होम -> सोशल मीडिया

 |  6-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 02 मार्च, 2020 11:00 PM
आईचौक
आईचौक
  @iChowk
  • Total Shares

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) का शुमार सोशल मीडिया (Social Media) के सबसे लोकप्रिय नेताओं में है. क्या आम क्या ख़ास तमाम लोग हैं जो फेसबुक (Facebook), ट्विटर (Twitter), इंस्टाग्राम (Instagram) और यूट्यूब (Youtube) जैसे प्लेटफॉर्म पर उन्हें फॉलो करते हैं. उनके जीवन से जुड़ी छोटी से लेकर बड़ी बातों तक को जानना चाहते हैं. अक्सर ही ख़बरों में रहने वाले पीएम मोदी ने अपने विरोधी और आलोचकों से लेकर समर्थकों तक को बड़ा झटका दिया है. खबर है कि प्रधानमंत्री मोदी अपने सभी सोशल मीडिया अकाउंट्स को बंद करने का मन बना रहे हैं. सोशल मीडिया से इस ह्रदय परिवर्तन की जानकारी खुद प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट करके साझा की है. कुछ और कहने से पहले आपको बताते चलें कि सोशल मीडिया की सबसे चर्चित शख्सियतों में शुमार  प्रधानमंत्री मोदी, अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के बाद ट्विटर पर सबसे ज्यादा फॉलो किए जाने वाले नेता हैं. वर्तमान में सिर्फ ट्विटर पर तकरीबन  53.3 मिलियन लोग उन्हें फॉलो करते हैं. वहीं बात अगर फेसबुक की हो तो फेसबुक पर नरेंद्र मोदी के 44 मिलियन फॉलोअर्स हैं. जबकि इंस्टाग्राम पर करीब 35.2 मिलियन फॉलोअर्स पीएम मोदी को फॉलो करते हैं.

Narendra Modi, Social Media, Reactions, Followers, Trend पीएम मोदी के सोशल मीडिया छोड़ने के फैसले ने लोगों को गहरा आघात दिया है

पीएम मोदी क्यों सोशल मीडिया छोड़ रहे हैं ? वजह अभी साफ़ नहीं है मगर जैसे ही उन्होंने ये लिखा कि वो जा रहे हैं पूरे सोशल मीडिया पर कोहराम मच गया है. पीएम मोदी ने ट्वीट किया, 'इस रविवार को अपने सोशल मीडिया अकाउंट फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब को छोड़ने की सोच रहा हूं. आप सभी को आगे जानकारी दूंगा.

पीएम मोदी का देश दुनिया की जनता को ये जानकारी देना भर था. प्रतिक्रियाओं का दौर शुरू हो गया है. तमाम हैशटैग चल रहे हैं. जिक्र अगर हैश टैग्स का हो तो सोशल मीडिया पर उनकी भी भरमार है. ट्विटर पर #NOSir #hacked शुरू हो गया है. लोग मामले पर लगातार ट्वीट कर रहे हैं और इस पूरे मामले पर जैसा जिसका मत है वो वैसी प्रतिक्रिया दे रहा है. बता दें कि पीएम के इस फैसले पर करीब 40 हजार लोग अपनी प्रतिक्रिया दे चुकी हैं और पीएम के इस ट्वीट को 63 हजार लोगों ने री ट्वीट किया है.

पीएम के इस फैसले पर राहुल गांधी की प्रतिक्रिया आना स्वाभाविक था. राहुल ने पीएम मोदी के ट्वीट का स्क्रीन शॉट शेयर करते हुए लिखा है कि आप नफ़रत छोड़िये सोशल मीडिया नहीं.

लोग लगातार पीएम से मांग कर रहे हैं कि उन्हें अपने फैन्स के लिए सोशल मीडिया नहीं छोड़ना चाहिए.

हमेशा की तरह एक बार फिर लोगों को पीएम की आलोचना करने का मौका मिल गया है.

जैसा कि देश में होता आया है लोग हर चीज को हिंदू मुस्लिम से जोड़ देते हैं इस मामले में भी ऐसा ही हुआ है. लोग ट्विटर को हिंदू विरोधी बता रहे हैं और मांग कर रहे हैं कि कुछ ऐसा आए जो पूर्णतः स्वदेशी हो.

पीएम मोदी के इस फैसले पर मेमे भी जमकर शेयर हो रहे हैं और उनको शेयर करते हुए लोग अपना दुःख प्रकट कर रहे हैं.

ट्विटर पर एक बड़ा वर्ग है जो कह रहा है कि पीएम को अपने इस फैसले पर विचार करना चाहिए,. साथ ही लोग ये भी कह रहे हैं अपने प्रधानमंत्री से डायरेक्ट जुड़ने का यही माध्यम था. यदि पीएम यहां से भी चले गए तो क्या होगा.

पीएम मोदी के इस फैसले पर जैसी प्रतिक्रियाएं आ रही हैं उनसे एक बात तो साफ़ है कि वाकई पीएम के इस फैसले से देश की जनता को गहरा आघात लगा है.

समर्थक हों या विरोधी एक वर्ग वो भी है जिसका मानना है कि पीएम एक बड़ी साजिश का शिकार हुए हैं और उनके अकाउंट को हैक किया गया है.

लोग सवाल कर रहे हैं कि क्या वाकई पीएम मोदी का अकाउंट हैक हुआ है या फिर वो एक दिन के लिए अपना अकाउंट बंद करने वाले हैं.

पीएम मोदी के इस फैसले ने लोगों को खासी कशमकश में डाल दिया है.

देश के प्रधानमंत्री सोशल मीडिया को अलविदा कहते हैं या नहीं जवाब वक़्त देगा मगर जो वर्तमान है उसने इतना तो बता दिया है कि देश के प्रधानमंत्री के इस फैसले से लोग आहत हुए हैं और नहीं चाहते हैं कि देश का पीएम इस तरह से सोशल मीडिया को अलविदा कहें.

ये भी पढ़ें -

Modi govt सख्त फैसले लेने के मामले में पास, लेकिन प्रतिक्रिया से निपटने में फेल

Delhi riots: भारत को न तो हिन्दू राष्ट्र बनाने का सपना देखें, न इस्लामिक राज्य

Delhi riots Ground Report: गोकुलपुरी, भजनपुरा,चांदबाग़ के कुत्ते तक डरे हुए हैं इंसानों से!

Narendra Modi, Prime Minister, Twitter

लेखक

आईचौक आईचौक @ichowk

इंडिया टुडे ग्रुप का ऑनलाइन ओपिनियन प्लेटफॉर्म.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय