होम -> समाज

 |  4-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 22 अक्टूबर, 2018 08:27 PM
अनुज मौर्या
अनुज मौर्या
  @anujkumarmaurya87
  • Total Shares

अभी अमृतसर हादसे की जांच चल ही रही है कि आखिर गलती किसकी थी? किसकी वजह से 61 लोगों की जान चली गई? लेकिन इससे पहले की जांच पूरी हो, कुछ ट्रेन ड्राइवर की सुसाइड की तस्‍वीर और सुसाइड नोट एक वीडियो के साथ सोशल मीडिया पर शेयर होना शुरू हो गया. कहा जा रहा है कि अमृतसर के उस हादसे के बाद ट्रेन के ड्राइवर ने आत्महत्या कर ली है. यह भी कहा जा रहा है कि ड्राइवर ने उस रात हुए हादसे के बारे में झूठ बोला था. इसकी तस्वीरों और वीडियो से सोशल मीडिया पट चुका है, लेकिन क्या वाकई में ड्राइवर ने आत्महत्या कर ली? चलिए करते हैं इसकी पड़ताल...

अमृतसर रेल हादसा, दशहरा, वायरल वीडियोकहा जा रहा है कि अमृतसर के उस हादसे के बाद ट्रेन के ड्राइवर ने आत्महत्या कर ली है.

क्या किया जा रहा है दावा?

सोशल मीडिया पर एक शख्स की कुछ तस्वीरें और एक वीडियो वायरल हो रहे हैं, जिसमें वह ब्रिज से फंदा लगाकर लटका हुआ दिखाई दे रहा है. दावा किया जा रहा है कि गुलाबी टीशर्ट में फांसी के फंदे से झूल रहा ये शख्स उस डीएमयू ट्रेन का ड्राइवर है. कुछ सोशल मीडिया पोस्‍ट में तो यह भी बताया गया है कि ड्राइवर का नाम इम्‍ि‍तयाज अली है. जिसकी वजह से अमृतसर में दशहरा देख रहे 61 लोगों की कटकर मौत हो गई थी.

सुसाइड नोट ने खोला राज

सोशल मीडिया पर वायरल हो रही तस्वीरों में एक 'सुसाइड नोट' भी है, जिसमें ड्राइवर ने सब कुछ बताया है कि घटना कैसे घटी. इस सुसाइड नोट ने ही सोशल मीडिया पर वायरल हो रही तस्वीरों और वीडियो का राज खोल दिया. दरअसल, ये कोई सुसाइड नोट नहीं, बल्कि वह जानकारी है, जो खुद ट्रेन के ड्राइवर ने रेलवे पुलिस को दी है. किसी ने शरारत करने के लिए इसे किसी दूसरी घटना के साथ जोड़ते हुए सोशल मीडिया पर शेयर कर दिया, जो अब वायरल हो रहा है.

तो सच क्या है?

इस वायरल मैसेज का सच ये है कि ड्राइवर ने आत्महत्या नहीं की है. ड्राइवर जिंदा भी है और रेलवे पुलिस की हिरासत में है, क्योंकि अमृतसर हादसे की जांच की जा रही है. इस बात की पुष्टि खुद रेलवे की तरफ से भी की जा चुकी है कि वह पंजाब रेलवे की हिरासत में है और बिल्कुल सही-सलामत है. यह भी स्‍पष्‍ट हो गया है कि ड्राइवर का नाम इम्तियाज अली नहीं, बल्कि अरविंद कुमार है.

तस्वीर में दिख रहा शख्स कौन है?

इंटरनेट पर न तो यह तस्वीर पहले अपलोड की गई है ना ही यह वीडियो. हां ट्विटर पर कुछ लोगों का ये जरूर कहना है कि यह घटना अमृतसर और तरनतारन के बीच बने किसी पुल की है. दैनिक जागरण के अनुसार फांसी पर झूलते शख्‍स का नाम परमजीत है. तरनतारन के भिखविंड का रहने वाला यह शख्‍स मानसिक रूप से बीमार बताया गया. हालांकि, जागरण की ही एक अन्‍य खबर में उक्‍त शख्‍स का नाम हरपाल शाह बताया गया है.

इस तस्वीर और वीडियो को किसी ने सिर्फ शरारत के तौर पर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया है, जिसका अमृतसर हादसे के साथ कोई लेना देना नहीं है. क्योंकि इसमें तस्वीरें, वीडियो और यहां तक कि सुसाइड नोट भी वायरल किया जा रहा है तो लोग इसे सच मानने लग रहे हैं, लेकिन अगर ध्यान से देखें तो सुसाइड नोट ही इस फर्जी खबर की पोल खोलने के लिए काफी है.

ये भी पढ़ें-

बेटे की कुर्बानी पर भावुक करने के लिए झूठ की अ‍र्थी !

अमृतसर हादसा: घटनाक्रम बता रहा है जानलेवा इंतजाम पूरे पक्‍के थे

अमृतसर हादसा: कटे शवों के आसपास घूम रहे थे 'रावण'

Amritsar Train Accident, Photos And Videos, Viral Images

लेखक

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय