों के कुल स्कोर पर भारत की दूसरी पारी खत्म हो गई थी. भारत का एक भी बल्लेबाज दहाईं का आंकड़ा नहीं छू पाया था, इस मैच में हार का सामना करने के बाद भारतीय टीम की खूब आलोचना हुई थी. आस्ट्रेलिया के रिटायर हो चुके दिग्गज खिलाड़ियों ने आस्ट्रेलिया की 4-0 से सिरीज़ जीत जाने की भविष्यवाणी कर दी थी.

दिग्गजों का कहना था कि भारतीय कप्तान विराट कोहली के भारत लौट जाने से टीम ताश के पत्तो की तरह बिखर जाएगी और आस्ट्रेलिया की अनुभवी टीम के आगे ढ़ेर हो जाएगी. इसके बाद भारतीय टीम ने अंजिक्य रहाणे के नेतृव्य में कदम आगे बढ़ाए, टीम के बीच संतुलन बनाया गया और मैदान पर संघर्ष का सहारा लिया गया. टीम को एक के बाद एक झटका लगता रहा, आप इस झटके का अंदाज़ा इसी बात से लगा सकते हैं कि टीम के 11 मुख्य खिलाड़ी या तो चोटिल हो गए या फिर फार्म से बाहर हो गए.

भारतीय टीम की चारों मुख्य गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार, मोहम्मद शमी, बुमराह और इशांत शर्मा टीम से बाहर हो गए, दो मुख्य स्पिनर भी चोटिल हो गए. ऐसे में उन लोगों को टीम में शामिल किया गया जिन्हें कोई खास अनुभव नहीं था. आखिरी मैच में खेलने वाले सभी पांचों गेंदबाजों ने इसी सिरीज में टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू किया था. भारतीय टीम के ओपनिंग जोड़ी समस्याओं से जूझ रही थी और इसे बार बार बदला जा रहा था. आप कह सकते हैं कि एक ऐसी टीम आस्ट्रेलिया के खिलाफ मैच खेल रही थी जो बिल्कुल यंग थी.

नया कप्तान नए खिलाड़ी और आस्ट्रेलिया की धरती पर आस्ट्रेलियाई तेज़ गेंदबाज. भारतीय टीम ने इस हालात में भी आस्ट्रेलियाई टीम को पटखनी दे दी जिससे चारों ओर भारतीय टीम की जय-जयकार हो रही है. आस्ट्रेलिया के दिग्गज पूर्व खिलाड़ियों की सारी की सारी भविष्यवाणी मिट्टी में मिल गई. भारतीय टीम के सिरीज जीत जाने के बाद भारतीय टीम के दिग्गज पूर्व खिलाड़ियों ने ट्वीटर पर ट्वीट कर मानो नहले पर दहला दे मारा हो.

महान खिलाड़ी सचिन तेंदुलकर ने ट्वीटर पर लिखा कि ‘हर बार जब हमारे हौसले को ठेस पहुंची, हमने संघर्ष किया, टक्कर दी. हमने निडर लेकिन बेपरवाही से नहीं, क्रिकेट खेलने का आत्मविश्वास दिखाया. चोटों और अनिश्चितताओं का जज्बे और आत्मविश्वास के साथ सामना किया. यह भारत की सबसे बड़ी सीरीज जीत में से एक है. भारत को बधाई.' पूर्व दिग्गज सौरव गांगुली ने ट्वीट किया ‘एक उल्लेखनीय जीत, ऑस्ट्रेलिया जाकर इस तरह से एक टेस्ट सीरीज जीतना भारत के क्रिकेट इतिहास में हमेशा के लिए याद किया जाएगा.

बीसीसीआई ने टीम को पांच करोड़ रुपये का बोनस देने की घोषणा की है. यह जीत किसी कीमत से परे है. दौरे पर गए सभी खिलाड़ियों ने शानदार खेल दिखाया है’ अपने चिर परिचित अंदाज़ के लिए जाने जाने वाले पूर्व विस्फोटक बल्लेबाज विरेंद्र सहवाग ने एक ट्रक के फोटो के साथ लिखा ‘खुशी के मारे पागल हो गया हूं. ये नया भारत है. घर में घुसकर मारता है. भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ समेत कई नेताओं ने भी भारत की इस ऐतिहासिक जीत की बधाई दी है.

ये भी पढ़ें -

क्रिकेट 'Gentleman Game' है ये कोरी लफ़्फ़ाज़ी है, सिराज-बुमराह मामले से सिद्ध हुआ!

Ajinkya Rahane: मुंबई के बल्लेबाजी घराने का अनुशासित शास्त्रीय गायन

टीम इंडिया का पतन कैसे हुआ? क्या टीम चुनने में कोई गलती हुई?

लेखक

मशाहिद अब्बास मशाहिद अब्बास @masahid.abbas

लेखक स्वतंत्र पत्रकार हैं और समसामयिक मुद्दों पर लिखते हैं

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय