होम -> सियासत

 |  5-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 04 अप्रिल, 2016 06:12 PM
आईचौक
आईचौक
  @iChowk
  • Total Shares

सोमवार को हुए पनामा पेपर लीक्स के खुलासों ने पूरी दुनिया में जैसे भूचाल ला दिया है. इन खुलासों को विकीलीक्स के खुलासों से कहीं बड़ा कहा जा रहा है. पनामा पेपर्स लीक्स से दुनिया भर के ताकतर नेताओं, बिजनेसमैन, सिलेब्रिटीज और क्रिमिनिल्स द्वारा टैक्स हैवेन की मदद से अपनी अकूत दौलत को छुपाने का खुलासा हुआ है. 

पनामा स्थिति लॉ फर्म मोजैक फोंसेका के लीक हुए 1.1 करोड़ डॉक्यूमेंट्स ने दुनिया भर के कई प्रभावशाली लोगों द्वारा अपनी दौलत छुपाने और टैक्स चोरी करने के लिए शेल कंपनियों के सहारा लिए जाने का मामला सामने आया है. इस लिस्ट में दुनिया भर के 140 ताकतवर राजनेताओं का नाम शामिल है. इनमें 500 भारतीय लोगों के भी नाम शामिल हैं. आइए जानें दुनिया के सबसे बड़े खुलासे से जुड़ी 10 बड़ी बाते.

1. उत्तरी और दक्षिणी अमेरिका के मध्य में स्थिति देश पनामा की लॉ फर्म और कॉर्पोरेट सर्विस प्रोवाइडर मौजेक फोंसेका की स्थापना 1977 में हुई थी. इस कंपनी के दुनिया भर में 40 देशों में ऑफिस हैं. यह खुलासा इसी कंपनी के हजारों प्रभावशाली क्लाइंट्स के खुफिया डॉक्यूमेंट्स लीक होने से हुआ है. 

2. मोजैक फोंसेंका ने दुनिया भर के अपने क्लाइंट्स को टैक्स चोरी करने, नियमों की धज्जियां उड़ाने और मनी लॉन्ड्रिंग करने में मदद की. इन खुलासों के बाद मोजैक फोंसेका के संस्थापक रॉमोन फोंसेका ने कहा है कि ये डॉक्यूमेंट्स गैर-कानूनी ढंग से हैकिंग करके हासिल किए गए हैं. लेकिन उन्होंने मोजैक फोंसेका द्वारा कुछ भी गलत किए जाने से इंकार किया.

3. मोजैक फोंसेका कंपनी के 1.1 करोड़ खुफिया डॉक्यूमेंट्स किसी अज्ञात सूत्र द्वारा जर्मन अखबार सुडेशे जैटुंग के पास पहुंचे. इस जर्मन अखबार ने इन डॉक्यूमेंट्स को इंटरनेशनल कॉन्सोर्शियम ऑफ इन्वेस्टिगेटिव जर्नलिस्ट्स (ICIJ) को दिया गया. 

4. इसके बाद दुनिया भर के 78 देशों के 107 मीडिया ऑर्गेनाइजेंशंस के 400 पत्रकारों ने मिलकर मोजैक फोंसेका के करोड़ों डॉक्यूमेंट्स की छानबीन के बाद दुनिया भर के कई प्रभावशाली लोगों द्वारा अपनी दौलत को शेल कंपनियों द्वारा छुपाने और टैक्स चोरी का खुलासा हुआ. इस जांच में भारत की तरफ से इंडियन एक्सप्रेस शामिल था.

5. इस जांच का दायरा 1977 से 2015 तक, यानी कि लगभग 40 वर्षों और 214000 ऑफशोर कंपनियों की जांच तक फैला हुआ था. 

6. इस लिस्ट में रूस के राष्ट्रपति ब्लादिमीर पुतिन के करीबियों, चीन के राष्ट्रपति शी चिनपिंग, मिस्त्र के पूर्व राष्ट्रपति होस्नी मुबारक, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ, सीरिया के राष्ट्रपति बशर अल असद, पाकिस्तान की पूर्व प्रधानमंत्री बेनजीर भुट्टो समेत दुनिया के 140 ताकतवर राजनेताओं के नाम शामिल हैं, जिनमें से 12 वर्तमान राष्ट्राध्यक्ष हैं. 

7. इस लिस्ट में 500 भारतीयों के भी नाम हैं, जिनमें अमिताभ बच्चन, ऐश्वर्या राय, डीएलएफ के केपी सिंह, पॉलिटिशियन अनुराग केजरीवाल, इंडिया बुल्स के समीर गहलोत, अडाणी ग्रुप के चेयरमैन गौतम अडाणी के भाई विनोद अडाणी सहित कई प्रभावशाली लोगों के नाम शामिल हैं.

8. इन प्रभावशाली लोगों ने मोजैक फोंसेका की मदद से कई शेल कंपनियों द्वारा टैक्स चोरी और मनी लॉन्ड्रिंग के जरिए अपनी अकूत दौलत को छुपाने का काम किया. शेल कंपनी बिना किसी सक्रिय बिजनेस या संपत्ति के होती हैं, जिसमें अक्सर इंवेस्ट किए गए फंड्स और ऑनरशिप की जानकारी छिपाई जाती है. इन कंपनियों का प्रयोग टैक्स से बचने के लिए किया जाता है. 

9. इन खुलासों में जिन राजनेताओं के नाम शामिल हैं उन पर इसका व्यापक प्रभाव पड़ेगा, आईलैंड के प्रधानमंत्री सिगमुंडुर गनलॉगसन की पत्नी अना का नाम इस लिस्ट में सामने आने के बाद उनके ऊपर इस्तीफा देने का चौतरफा दवाब बन गया है.

10. इन खुलासों के बारे में पत्रकार बास्टियन ऑबरमेयर ने कहा, 'हमारी जानकारी में ये अब तक सबसे पड़ा खुलासा है, जिस पर पत्रकारों ने काम किया है.'  

जानिए इस खुलासे में सामने आए कुछ प्रभावशाली लोगों के नामः

कई भारतीयों के नाम भी शामिलः

1. अमिताभ बच्चन

2. ऐश्वर्या राय बच्चन

3. कुशल पाल सिंह, डीएलफ के मालिक और उनके परिवार के 9 सदस्य

4. समीर गहलोत, इंडिया बुल्स ग्रुप के चेयरमैन ऐंड फाउंडर

5. विनोद अडाणी, उद्योगपति गौतम अडाणी के बड़े भाई

6. शिशिर के बजोरिया-एसके बजोरिया ग्रुप के प्रमोटर और पश्चिम बंगाल के पॉलिटिशियन

7. अनुराग केजरीवाल, लोकसत्ता पार्टी के दिल्ली इकाई के पूर्व प्रमुख

8. ओंकार कंवर, अपोलो ग्रपु के चेयरमैन

9. अनिल वासुदेव सलगांवकर, गोवा स्थित माइनिंग बिजनेसमैन और पूर्व विधायक

10. मोहन लाल लोहिया, चेयरमैन इंडो रामा होल्डिंग्स लिमिटेड

11. स्वर्गीय इंदिरा सिवासैलम, अमालगैमेशंस ग्रुप के चेयरमैन अनंतरामकृष्णन सिवासैलम की पत्नी, उनकी बेटी मल्लिका श्रीनिवासन-ट्रैक्टर्स ऐंड फर्म इक्विपमेंट लिमिटेड की सीईओ और चेयरमैन

12. हरीश साल्वे, पूर्व सॉलिटर जनरल ऑफ इंडिया

13. तब्ब्सुम और अब्दुल रशीद मीर, फाउंडर ऐंड सीईओ, कॉटेज इंडस्ट्रीज एक्सपोजिशन

14. जावेरी पूनावाला, हेड, मैनेजिंग कमिटी, रॉयल वेस्टर्न इंडिया टर्फ क्लब (RWITC) और डॉक्टर साइरस पूनावाला के भाई

15. राजेंद्र पटेल, दावनगिरी में उनके मेडिकल और इंजीनियरिंग कॉलेज हैं. वह कर्नाटक के हॉर्टीकल्चर मिनिस्टर शमानुर शिवशंकरप्पा के दामाद हैं.

16.  जहांगीर सोली सोराबजी, बॉम्बे हॉस्पिटल में अवैतनिक कसंलटेंट फिजिशनयन हैं. वह पूर्व अटॉर्नी जनरल सोली सोराबजी के बेटे हैं.

17. इकबाल मिर्ची, अंडरवर्ल्ड डॉन, जिसकी अब मौत हो चुकी है.

दुनिया के नामी लोग:

1. मॉरिसियो माक्री, प्रेसिडेंट, अर्जेंटीना

2. व्लासदिमीर पुतिन (सीधे उनका नाम तो नहीं है, लेकिन उनके करीबी सरगेई रोलदुगिन का नाम रिकॉर्ड पर है)

3. सिगमुंदूर दावियो गुनलॉगसन, प्रधानमंत्री, आइसलैंड

4. किंग सलमान, सऊदी अरब

5. शेख खलीफा बिन जाएद, प्रेसिडेंट, यूएई

6. पावलो लाजारेंको, यूक्रेन के पूर्व प्रधानमंत्री

7. पेत्रो पोरोशेंको, यूक्रेन के प्रधानमंत्री और चॉकलेट किंग 

फुटबॉल खिलाड़ी:

1. लियॉनेल मेसी और उनके पिता

2. मिशेल प्लेसटिनी

3. लियोनार्डो उलोआ, लिसेस्टर सिटी के टॉप स्कोररर

4. गेब्रियल इवान हेंज, अर्जेंटीना के खिलाड़ी जो मैंचेस्टर युनाइटेड और रियाल मेड्रिड के लिए भी खेल हैं 

इसके अलावा:

1. ली शियाओलिन, चीन के पूर्व राष्ट्र पति ली पेंग की इकलौती बेटी

2. इयान कैमरन, ब्रिटेन के प्रधानमंत्री डेविड कैमरन के पिता

3. मरियम सफदर, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की बेटी

4. अला मुबारक, मिस्र के पूर्व राष्ट्र्पति होस्नी मुबारक के बेटे और बिलियनेअर‍ बिजनेसमैन

5. मुनीर मजीदी, मोरक्को के किंग मोहम्मनद (छठवें) के पर्सनल सेक्रेटरी और बड़े बिजनेसमैन

6. क्लारइव खुलुबुसे जूमा, दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रठपति जेकब जूमा के भतीजे.

लेखक

आईचौक आईचौक @ichowk

इंडिया टुडे ग्रुप का ऑनलाइन ओपिनियन प्लेटफॉर्म.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय