charcha me| 

होम -> सियासत

 |  7-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 12 मई, 2019 12:45 PM
आईचौक
आईचौक
  @iChowk
  • Total Shares

लोकसभा चुनाव 2019 के अंतिम दो चरण बाकी हैं. 12 मई को वोटिंग का छठवां चरण है और यहां 59 लोकसभा संसद क्षेत्रों में प्रत्याशियों का चुनाव होना है. 14 सीटें उत्तर प्रदेश से, 10 हरियाणा से, 8 बिहार, मध्यप्रदेश और पश्चिम बंगाल से और सात सीटें दिल्ली और चार झारखंड से.

राजधानी दिल्ली की खबरों के साथ-साथ अन्य राज्यों में जो चल रहा है उसपर नजर डालना बहुत जरूरी है. पश्चिम बंगाल में हिंसा अब अपने चरम पर आ गई है, तो भोपाल में साध्वी बनाम दिग्विजय का युद्ध भी दिलचस्प हो गया है. एक नजर इन सभी राज्यों में घट रही घटनाओं पर.

1. बंगाल की हिंसा अब और भी गहरा गई है-

पहले पोलिंग फेज से ही पश्चिम बंगाल की अलग-अलग सीटों पर हिंसा की वारदातें तो आम थीं, लेकिन अब मामला हत्या तक पहुंचता जा रहा है. छठे चरण की वोटिंग शुरू होने से कुछ ही घंटे पहले भाजपा के बूथ प्रेसिडेंट की हत्या हो गई. ये मामला रमीन सिंह की हत्या का है और भाजपा के राष्ट्रीय जनरल सेक्रेटरी कैलाश विजयवर्गीय ने ये आरोप लगाया है कि सिंह को TMC के गुंडों ने मारा है.

इसके अलावा एक और भाजपा वर्कर अनंता गुचाइत को भी गोली मार दी गई जिनका इलाज चल रहा है. एक अन्य भाजपा वर्कर पर अटैक हुआ है. भाजपा प्रत्याशी भारती घोष पर हमला हुआ. ये पूर्व IPS अधिकारी हैं और एक समय पर ममता बनर्जी के काफी करीब रही हैं. उनपर पोलिंग स्टेशन पर हमला हुआ. उनकी रोती हुई तस्वीर सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रही है. भारती घोष का दावा है कि उन्हें पोलिंग बूथ के अंदर नहीं जाने दिया गया. उनके साथ-साथ कई मीडिया कर्मियों पर भी हमला हुआ. उनकी गाड़ी पर भी अटैक हुआ.

 भारती घोष बंगाल के घाटल से लोकसभा कैंडिडेट हैं.) भारती घोष बंगाल के घाटल से लोकसभा कैंडिडेट हैं.)

भारती घोष के खिलाफ तृणमूल कांग्रेस ने बांग्ला फिल्मों के सुपर स्टार दीपक अधिकारी उर्फ देव को ही दोबारा टिकट दिया है. इसके अलावा, बंगाल के बंकुरा पोलिंग बूथ पर भी भाजपा और टीएमसी कार्यकर्ताओं के बीच झड़प हुई है.

2. मध्य प्रदेश में घर पर ईवीएम से लेकर

मध्य प्रदेश की दो अहम सीटें यानी भोपला और गुना इस बार निशाने पर हैं. गुना जिसे सिंधिया परिवार का गढ़ माना जाता है पोलिंग शुरू होते ही चर्चा में आ गया क्योंकि यहां से एक सेक्टर ऑफिसर के सस्पेंड होने की खबर है. यहां ऑफिसर के घर में EVM मिली है.

गुना में ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा है कि राष्ट्रवाद कोई कार्ड नहीं है जिसे राजनीति के लिए इस्तेमाल किया जाए. राष्ट्रवाद एक मुद्दा नहीं है. साथ ही, उन्होंने साध्वी प्रज्ञा पर किसी भी तरह की टिप्पणी करने से मना कर दिया.

भोपाल में वोटिंग के दौरान लोग भोपाल गैस कांड को भी याद कर रहे हैं. सोशल मीडिया पर कई लोगों ने कांग्रेस को इसलिए वोट न देने की अपील की है क्योंकि भोपाल गैस कांड के वक्त कांग्रेस की सरकार थी. भोपाल गैस कांड की दुहाई देकर भोपाल में दिग्विजय सिंह और कांग्रेस को वोट न देने की गुजारिश की जा रही है.

यही नहीं दिग्विजय सिंह के खिलाफ सोशल मीडिया पर 'हिंदू आतंकवाद' की बात भी छेड़ी गई है और लोग कह रहे हैं कि ऐसे इंसान को वोट नहीं देना है.

भोपाल के जज्बे को देखिए एक यात्री मुंबई एयरपोर्ट पर परेशान घूम रहे हैं और वो लगभग हर एयरलाइन और खुद सुरेश प्रभू तक से गुजारिश कर रहे हैं कि उन्हें किसी तरह से एक प्लेन की टिकट मिल जाए ताकि वो वोट डालने जा सकें.

3. उत्तर प्रदेश में एक बार फिर भिड़ीं मेनका गांधी-

उत्तर प्रदेश में आजमगढ़ और सुल्तानपुर सीटें काफी रोचक हैं और इस बार फिर से मेनका गांधी सुल्तानपुर सीट से चर्चा में आ गई हैं. सुबह पोलिंग शुरू होते ही उनकी और महागठबंधंन के प्रत्याशी सोनू सिंह की बहस हो गई. मेनका गांधी ने आरोप लगाए हैं कि सोनू सिंह के समर्थक वोटरों को धमका रहे थे.

आजमगढ़ सीट से भी पोलिंग स्टेशन हाईजैक करने की बात सामने आ रही है. अखिलेश यादव ने आरोप लगाया है कि आजमगढ़ के पोलिंग बूथ अधिकारी बुजुर्ग मतदाताओं के लिए खुद ही वोट दे रहे हैं. वो खुद बटन दबा रहे हैं. अखिलेश यादव ने लिखित में इसकी शिकायत भी की है.

लिखित में शिकायत देकर अपयुक्त जांच की मांग की गई है.लिखित में शिकायत देकर अपयुक्त जांच की मांग की गई है.

अखिलेश यादव के खिलाफ बीजेपी ने भोजपुरी स्टार दिनेशलाल यादव निरहुआ को टिकट दिया है. और इसलिए इस सीट पर किसी तरह के बवाल की उम्मीद पहले से ही की जा रही थी.

दूसरी ओर सुल्तानपुर पोलिंग स्टेशन में पिछले 3 घंटे से EVM काम नहीं कर रही है और वहां लंबी कतारें लग गई हैं. इसी के साथ, कुसराना और नारायनपुर में भी EVM की गड़बड़ी के कारण वोटिंग रुकी हुई है. इसकी जांच की जा रही है.

उत्तर प्रदेश के सहिजानपुर गांव (प्रतापगढ़ जिला) में 800 लोगों ने चुनाव का बहिष्कार किया है. कारण? वो लोग अपने इलाके में विकास न होने से नाराज थे. वहां पोलिंग बूथ खाली पड़े हुए हैं.

उत्तर प्रदेश में कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है जहां भदोही में कांग्रेस के जिला अध्यक्ष और अन्य ऑफिस अधिकारियों ने पार्टी छोड़ दी है और ये कहा है कि इसका कारण प्रियंका गांधी द्वारा किया गया अपमान है. भदोही में भी आज वोटिंग जारी है.

4. बिहार में गोलियों, विधायक की लिंचिंग और वोटर की मौत से शुरू हुआ वोटिंग का सिलसिला..

बिहार में भी हिंसा के बीच वोटिंग हो रही है. लोकसभा चुनाव के ठीक पहले बिहार के सारण में राजद विधायक मुंद्रिका प्रसाद के साथ मारपीट की गई. उनपर भाजपा नेता प्रमोद सिंह को गोली मारने तथा महाराजगंज के राजद प्रत्‍याशी के पक्ष में वोटरों के बीच पैसे बांटने का आरोप है.

इस घटना के बाद प्रमोद सिंह के समर्थकों ने विधायक मुंद्रिका प्रसाद को पीटा और उनके सुरक्षाकर्मियों के हथियार भी छीन लिए. अभी प्रसाद पुलिस हिरासत में हैं और उनका इलाज चल रहा है.

बिहार के मोतिहारी में वोट डालते ही मतदाता की पोलिंग बूथ पर मौत हो गई है. घटना पीपराकोठी के बूथ न 260 जीवधारा की है. वोटर विश्वनाथ शाह की वोट डालने के बाद तबियत बिगड़ने लगी और इसके चलते उन्हें अस्पताल पहुंचाया गया.

अंत में एक वीडियो देख लीजिए जिसे भाजपा की कैंपेनिंग के तौर पर सोशल मीडिया पर वायरल किया जा रहा है.

झारखंड और हरियाणा में फिलहाल तो पोलिंग शांतिपूर्वक चल रही है.

ये भी पढ़ें-

Delhi की 7 सीटें कौन जीत रहा है? राजदीप सरदेसाई का अनुमान

छठे दौर की 10 बड़ी सीटें - दिग्विजय सिंह, साध्वी प्रज्ञा, मेनका, अखिलेश और निरहुआ कसौटी पर

लेखक

आईचौक आईचौक @ichowk

इंडिया टुडे ग्रुप का ऑनलाइन ओपिनियन प्लेटफॉर्म.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय