charcha me| 
New

होम -> सिनेमा

 |  6-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 16 सितम्बर, 2022 05:56 PM
आईचौक
आईचौक
  @iChowk
  • Total Shares

''सोचता हूं के वो कितने मासूम थे, क्या से क्या हो गए देखते देखते''...साल 2018 में रिलीज हुई फिल्म 'बत्ती गुल मीटर चालू' का ये गाना इस वक्त बॉलीवुड एक्ट्रेस जैकलीन फर्नांडीज पर बहुत सटीक बैठ रहा है. जब वो एक ठग के पैसों से ऐश कर रही थीं, उस वक्त उनको बिल्कुल भी समझ नहीं आया कि ये पैसे कहां से आ रहे हैं. जब वो महंगे-महंगे गिफ्ट ले रही थीं, तब भी उनको ये समझ नहीं आया कि देने वाले के मंसूबे क्या हैं. आज जब ईडी और ईओडब्ल्यू के दफ्तर के चक्कर लगा रही हैं. जांच एजेंसी के अधिकारियों के सामने बैठ कर पूरे दिन सवालों के जवाब दे रही हैं, तब उनको समझ आया कि उन्होंने गलती की है. अब वो मासूम बन रही हैं. खुद को सुकेश के फरेब से बेखबर बता रही हैं. लेकिन अब राज का फाश हो चुका है. सुकेश के साथ उनके रिश्ते सामने आ चुके हैं. बस जांच एजेंसियां एक्ट्रेस और उनके दोस्त के गुनाहों के जड़ तक जाना चाहती हैं.

इसी सिलसिले में दिल्ली पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा यानी ईओडब्ल्यू ने जैकलीन फर्नांडीज से लंबी पूछताछ की है. महाठग सुकेश चंद्रशेखर से जुड़े 200 करोड़ रुपए के मनी लॉन्ड्रिंग केस में एक्ट्रेस पूछताछ के लिए मुंबई से दिल्ली स्थित ईओडब्ल्यू के दफ्तर पहुंची थीं. वहां उनसे 8 घंटे की पूछताछ में 100 से ज्यादा सवाल किए गए हैं. उनके साथ पिंकी ईरानी भी मौजूद थी, जिसके जरिए एक्ट्रेस महाठग के संपर्क में आई थीं. दोनों से अलग-अलग पूछताछ की गई. इस दौरान जैकलीन कई सवालों के जवाब ठीक से नहीं दे पाईं. जांच एजेंसी उनके जवाब से असंतुष्ट थी, जिसकी वजह से उनको पूछताछ के लिए दोबारा बुलाया गया है. इसके साथ ही उनको सुकेश द्वारा दिए गए गिफ्ट की लिस्ट बनाने के लिए भी कहा गया है. पहले ईडी और ईओडब्ल्यू की जांच और लगातार पूछताछ से इतना तो तय है कि इस महाठगी के खेल में एक्ट्रेस की भूमिक भी संदिग्ध है.

650x400_091422114437.jpg200 करोड़ रुपए के मनी लॉन्ड्रिंग केस में बॉलीवुड एक्ट्रेस जैकलीन फर्नांडीज से लगातार पूछताछ हो रही है.

हिंदुस्तान में बहुत सारे लोग ऐसे हैं, जो जैकलीन फर्नांडीज जैसी अभिनेत्रियों और कलाकारों से प्रभावित रहते हैं. यहां तक कि अपना जीवन साथी भी उनके जैसा ही चाहते हैं. लेकिन सच ये है कि ये बड़ी-बड़ी एक्ट्रेस ब्रांडेड कपड़ों से आकर्षित होती हैं. पैसों से आकर्षित होती हैं. महंगे इलेक्ट्रॉनिक गैजेट्स से आकर्षित होती हैं. इनके लिए रंग-रूप, स्वभाव, ईमानदारी और परिश्रम का कोई मोल नहीं होता है. आखिर जैकलीन ने ये जानने की कोशिश क्यों नहीं किया कि सुकेश के पास इतना पैसा कहां से आ रहा है? उन्होंने इस बारे में उससे एक सवाल तक नहीं पूछा होगा. बताया तो ये जा रहा है कि जैकलीन सुकेश की बातों में इसलिए आ गई क्योंकि हर बार जब भी उनके बीच वीडियो कॉल होती, तो वो महंगे और ब्रांडेड कपड़े पहने होता था. एक्ट्रेस को ये लगा कि ये व्यक्ति बहुत पैसे वाला है. उन्हें इससे गहरी दोस्ती कर लेनी चाहिए. इस तरह उनको सुकेश में सिर्फ उसका पैसा दिखा.

महंगे और ब्रांडेड कपड़ों और गैजेट्स से आकर्षित एक्ट्रेस

जैकलीन फर्नांडीज ने ईडी को जो बयान दिया था, उसमें उन्होंने खुद बताया था कि वो जब भी सुकेश से बात करती थीं तो वो अलग-अलग कपड़ों में दिखता था. उसके सभी कपड़े काफी महंगे और ब्रांडेड होते थे. उसके पास हमेशा iPhone और iPod भी रहता था. उन्होंने पहली बार सुकेश से फोन पर बात की थी तो उसने बताया कि वो हथियारों का एक बड़ा सौदागर है, उसकी अपनी कोयले की खदाने हैं, वो एक बड़े ज्वैलरी ब्रांड का मालिक है. चेन्नई के होटल लीला में भी उसकी 50 प्रतिशत की हिस्सेदारी है. लेकिन जैकलीन इतनी मासूम निकली कि उन्होंने महाठग के तमाम झूठी बातों पर आसानी से यकीन कर लिया. अब यही मासूमियत जांच एजेंसियों के सामने दिखा रही है. उनका कहना है कि वो खुद एक पीड़ित हैं. उन्हें इस अपराधी ने धोखे में रखा था. लेकिन दूसरी तरफ जांच एजेंसियां मानती हैं कि जैकलीन को इस व्यक्ति की बेईमानी के बारे में सब कुछ पता था.

7 महीने की दोस्ती में 7 करोड़ पानी की तरह बहा दिए

ईडी के मुताबिक, जून 2021 में जैकलीन की मुलाकात एक मशहूर फिल्म लेखक से हुई, जिसके बाद उन्होंने उससे अपने लिए एक फिल्म लिखने को कहा था. इसके बदले में उस लेख ने उनसे 15 लाख रुपये मांगे थे. ये पैसे महाठग सुकेश ने जैकलीन के कहने पर उस लेखक के बैंक अकाउंट में जमा कराए थे. इतना ही नहीं सुकेश ने एक्ट्रेस को एस्पुएला नाम का एक 50 लाख का घोड़ा और 9-9 लाख रुपए की बिल्लियां गिफ्ट की थीं. इनके अलावा, गुच्ची के 3 डिजाइनर बैग, गुच्ची के 2 जिम वियर, लुई विटॉन के एक जोड़ी शूज, हीरे की दो जोड़ी बालियां, माणिक का एक ब्रेसलेट, दो हेमीज ब्रेसलेट और एक मिनी कूपर कार दी थी. फरवरी 2021 से अगस्त 2021 के बीच यानी सिर्फ सात महीने में उसने जैकलीन पर पानी की तरह 7 करोड़ रुपए बहा दिए. इनमें लगभग 6 करोड़ रुपये की तो सिर्फ ज्वैलरी, महंगी घड़ियां, जूते और पेंटिंग थीं. इसके अलावा अमेरिका मे रह रही जैकलीन की बहन को सवा करोड़ की कार और बहरीन में रह रहे उनके माता-पिता को लगभग दो करोड़ रुपए के तोहफे इसने अलग से दिए. इस तरह एक्ट्रेस सीधे कैश की जगह एसेट्स ले रही थीं.

हाई स्कूल ड्रॉप आउट महाठग सुकेश ऐसे ठगी करता था

33 साल का सुकेश चंद्रशेखर बेंगलूरु का रहने वाला है. वो हाई स्कूल ड्रॉप आउट है. ईडी ने इसे बहुत शातिर अपराधी और ठग बताया है. आरोप है कि इस व्यक्ति ने पिछले 15 वर्षों में एक हज़ार से ज्यादा लोगों से 500 करोड़ रुपए की ठगी की है. इस दौरान कभी ये IAS ऑफिसर बनकर लोगों को ठगता था तो कभी ये खुद को तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री और दिवंगत नेता एम. करुणानिधि का पोता बताता था. साल 2007 से 2017 के बीच इसने कई मशहूर लोगों को ठगा, लेकिन सबसे बड़ी बेईमानी इसने साल 2020 में की, जब ये दिल्ली की एक जेल में बंद था. उस समय भारत की बड़ी फार्मा कम्पनियों में से एक रैनबैक्सी के पूर्व मालिक शिविंदर मोहन सिंह भी आर्थिक गड़बड़ी के एक मामले में जेल में बन्द थे. सुकेश को लगा कि वो उनकी पत्नी को आसानी से ठग सकता है. इसने तब जेल से कारोबारी की पत्नी को फोन किया और खुद को भारत सरकार का कानून सचिव बताया.

क्या वसूली के पैसों से जैकलीन फर्नांडीज ऐश कर रही थीं?

इसके बाद कहा कि केन्द्र सरकार कोविड पर रोकथाम के लिए एक पैनल का गठन करना चाहती है और उसमें उनके पति को भी जगह दी जाएगी. इसीलिए सरकार ने तय किया है कि वो उनके पति को जमानत पर बाहर लाने में मदद करेगी. जून 2020 से 2021 के बीच रैनबैक्सी के पूर्व मालिक की पत्नी ने इस मशहूर अपराधी को कभी पार्टी फंड तो कभी किसी और नाम पर 200 करोड़ रुपए की रिश्वत दे दी. ईडी को जब इस लेन-देन पर शक हुआ तो ये पूरा मामला खुलकर सामने आ गया. इसी के बाद दिल्ली पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा द्वारा ये केस दर्ज किया गया. इसी में बॉलीवुड एक्ट्रेस जैकलीन फर्नांडीज से पूछताछ की जा रही है. अब सवाल यही है कि क्या वसूली के पैसों से जैकलीन ऐश कर रही थीं? क्या वाकई सुकेश चंद्रशेखर की करोड़ों की ठगी से वाकिफ थी? क्या सुकेश के फरेब से अंजान होने का जैकलीन का दावा झूठा है? देखते हैं सवालों का जवाब कबतक मिलता है.

लेखक

आईचौक आईचौक @ichowk

इंडिया टुडे ग्रुप का ऑनलाइन ओपिनियन प्लेटफॉर्म.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय