होम -> सोशल मीडिया

 |  5-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 17 जून, 2020 05:15 PM
आईचौक
आईचौक
  @iChowk
  • Total Shares

यूट्यूब सेंसेशन और महज 21 साल की उम्र में भारत के सबसे फेमस यूट्यूबर माने जा रहे कैरीमिनाती (अजय नागर) के टिकटॉक को रोस्ट करते बनाए यलगार वीडियो से वो कर दिया है, जो किसी इंडिविजुअल यूट्यूबर के लिए बिल्कुल आसान नहीं है. जी हां, 5 जून को कैरीमिनाती के रिलीज वीडियो ‘Yalgaar’ ने महज 10 दिनों में 10 करोड़ व्यूज का आंकड़ा पार करते हुए इंडियन यूट्यूब इंडस्ट्री में इतिहास रच दिया है. पहली बार है, जब कैरीमिनाती, अमित भड़ाना, बीबी की वाइंस, आशीष चंचलानी, हर्ष बेनिवाल समेत अन्य यूट्यूबर का कोई वीडियो यूट्यूब पर 100 मिलियन व्यूज लाने में कामयाब हुआ है. ‘यलगार’ टाइटल से बनाए वीडियो में कैरीमिनाती ने टिकटॉक, यूट्यूबर्स और यहां तक कि यूट्यूब पॉलिसी पर ही रैप सॉन्ग के जरिये करारा हमला बोला है. यलगार का वायरल और फेमस होना वाकई इस बात को सच साबित करता है कि जब भी कंटेंट की बात होगी तो यूट्यूब टिकटॉक से आगे रहेगा और भारत का एक वर्ग हमेशा टिकटॉक का बायकॉट करेगा.

दरअसल, कैरीमिनाती के यलगार वीडियो हिट होने की कई वजहें हैं. भारत में समय-समय पर चाइनीज प्रोडक्ट के बहिष्कार और टिकटॉक जैसे चाइनीज मोबाइल अप्लिकेशन को अनइंस्टॉल करने का दौर चलता है. इसके पीछे भी कई वजहें होती हैं. इनमें से ही एक है सोशल मीडिया पर यूट्यूब बनाम टिकटॉक बहस छिड़ना. इस बहस में दोनों प्लैटफॉर्म के योद्धा भिड़े. हर किसी ने अपने कंटेंट को दूसरे से बेहतर बताया और इसके आउटकम के रूप में ‌#BanTikTok और #Boycott TikTok जैसे ट्रेंड्स रातों-रात लोगों की ज़ेहन पर छा गए.

टिकटॉप ने कैरीमिनाती को फेमस और खुद का किया नुकसान

यूट्यूब और टिकटॉक विवाद में कैरीमिनाती का घुसना और उसके वीडियो का यूट्यूब प्लैटफॉर्म से हटना, उसके बाद कैरी का यलगार वीडियो बनाकर सोशल मीडिया स्टार बनना कहीं न कहीं यह साबित करता है कि लोगों ने टिकटॉक का बहिष्कार करना शुरू कर दिया है. इन सब घटनाक्रम में टिकटॉक को अच्छा खासा नुकसान भी हुआ है. यलगार को 10 दिन में ही 10 करोड़ से ज्यादा व्यूज मिलना एक तरह के टिकटॉक का बहिष्कार ही है. लोगों ने टिकटॉक के प्रति अपने गुस्से को कैरीमिनाती का वीडियो देख निकाल लिया.

यूट्यूब और टिकटॉक बहस से जहां एक तरफ टिकटॉक को नुकसान हुआ, वहीं इस विवाद से कैरीमिनाती को इतना फायदा हुआ कि वह यूट्यूब स्टार बन गया. आज कैरीमिनाती ने अमित भड़ाना, बीबी की वाइंस समेत बाकी यूट्यूबर्स को पीछे छोड़ते हुए 22 मिलियन यानी 2 करोड़ 20 लाख यूट्यूब सब्सक्राइबर्स की फैमिली बना ली है. यलगार वीडियो ने 100 मिलियन से ज्यादा व्यूज बटोर लिए हैं और आज कैरी भारत का सबसे सक्सेसफुल यूट्यूबर बन गया है. लेकिन क्या यह बिना टिकटॉक के संभव होता? इसका जवाब है नहीं.

यूट्यूब Vs टिकटॉक विवाद का हश्र क्या?

कैरीमिनाती रोस्ट करता है. चाहे वह सोशल मीडिया पर अचानक फेमस हुए लोग हों या सिलेब्रिटी. कैरी इन सबको रोस्ट करता है. बात करीब दो महीने पहले की है, जब आमिर सिद्दिकी नामक टिकटॉक इंफ्लुएंसर ने यूट्यूबर्स को भला-बुरा सुनाते हुए अपने कंटेंट को बेहतर बताया. इसके बाद कैरीमिनाती ने आमिर सिद्दिकी को रोस्ट करते हुए YouTube Vs TikTok टाइटल से वीडियो बनाया. यह वीडियो रातों-रात छा गया. इस वीडियो को जितना व्यूज मिला, उतना ही फैंस का समर्थन भी. बाकी यूट्यूबर्स ने भी कैरीमिनाती का समर्थन करते हुए टिकटॉक की ऐसी-तैसी कर दी. इसके बाद सोशल मीडिया पर टिकटॉक को बैन करने, उसे प्लेस्टोर से हटाने, रेटिंग घटाने और अनइंस्टॉल करने का दौर शुरू हो गया. इस विवाद से टिकटॉक को काफी नुकसान हुआ, लेकिन इन सबके बीच यूट्यूब ने कैरीमिनाती का वीडियो हटा दिया.

कैरी के यलगार ने यूट्यूबर्स को हौसला दिया है

यूट्यूब ने पॉलिसी का हवाला देते हुए अपने प्लैटफॉर्म से कैरीमिनाती का वीडियो क्या हटाया, हंगामा हो गया. लोगों ने यूट्यूब को भी खूब कोसा. फिर कैरीमिनाती ने यलगार किया. ऐसा यलगार किया कि इंडियन यूट्यूब हिस्ट्री में कैरी के रैप वीडियो यलगार ने व्यूज, कमेंट्स, लाइक्स के मामले में सबको पीछे छोड़ दिया. टिकटॉकर्स और कुणाल कामरा, ध्रुव राठी जैसे यूट्यूबर्स के साथ ही यूट्यूब पॉलिसी को भी कैरीमिनाती ने अपने वीडियो में जमकर सुनाया. यलगार हिट से सुपरहिट हो गया और आज 11वें दिन तक यलगार को 10 करोड़ 10 लाख से ज्यादा व्यूज मिल चुके हैं. कैरी के यलगार वीडियो ने यूट्यूब पर मोस्ट लाइक्ड वीडियो का खिताब हासिल करते हुए अक्षय कुमार को भी पीछे छोड़ दिया है. कैरीमिनाती की यह उपल्बधि हजारों यूट्यूबर्स के लिए प्रेरणा की तरह है, जिसमें अगर आपने सोशल मीडिया का मिजाज भांप यूजर्स को वैसा कंटेंट दे दिया तो फिर आपकी गाड़ी चल पड़ेगी. 

अमित भड़ाना, बीबी की वाइंस रह गए काफी पीछे

आज से करीब 2 साल पहले जब अमित भड़ाना के एक यूट्यूब वीडियो ने यूट्यूब और सोशल मीडिया पर 100 मिलियन व्यूज का आंकड़ा पार किया था तो उसकी काफी सराहना हुई थी और देश-दुनिया में नाम रोशन हुआ था. लेकिन अब इंडिया में यूट्यूब हिस्ट्री में ऐसा पहला मौका आया है, जब रोस्ट करने वाले किसी यूट्यूबर को महज 10 दिन में उसके वीडियो को 10 करोड़ लोगों ने देखा है. इससे साफ पता चल रहा है कि अगर भारत में टिकटॉक के लाखों चाहने वाले हैं तो यूट्यूबर्स को करोड़ों लोगों का समर्थन हासिल है और यूट्यूब बनाम टिकटॉक की जंग में हमेशा यूट्यूब ही आगे रहेगा.

टिकटॉक भारत में तेजी से पसार रहा पैर

उल्लेखनीय है कि भारत में लाखों टिकटॉक यूजर हैं. शॉर्ट वीडियो पोस्ट कर फेमस होने की कोशिश में लाखों लोग हर दिल लाखों वीडियो पोस्ट करते हैं. इस चाइनीज ऐप के दुनियाभर में एक अरब से ज्यादा यूजर हैं. बीते दिनों एक कैंपेन चलाकर भारतीय यूजर्स ने टिकटॉक की रेटिंग घटाकर 1.5 कर दी थी, लेकिन अब फिर से इसकी रेटिंग पहले जैसी 4.5 हो गई है. टिकटॉक इंफ्लुएंसर्स को पैसे भी देता है, ऐसे में हजारों लोग इंफ्लुएंसर बन पैसे कमा रहे हैं और लाखों लोग इस कोशिश में लगे हैं. 16 सेकेंड और एक मिनट के वीडियो पोस्ट करने की सुविधा देने वाला टिकटॉक भारत में तेजी पैर फैला रहा है.

Carryminati , Carryminati Yalgaar Latest Youtube Video, Carryminati Yalgaar

लेखक

आईचौक आईचौक @ichowk

इंडिया टुडे ग्रुप का ऑनलाइन ओपिनियन प्लेटफॉर्म.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय