होम -> सोशल मीडिया

 |  3-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 19 जुलाई, 2018 09:54 PM
आईचौक
आईचौक
  @iChowk
  • Total Shares

पूरे देश में बच्चा चोरी की अफवाहों से लिंचिंग की खबरों का बाजार गर्म है. हम सोशल मीडिया को दोष दे रहे हैं. फेक न्यूज को कैसे जानें कैसे समझें उसपर ज्ञान दिया जा रहा है. लेकिन अफवाहें या फेक न्यूज सिर्फ हमारे देश में ही नहीं पूरी दुनिया में खेल कर रही हैं.

ताजा मामला है मलेशिया से, जहां एक बार फिर लोग तमीज और लिहाज भूल गए. मलेशिया के मंत्री पी. वेथामूर्ती और संसद में बैठे उनके मित्र की तस्वीरें सोशल मीडिया पर शेयर की जाने लगीं. ये कहकर कि मलेशिया की संसद में भूत है. पी. वेथामूर्ती संसद में मंत्री पद की शपथ ले रहे थे.

malaysia parliament ghostमलेशिया की संसद में भूत कहकर तस्वीर को वायरल किया गया

लोगों ने पी. वेथामूर्ती के मित्र के रंग रूप का मजाक बनाया औकर कुछ ने उनकी तुलना भूत से कर दी. कहा कि पार्लियामेंटरी सेशन के दौरान पब्लिक गैलरी में एक भूत बैठा दिखाई दे रहा है जिसकी लंबे-लंबे बाल हैं और मोटी सी दाढ़ी है.

malaysia parliament ghostपी. वेथामूर्ती के मित्र के रंग-रूप का मजाक बनाया गया

वेथामूर्ती को इस बात को लेकर बेहद शर्मिंदा हुए कि लोगों ने उनके भाई समान मित्र का इस तरह मजाक उड़ाया और उन्हें भूत कहा. वेथामूर्ती का कहना है कि उनके मित्र का नाम अरुणाचलानंद जी है जो भारत के एक पहाड़ पर एकांतवास में रहते हैं. उन्होंने विश्व शांति और सांप्रदायिक सद्भावना का प्रचार में अपने जीवन का एक बड़ा हिस्सा समर्पित किया है. और उनके शपथ समारोह के लिए उन्होंने अरुणाचलानंद जी को खासतौर पर निमंत्रण दिया था. जिससे वो उनका आशीर्वाद ले सकें.

malaysia parliament ghostपी. वेथामूर्ती को आशीर्वाद देने के लिए पहुंचे थे अरुणाचलानंद जी

हमारे देश में मोह और माया से दूर रहने वाले लोगों को सन्यासी या साधु कहा जाता है. धार्मिक दृष्टि से हमारे देश में इन्हें बहुत सम्मान दिया जाता है. लेकिन मलेशिया के लोग एक सन्यासी का मजाक बनाने से भी नहीं चूके.

लोगों का मेंटल लेवल किस तरह नीचे गिर रहा है, ये उसका एक नमूना है. हालांकि जिस देश में खबरों को तोड़ मरोड़कर सोशल मीडिया पर वायरल किया जाता हो और नतीजे में भीड़ लोगों की जान ले लेती हो, उसकी तुलना में मलेशिया का ये कारनामा कहीं नहीं टिकता. लेकिन भारत के एक साधु के लिए इस तरह के शब्दों का इस्तेमाल करना मलेशिया को शोभा नहीं देता.

ये भी पढ़ें-

...क्योंकि हर बात मजाक नहीं होती

जिस वीडियो की वजह से भीड़ लोगों की जान ले रही है उसकी सच्चाई कुछ और है !

 

लेखक

आईचौक आईचौक @ichowk

इंडिया टुडे ग्रुप का ऑनलाइन ओपिनियन प्लेटफॉर्म.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय