charcha me| 

होम -> सिनेमा

 |  4-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 11 अगस्त, 2022 06:51 PM
आईचौक
आईचौक
  @iChowk
  • Total Shares

रक्षा बंधन और स्वतंत्रता दिवस सप्ताह में रिलीज हुई आमिर खान की लाल सिंह चड्ढा के सामने अक्षय कुमार के फिल्म की जिस तरह तारीफें हो रही हैं उसे अनपेक्षित माना जा सकता है. कहां तो आमिर के साथ ही अक्षय कुमार की फिल्म के बहिष्कार की बातें सामने आ रही थीं. मगर अब रिलीज के बाद पब्लिक समीक्षाओं में अक्षय की फिल्म आमिर पर बीस साबित हो रही है. मनोरंजक फैमिली ड्रामा बनाने के लिए मशहूर आनंद एल रॉय की 'रक्षा बंधन' की जिस तरह तारीफ़ हो रही है वह बेशक एक तरह से हैरान करने वाली 'कामयाबी' नजर आ रही है.

सोशल मीडिया पर बॉलीवुड की दोनों फिल्मों के बारे में आ रही प्रतिक्रियाओं से यह समझना मुश्किल नहीं कि लाल सिंह चड्ढा के मुकाबले रक्षा बंधन का वर्ड ऑफ़ माउथ बेहतर बन रहा है. हैरान करने वाली बात तो यह है कि रिलीज से पहले लाल सिंह चड्ढा की तरह ही रक्षा बंधन को ना देखें जाने की अपील की जा रही थी. यहां तक कि सोशल प्लेटफॉर्म्स पर दोनों फिल्मों को देखे जाने को लेकर किए जा रहे तमाम सर्वे में भी अक्षय की फिल्म कमजोर नजर आ रही थी. आमिर की तरह अक्षय की फिल्म भी 'निगेटिव कैम्पेन' में फंसी नजर आ रही थी. कैम्पेन को कुछ लोग 'हेट कैम्पेन' का नाम भी दे रहे हैं.

raksha bandhanरक्षा बंधन में अक्षय कुमार.

सेलिब्रिटी समीक्षकों ने भी आमिर पर अक्षय को सराहा

खैर, सिर्फ ऑडियंस ओपिनियन ही नहीं तरण आदर्श जैसे सितारे समीक्षकों ने भी आमिर की तुलना में अक्षय की फिल्म की जमकर तारीफें की हैं और उसे ज्यादा रेटिंग दी है. तरण ने आमिर की फिल्म को महज 2 पॉइंट देकर रेट किया जबकि रक्षा बंधन के लिए उन्होंने 5 में से 3.5 रेट खर्च किए. सेलिब्रिटी समीक्षकों की कई और रेटिंग्स में भी लगभग यही नजारा है. मुख्यधारा के समीक्षकों की अपेक्षा अगर पब्लिक ऑडियंस की बात की जाए तो वहां भी माहौल अक्षय के ही पक्ष में नजर आ रहा है.

क्या आमिर खान की फिल्म के विरोध में अक्षय को मौका मिल गया?

सोशल मीडिया पर पब्लिक क्रिटिक को देखकर लग रहा है जैसे निगेटिव कैम्पेनर्स के निशाने पर अब अकेले आमिर खान हैं. पहले इसे अक्षय भी साझा करते नजर आ रहे थे. बहुत संभावना है कि ऐसा लोगों का आमिर पर ज्यादा फोकस हो. और लाल सिंह चड्ढा कम से कम देखी जाए इसके लिए लोग अक्षय से नाराजगी के बावजूद अचानक रक्षा बंधन का विकल्प देने लगे हों. दावे से नहीं कहा जा सकता मगर रिलीज के आख़िरी वक्त में ऐसा भी होता दिख रहा है. जो भी हो, लेकिन सोशल मीडिया पर टॉप ट्रेंड्स में रक्षा बंधन नहीं है. बावजूद कि आज उसके खिलाफ कोई भी एक तगड़ा हैश टैग नहीं था. आमिर और उनकी फिल्म से जुड़े ट्रेंड ही टॉप पर हैं जिनमें लगबग सभी निगेटिव कैम्पेन ही हैं.

रक्षा बंधन की तारीफ़ करने वालों को क्या अच्छा लग रहा है?

भाई बहन के बेहतरीन रिश्ते की कहानी को दिखाने वाली रखा बंधन को कुछ लोगों ने दिल को छू लेने वाली बेहतरीन कहानी बताई है. एक यूजर ने लिखा- फिल्म की कहानी बहुत सरल है. इसे समझने के लिए दिमाग पर जोर नहीं लगना पड़ता. भावनाओं से भरी और परिवार के साथ देखने लायक एक अच्छी कहानी है जो बोर नहीं करती है. एक यूजर ने रक्षा बंधन को त्योहारी मूड के हिसाब से फील गुड मूवी करार दिया.

कई लोगों को अक्षय-भूमि का काम पसंद आया है. एक यूजर ने लिखा- पहले पारिवारिक रिश्तों पर भावुक फ़िल्में बनती थीं. लंबे वक्त बाद बॉलीवुड ने घरेलू दर्शकों के लिए कोई फिल्म बनाई है. सभी कलाकारों ने बेहतरीन काम किया है. एक यूजर ने यहां तक लिखा कि यह फिल्म आपको हंसाती है, रुलाती है. कई किरदार आपके दिल में जगह बना लेते हैं और पता भी नहीं चलता. कई यूजर्स ने फिल्म आनंद एल रॉय की तारीफ़ की और बताया कि उन्होंने तनु वेड्स मनु और रांझणा के बाद एक बाद फिर से मनोरंजक फिल्म बनाई है. ज्यादातर लोग अक्षय भूमि की फिल्म को तीन से ज्यादा रेटिंग दे रहे हैं.

IMDb पर आमिर अक्षय में आगे कौन है?

वैसे IMDb पर दोनों फिल्मों का हाल बहुत अछा तो नहीं कहा जा सकता है. मगर यहां भी ओवर ऑल रेटिंग के मामले में अक्षय की फिल्म मुकाबले में आमिर खान की फिल्म से बहुत आगे नजर आ रही है. खबर लिखे जाने तक रक्षा बंधन को करीब दो हजार से ज्यादा यूजर्स ने रेट करते हुए 10 में से 4.2 रेट किया. जबकि इसी समयावधि में लाल सिंह चड्ढा को 10 में से 3.5 रेट मिला. आमिर की फिल्म को मिली यह रेटिंग करीब करीब 12 हजार यूजर्स की वोटिंग का नतीजा है.

#रक्षाबंधन, #अक्षय कुमार, #भूमि पेडणेकर, Raksha Bandhan, Raksha Bandhan Social Review, Akshay Kumar

लेखक

आईचौक आईचौक @ichowk

इंडिया टुडे ग्रुप का ऑनलाइन ओपिनियन प्लेटफॉर्म.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय