होम -> सिनेमा

बड़ा आर्टिकल  |  
Updated: 17 फरवरी, 2021 01:58 PM
मुकेश कुमार गजेंद्र
मुकेश कुमार गजेंद्र
  @mukesh.k.gajendra
  • Total Shares

बॉलीवुड से लेकर हॉलीवुड तक अपने एक्टिंग का डंका पीटने वाली एक्ट्रेस प्रियंका चोपड़ा एक बार फिर सुर्खियों में बनी हुई हैं. इसकी वजह उनकी कोई फिल्म नहीं बल्कि उनकी पहली किताब 'अनफिनिश्ड: ए मेमॉयर' है. कई वर्षों से लगातार चर्चा में रहने वाली उनकी ये किताब रिलीज कर दी गई है. कई बड़े बुक स्टोर्स पर भी उपलब्ध है. इस किताब में प्रियंका ने अपनी निजी जिंदगी के बारे में कई खुलासे किए हैं. इतना ही नहीं कुछ मजेदार किस्से भी सुनाए हैं. इसमें बताया गया है कैसे उनके परिवार ने उनके सपने पूरे करने के लिए कुर्बानी दी. कैसे वह अपने हर फैसले पर खड़ी रहीं. सेक्सिजम से लेकर रेसिज्म तक, फैमली से लेकर लव स्टोरी तक, अपनी जिंदगी के हर बड़े लमहे को देसी गर्ल PeeCee ने इस किताब में लिखा है.

साल 2011 में प्रियंका चोपड़ा (Priyanka Chopra) की एक हिन्दी फिल्म आई थी '7 खून माफ'. इसमें वो सुजाना नामक लड़की के रोल में होती है, जो फैशनेबल, बोल्ड, अमीर और शातिर है. सुज़ाना प्यार की तलाश में एक के बाद एक सात मर्दों से रूबरू होती है, उनसे शादी करती है, इनमें में से 6 को मौत के घाट उतार देती है. इसके बावजूद पुलिस उसे पकड़ नहीं पाती. सुजाना की जिंदगी में प्यार, नफरत, सेक्स, लालच जैसे कई रंग नजर आते हैं, जो अमूमन हर किसी की जिंदगी में होते हैं. संगीत के सुर भी सात होते हैं. इंद्रधनुष भी सतरंगी दिखता है. ऐसे में हम आपको देसी गर्ल प्रियंका चोपड़ा की किताब 'अनफिनिश्ड' (Priyanka Chopra Book Unfinished: A Memoir) से वो 7 खुलासे बताएंगे, जिनको जानने के बाद आप हैरान रह जाएंगे.

untitled-1-650_021621072638.jpgबॉलीवुड एक्ट्रेस प्रियंका चोपड़ा एक बार फिर सुर्खियों में बनी हुई हैं.

1. जब लोग कहने लगे 'प्लास्टिक चोपड़ा'

प्रियंका चोपड़ा का करियर उस वक्त अंगड़ाई ले रहा था. तभी नाक में समस्या होने पर डॉक्टरों ने सर्जरी की सलाह दी. लेकिन सर्जरी के दौरान ऐसी समस्या हो गई कि उनको प्लास्टिक सर्जरी करानी पड़ गई. लोग उन्हें 'प्लास्टिक चोपड़ा' कहकर चिढाने लगे थे. इस पर अपनी किताब में प्रियंका लिखती हैं, 'मैं अपनी नाक की नेजल केविटी से पॉलिप हटाने के लिए डॉक्टर के पास गई थी. डॉक्टर ने सर्जरी रिकमेंड किया. सर्जरी के दौरान डॉक्टर से गलती से मेरी नाक की ब्राइड हट गई, जिसकी वजह से नाक का ब्रिज डैमेज हो गया. जब पट्टियां हटाई गईं, तो नाक की स्थिति देख मैं और मेरी मां दोनों ही डर गए. मेरी असली नाक पूरी तरह से जा चुकी थी. मेरा चेहरा पूरी तरह से अलग दिख रहा था. मैं यह सब देखकर टूट गई थी. उम्मीद खो चुकी थी. मैं जब भी शीशा देखती थी तो ऐसा लगता था कि अजनबी इंसान मुझे देख रहा है और हंस रहा है. मुझे लगने लगा था कि मैं इस चीज से कभी बाहर नहीं आ पाऊंगी. मुझे सबसे ज्यादा चोट इस चीज ने पहुंचाई कि मेरी नाक की सर्जरी पब्लिक अफेयर बन चुकी थी. लोग मुझे प्लास्टिक चोपड़ा बुला रहे थे. अचानक से यह नाम अखबारों और आर्टिकल्स में आने लगा था, जिसने मेरे पूरे प्रोफेशनल लाइफ में मेरा पीछा किया. हालांकि, मैं समय रहते इससे ऊबर गई थी.'

2. जब डायरेक्टर ने दी 'बूब जॉब' की सलाह

प्रियंका चोपड़ा ने अपनी किताब में उस डायरेक्टर का खुलासा भी किया है, जिसने उन्हें 'बूब जॉब' की सलाह दी थी. हालांकि एक्ट्रेस ने उसके नाम का खुलासा नहीं किया है. देसी गर्ल ने बताया कि मिस वर्ल्ड का खिताब जीतने के बाद उनकी पहली मुलाकात जिस डायरेक्टर से हुई थी, उसने उन्हें 'बूब जॉब' कराने की सलाह दी थी. वह किताब में लिखती हैं, 'कुछ मिनटों की बातचीत के बाद डायरेक्टर ने उन्हें खड़े होने और घूमने के लिए कहा. जब उन्होंने ऐसा किया तो डायरेक्टर ने उन्हें देखने के बाद कहा कि आपको बूब जॉब कराना चाहिए ताकि उनके शरीर का अनुपात सही हो जाए और वह और बेहतर नजर आएं.' डायरेक्टर से मीटिंग के बाद एक्ट्रेस काफी हैरान और खुद को छोटा महसूस कर रही थीं. उन्हें अपनी बॉडी के चलते करियर में परेशानियां उठानी पड़ी थीं. ऐसा लगा था कि जैसे शुरू होने से पहले ही खत्म सा हो गया है.

3. जब बॉयफ्रेंड संग पकड़ी गई प्रियंका चोपड़ा

13 साल की उम्र में पढ़ाई के लिए प्रियंका चोपड़ा अमेरिका चली गईं. वहां अपनी मौसी किरण के साथ रहती थीं. 9वीं क्लास में प्रियंका ने एक लड़के को डेट करना शुरू कर दिया. उसका नाम बॉब था. बॉब उस समय 10वीं क्लास में था. पीसी ने एक दिन अपनी मौसी की गैरमौजूदगी में बॉब को घर बुला लिया. बॉब के हाथों में हाथ डाले टीवी देख रही थी. एक रोमांटिक गाना शुरू होते ही दोनों करीब आ गए. दोनों एक-दूसरे को किस करने वाले ही थे कि प्रियंका मौसी आ गईं. देसी गर्ल ने आनन-फानन में अपने बॉयफ्रेंड बॉब को अलमारी में छिपा दिया. मौसी कमरे में दाखिल हुईं तो उन्हें परफ्यूम की खुशबू आ गई. उन्होंने अलमारी खोलने को कहा जिसके बाद प्रियंका डर के मारे थर-थर कांपने लगी. अलमारी खोलते ही उसमें से बॉब को बाहर आना पड़ा. मौसी ने इसके बाद गुस्से में तुरंत उनकी मां मधु चोपड़ा को कॉल कर सारी बात बता दी थी.

4. पिता की बीमारी में रियल हीरो बने रितिक रोशन

प्रियंका चोपड़ा अपने पिता डॉ. अशोक चोपड़ा से बहुत प्यार करती थीं. एक बार वह बीमार पड़ गए. उनको इलाज के लिए विदेश ले जाना था. ऐसे वक्त में रितिक रोशन ने उनके पिता को लंदन भेजने के लिए एक जहाज का इंतजाम किया था. प्रियंका के पिता को कैंसर हो गया था. इस बारे में उन्होंने अपनी किताब में लिखा है, 'हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में रितिक रोशन बहुत ही सफल हैं. उन्होंने एयर इंडिया में अपने संपर्क को फोन किया और मेरे पिता को लंदन भेजने का सफल प्रयास किया. इतना ही नहीं उनके पिता राकेश रोशन ने बोस्टन में हमारे परिवार की मदद की थी. मुझे नहीं लगता उनके मदद के बिना हमारे पिता वहां तक पहुंच पाते. मैं उनकी जीवन भर आभारी हूं और यह मेरे लिए हमेशा दिल के करीब रहेगा. पिता के निधन के बाद मैं बुरी तरह से टूट गई थी. वह मेरे लिए पिता ही नहीं मार्गदर्शक भी थे.'

5. जब फिल्मों से कर दिया जाता था बाहर

एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद बॉलीवुड में भाई-भतीजावाद को लेकर बहुत हंगामा हुआ था. आरोप लगाए गए थे कि फिल्म इंडस्ट्री में नेपोटिज्म बहुत हॉवी है. यहां आउटसाइडर के लिए टिकना बहुत टेढी खीर मानी जाती है. इसी बीच अपनी किताब में प्रियंका चोपड़ा ने भी नेपोटिज्म पर बहुत कुछ लिखा है. उन्होंने बताया है कि किस तरह रातों-रात उनको रिप्लेस करके किसी और एक्ट्रेस को काम दे दिया जाता था.आउटसाइडर होने के नाते उन्होंने एक समय ऐसा भी देखा है, जब किसी के कहने पर उन्हें फिल्मों से निकाल दिया जाता था, क्योंकि प्रोड्यूसर्स को किसी और का नाम रिकमंड कर दिया जाता था. वह इससे बहुत दुखी होती, लेकिन खुद को संभाल लेती थीं. शाहरुख खान, दीपिका पादुकोण और रणवीर सिंह जैसे सेल्फ मेड स्टार्स के बीच नेपोटिज्म पर प्रियंका कहना है कि फिल्मी पृष्ठभूमि से होने में कोई बुराई नहीं, लेकिन आउटसाइडर्स अक्सर इसका शिकार हो जाते हैं. फिल्म उमरावजान की रीमेक में उन्हें लीड एक्ट्रेस के लिए अप्रोच किया गया था. उनका नाम फाइनल था. लेकिन अंतिम समय में रोल ऐश्वर्या राय को दे दिया गया था.

6. जब कपड़े उतरवाना चाहता था डायरेक्टर

प्रियंका ने अपनी किताब में एक सॉन्ग की शूटिंग के दौरान डायरेक्टर द्वारा उनके कपड़े उतरवाने की बात का भी जिक्र किया है. उनदिनों पीसी एक सिडक्टिव सॉन्ग की शूटिंग कर रही थी. इस सॉन्ग में उनको अपने कपड़ों को एक-एक करके उतारना था. चूंकि ये एक बड़ा सॉन्ग था. इसलिए इसके शूट के लिए प्रियंका एक्स्ट्रा बॉडी लेयर पहनना चाहती थीं, ताकि उनकी स्किन न दिख सके. प्रियंका ने लिखा है, 'इसके बारे में जब मैंने अपने डायरेक्टर ने पूछा तो उन्होंने कहा कि जो भी हो, चड्ढियां (Panties) तो दिखनी ही चाहिए. नहीं तो लोग पिक्चर क्यों देखने आएंगे? मैंने इस प्रोजेक्ट को छोड़ने को मन बना लिया. मैं ऐसे सॉन्ग करने के लिए तैयार नहीं थी. डायरेक्टर के शब्दों और लहजों ने मेरी अंतरआत्मा को इसे स्वीकार करने से मना कर दिया. लेकिन इसी बीच मेरे को-स्टार सलमान खान (Salman Khan) बीच में आ गए. उनके हस्तक्षेप के बाद डायरेक्टर मेरी शर्तों पर शूट करने के लिए तैयार हो गए. यह मेरे लिए बहुत ही अजीब अनुभव था. हालांकि, सलमान खान ने मुझे असमंजस की स्थिति से बाहर निकाल दिया था.'

7. इस एक्टर ने सिखाया इंसानियत का मतलब

अपनी किताब 'अनफिनिश्ड' में प्रियंका चोपड़ा ने साउथ के एक सुपरस्टार का भी जिक्र किया है. उनसे पीसी ने इंसानियत का असली मतलब सीखा है. यह बात कम लोगों को पता है कि प्रियंका ने अपने अभिनय की शुरुआत साउथ की फिल्म 'थमिजन' से की थी. इसमें सुपरस्टार थलापति विजय मुख्य भूमिका में थे. उन्होंने अपनी किताब में लिखा है, 'विजय की विनम्रता और फैंस के साथ उनकी उदारता ने मुझ पर एक स्थायी और खास छाप छोड़ी थी. जैसे कि मैं खड़ी थी और लंच ब्रेक के दौरान उनके साथ तस्वीरें खिंचवा रही थी तो उस समय मुझे अपने पहले को-स्टार के बारे में ख्याल आया. मैंने अपने फैंस को उनका उदाहरण भी बताया था.'इस बात को प्रियंका चोपड़ा ने अपने एक किस्से के साथ शेयर करते हुए विस्तार में बताया है. उन्होंने बताया कि पिछले साल वह अपनी वेब सीरीज क्वांटिको की शूटिंग न्यूयॉर्क शहर में कर रही थीं. जब फैंस को पता चला कि प्रियंका शहर में शूटिंग कर रही हैं तो वह सभी उनके साथ एक तस्वीर खिंचवाने के लिए शूटिंग सेट पर आ गए थे. तब उनको विजय की विनम्रता याद आ गई थी.

#प्रियंका चोपड़ा, #किताब, #अनफिनिश्ड, Priyanka Chopra, PeeCee Book Unfinished A Memoir, Bollywood

लेखक

मुकेश कुमार गजेंद्र मुकेश कुमार गजेंद्र @mukesh.k.gajendra

लेखक इंडिया टुडे डिजिटल में वरिष्ठ पत्रकार हैं.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय