charcha me| 

होम -> समाज

 |  4-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 14 जनवरी, 2018 06:31 PM
आईचौक
आईचौक
  @iChowk
  • Total Shares

जहां बात खाने की आए वहां हिंदुस्तानी घरों में हमेशा कहा जाता है कि खाने को लेकर कोई कटौती नहीं करनी चाहिए. प्रोटीन युक्त खाना लेना चाहिए और वगैराह-वगैराह. खाना पकाने और खाना खिलाने का रिवाज़ भी बहुत अच्छा है, लेकिन भारतीय खाने में शायद ही ऐसी कोई डिश हो जिसे खाने से जान का खतरा हो.

हाल ही में एक खबर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही थी कि एक महिला ने कच्चा ओइस्टर (एक तरह का समुद्री खाना) खा लिया था और उसके शरीर में मांस खाने वाले कीड़े फैल गए. उसकी मृत्यु हो गई. ऐसे कई तरह के खाने होते हैं जिन्हें बनाने या खाने के तरीके में जरा सी गलती भी जानलेवा साबित हो सकती है. चलिए जानते हैं 11 ऐसे ही खाने की डिश के बारे में....

1. चेरी के बीज..

सुनने में बड़ा अजीब लगे, लेकिन ये सही है. चेरी के बीज में हाइड्रोजन साइनाइड (एक तरह का जहर) होता है. अगर बहुत ज्यादा बीज खा लिए तो सेहत बिगड़ने से लेकर मौत तक काफी कुछ हो सकता है. हालांकि, इसके लिए 703 मिलीग्राम साइनाइड की जरूरत होगी और उसके लिए कई किलो बीज खाने होंगे. फिर भी कोई रिएक्शन न हो इसलिए चेरी के बीज ध्यान से निकाल दें.

खाना, बीमारी, नींद, भूख, मौत

2. पफरफिश (फुगू)

अमेरिका में ये मछली खाना और बनाना बैन है. ये दुनिया के सबसे ज़हरीले खाने में से एक है. साइनाइड से ये 1200 गुना ज्यादा जहरीली होती है. अगर ये एकदम ठीक तरह से नहीं बनाई गई तो कम पकना या ज्यादा पकना दोनों ही खतरनाक साबित हो सकता है.

खाना, बीमारी, नींद, भूख, मौत

3. कासू मार्जू (लारवा वाला चीज़)..

सुनकर शायद थोड़ी घिन आए, लेकिन ऐसा सच में है. ये एक सार्डिनियन चीज़ है. इसे थोड़ा ज्यादा सड़ाया जाता है जब तक इसमें लारवा न पड़ जाएं. इसे कई देशों में बैन किया गया है.

4. हॉट डॉग..

अगर इसे कुछ खास इंग्रीडिएंट्स के साथ बनाया जाएगा तो ये यकीनन खाना उन लोगों के लिए थोड़ा मुश्किल हो सकता है जिन्हें बड़े कौर खाने की आदत है. अमेरिकी अस्पतालों में हॉट डॉग के कारण कई लोग एडमिट होते हैं. कारण? ये गला चोक कर देता है. इसे धीमे खाना ही जरूरी है.

5. अलफलाफा स्प्राउट...

अलफलाफा स्प्राउट कच्चे ही खाए जाते हैं और बैक्टीरिया की ग्रोथ के लिए ये सबसे बेहतर होते हैं. पिछले दो दशक में 30 से ज्यादा खाने संबंधी बीमारियां स्प्राउट्स खाने से हुई है. वैसे भी कच्चे स्प्राउट्स प्रेग्नेंट महिलाओं और मरीज़ों के लिए उतने बेहतर नहीं होते जितने लगते हैं.

6. सानाकजी (कोरिया का कच्चा ऑक्टोपस)..

सुनकर थोड़ा अजीब लग रहा है.. बिलकुल लगना भी चाहिए. इस डिश को तभी खाते हैं जब ऑक्टोपस जिंदा रहता है. या आधा जिंदा रहता है और उसके पांव हिलते रहते हैं. इसमें ऑक्टोपस की जान तो निकल जाती है, लेकिन पांव हिलते रहते हैं. इसे खाते समय ऑक्टोपस के सक्शन कप आपके गले में चिपक सकते हैं. हर साल 6 लोग सिर्फ इसे खाने से मर जाते हैं.

खाना, बीमारी, नींद, भूख, मौत

7. शेलफिश (ओइस्टर और बाकी तरह की खोल वाली मछलियां.)

अगर इसे ठीक से पकाया नहीं गया तो ये वाकई काफी खतरनाक हो सकती है. समुद्र के कई खराब बैक्टीरिया इसमें होते हैं. इसे खाने से कई तरह की एलर्जी भी हो सकती है.

8. बिना पाश्चुरीकृत दूध की बनी चीज़..

कैमिमबर्ट चीज़ यानि बिना पाश्चुरीकृत दूध की बनी चीज़ खाना सेहत के लिए सही नहीं है. इसमें सभी तरह के बैक्टीरिया होते हैं और इससे खाने संबंधी काफी बीमारियां हो सकती हैं.

खाना, बीमारी, नींद, भूख, मौत

9. हरे आलू...

जब तक आलू ठीक से पक न जाए उसे खाना सही नहीं है. इसे खाने से आम पेट दर्द से लेकर फूड पॉइजनिंग तक सब हो सकता है. अगर हरा सा दिखने वाला आलू बाजार से आया है तो उसे ठीक से पका कर ही खाएं. आलू के पौधे में कई तरह के टॉक्सिन होते हैं और ये अगर ज्यादा मात्रा में शरीर में पहुंच गए तो दिक्कत पैदा कर सकते हैं.

10. अक्की (एक तरह का जामाइकन फल)..

अक्की फल कई देशों में बैन है. ये फल जमाइका में काफी लोकप्रिय है, लेकिन ये काफी जहरीला होता है. ये पक जाता है तो लाल होता है, लेकिन जब ये पीला होता है इसमें एक टॉक्सिक हाइपोग्लिसिन A रहता है. ये उल्टी, टेंशन, पेट दर्द से लेकर मौत तक का कारण बन सकता है. इसके कालो बीज हमेशा जहरीले रहते हैं.

खाना, बीमारी, नींद, भूख, मौत

11. कच्चे ड्राइफ्रूट्स...

कच्चे बादाल साइनाइड से भरपूर रहते हैं. उन्हें खाने लायक बनाने के लिए बहुत सारा ट्रीटमेंट किया जाता है. कच्चे काजू या बादाम खाना सेहत के लिए खतरनाक साबित हो सकता है.

ये भी पढ़ें-

एक कैन कोल्डड्रिंक 10 मिनट के अंदर शरीर में बदल सकता है ये सब...

विदेशी सामान से बेहतर हैं भारत के ये 10 सुपर फूड

लेखक

आईचौक आईचौक @ichowk

इंडिया टुडे ग्रुप का ऑनलाइन ओपिनियन प्लेटफॉर्म.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय