होम -> सोशल मीडिया

 |  1-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 20 सितम्बर, 2016 04:38 PM
आईचौक
आईचौक
  @iChowk
  • Total Shares

गणेश विसर्जन हो चुका है और पितृ पक्ष शुरू हो गया है. लेकिन गणेश विसर्जन की एक वीडियो इस समय इंटरनेट पर वायरल हो गई है.

ये दो मिनट का वीडियो पुणे के शगुन चौक पर गणेश विसर्जन के दौरान फिल्माया गया था. वीडियो के शुरुआत में आपको चारों तरफ सिर्फ लोगों की भीड़ ही दिखाई देती है. फिर ढोल नगाड़ों की आवाजें और लोगों का शोर. लेकिन अचानक सब कुछ शांत हो जाता है और सिर्फ एक आवाज गूंजती है- एंबुलेंस की. कुछ लोगों की सूझबूझ ने सड़क पर मौजूद लोगों ने भीड़ को इतनी जल्दी हटाया गया कि लग रहा था कि एंबुलेंस भीड़ को चीरते हुए अपनी जगह बना रही हो. एंबुलेंस अपने रास्ते निकल जाती है और सड़क पर भीड़ वापस अपने काम पर लग जाती है.

ये भी पढ़ें- बीमार एंबुलेंस सेवा का इलाज कैसे होगा...

देखिए वीडियो-

लेकिन ये सब आसान नहीं होता. अक्सर आपने देखा होगा कि इस तरह के बड़े धार्मिक कार्यक्रमों में जहां हजारों लोगों की भीड़ हो, शोर-शराबा हो, सड़कें चोक हों, ट्रैफिक व्यवस्था चौपट हो, तो वहां किसी जरूरतमंद की आवाज अक्सर अनसुनी ही रह जाती है. कई बार हुआ है कि एंबुलेंस इन जगहों पर फंस जाती हैं, उन्हें निकलने की भी जगह नहीं मिलती. क्योंकि लोग अक्सर ऐसे माहौल में मामले की गंभीरता नहीं समझते. लेकिन पुणे के इन लोगों ने एंबुलेंस के आते ही न सिर्फ ढोल बजाने बंद किए बल्कि फुर्ती के साथ उसे निकलने की जगह भी दी.

क्या बात है पुणे ! काश नेताओं की रैलियों के दौरान भी लोग इसी तरह समझ से काम लें, तो बहुत से जरूरतमंदों को निराश न होना पड़े.

Ambulance, Ganesh Chaturthi, Programme

लेखक

आईचौक आईचौक @ichowk

इंडिया टुडे ग्रुप का ऑनलाइन ओपिनियन प्लेटफॉर्म.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय