होम -> सिनेमा

बड़ा आर्टिकल  |  
Updated: 26 जून, 2020 09:39 PM
आईचौक
आईचौक
  @iChowk
  • Total Shares

सुशांत सिंह राजपूत कहीं सितारों की दुनिया में होंगे. सुशांत को तारों की दुनिया से बेहद लगाव था. मुंबई स्थित अपने फ्लैट से टेलिस्कोप से देखते हुए उन्हें सितारों की दुनिया दूर लगती होगी, शायद इसलिए वह यहां लाखों फैंस की आंखें नम कर अपनी फेवरेट दुनिया में चले गए और पीछे छोड़ गए सैकड़ों सवाल. सुशांत की मौत को 10 दिन से ज्यादा हो गए हैं. लोग अब भी स्वीकार नहीं कर पा रहे हैं कि जिस फिल्मी धोनी को वह मोबाइल और टीवी में अक्सर देखते रहते हैं, वह अपने पीछे महज कुछ किरदार छोड़ गया है, जिसमें महेंद्र सिंह धोनी का फिल्मी अवतार सबसे खास है. सुशांत चले गए, लेकिन अपने पीछे छोड़ गए आखिरी और सबसे अनमोल यादें- दिल बेचारा.

दिल बेचारा सिर्फ सुशांत सिंह राजपूत के लिए ही नहीं, बल्कि फिल्म इंडस्ट्री में उनके सबसे अच्छे दोस्त माने जा रहे एक्टर, कास्टिंग डायरेक्टर से लेकर डायरेक्टर तक का सफर करने वाले मुकेश छाबड़ा के लिए बेहद खास है. दिल बेचारा मुकेश छाबड़ा के लिए किसी सपने की तरह है, जिसमें सुशांत ने सबसे ज्यादा रंग भरे थे. सुशांत अब नहीं हैं तो उनकी फिल्म दिल बेचारा रिलीज होने वाली है. सुशांत सिंह राजपूत, संजना संघी और सैफ अली खान जैसे सितारों से सजी दिल बेचारा 24 जुलाई को डिज्नी हॉटस्टार पर रिलीज हो रही है. सबसे खास बात है कि दिल बेचारा के प्रड्यूसर फॉक्स स्टार स्टूडियो ने इसे ओटीटी प्लैटफॉर्म डिज्नी हॉटस्टार पर फिल्म को फ्री रखा है, यानी आप हॉटस्टार ऐप और वेबसाइट पर बिना सब्सक्रिप्शन फीस चुकाए इस फिल्म को फ्री में देख सकते हैं. हालांकि, सुशांत के फैंस डिमांड कर रहे थे कि दिल बेचारा को थिएटर में रिलीज किया जाए और आज वह ट्विटर पर अपनी नाराजगी भी जाहिर कर रहे हैं.

एक यादगार सफर की तरह है दिल बेचारा

अमेरिकी उपन्यासकार John Green के उपन्यास The Fault in Our Stars पर आधारित फिल्म दिल बेचारा में म्यूजिक मेस्ट्रो एआर रहमान ने संगीत दिया है और गीत लिखे हैं अमिताभ भट्टाचार्य ने. बॉलीवुड की टॉप फिल्मों के कास्टिंग डायरेक्टर मुकेश छाबड़ा ने अक्टूबर 2017 में घोषणा की थी कि वह फेमस नोवेल द फॉल्ट इन आर स्टार्स पर हिंदी में फिल्म बनाएंगे. शशांक खेतान और सुप्रतिम सेनगुप्ता ने नोवेल को फिल्म की शक्ल दी है. फिल्म का टाइटल पहले Kizie Aur Manny रखा गया था, लेकिन हिंदी नाम करने के चक्कर में इसे बाद में बदलकर दिल बेचारा कर दिया गया.

दिल बेचारा कहानी है दो कैंसर पैशेंट की, जो उम्र की बीसवीं दहलीज भी पार नहीं कर पाए हैं और मौत उनका इंतजार कर रही है. कैंसर पैशेंट केयर सेंटर में दोनों की मुलाकात होती है. बात शुरू होती है तो दोनों किस्से-कहानियों की दुनिया में खुशी ढूंढने लगते हैं. फिर अपने फेवरेट उपन्यासकार से मिलने के लिए पैरिस जाते हैं, जहां दोनों एक-दूसरे के प्रति अपने प्यार को जाहिर करने के साथ ही शारीरिक खुशियों से रूबरू होते हैं. द फॉल्ट इन आर स्टार्स को आसान भाषा में समझे तो इसका मतलब होता है- किस्मत का खेल. किस्मत ऐसी, जो आपकी जिंदगी सीमित कर देती है. आपकी खुशियों की वजहें कम कर देती हैं. सुशांत सिंह राजपूत इसी कहानी के दो मुख्य पात्र हैं, जिन्हें जोड़ने वाली कड़ी बनते हैं सैफ अली खान.

For the one last time we want our hero on big screen#DilBechara #DilBecharaOnBigScreens #ourherosushant pic.twitter.com/Us3S0thRMb

जमशेदपुर और पैरिस में दिखेगी सुशांत-संजना की कहानी

दिल बेचारा की ज्यादातर शूटिंग झारखंड के जमशेदपुर में हुई है. लंबे समय तक वहां सुशांत सिंह राजपूत और संजना संघी रहे और फिल्म की शूटिंग पूरी की. बाद में फिल्म का आखिरी शेड्यूल पैरिस में शूट किया गया. इस फिल्म की शूटिंग के कुछ फोटो बराबर आते रहे हैं, जिसमें सुशांत और संजना की जोड़ी देख दर्शकों का इंतजार बढ़ता जा रहा है. इस फिल्म की सबसे मजबूत कड़ी साबित होगी म्यूजिक. वर्षों हो गए लोगों को एआर रहमान के वास्तविक संगीत से रूबरू हुए. शायद दिल बेचारा में फिर से रहमान का जादू देखने को मिले.

काश कोरोना न होता तो थिएटर में रिलीज होती फिल्म

दिल बेचारा के पोस्ट प्रोडक्शन काम में काफी लंबा समय लग गया और फिर कोरोना संकट ने सारा खेल बिगाड़ दिया. सबकुछ ठीक रहता तो फिल्म मई में ही रिलीज हो जाती. आज जब सुशांत इस दुनिया में नहीं हैं तो उनकी आखिरी निशानी के रूप में दिल बेचारा फिल्म दर्शकों के लिए सुकून की तरह है, जहां वे अपने फेवरेट को पर्दे पर देख हंसेंगे, रोएंगे और कहेंगे कि यार सुशांत, ऐसे नहीं जाना चाहिए था. लोग कहेंगे कि सुशांत, तुमने तो दिल बेचारा के अपने किरदार को सीरियसली ले लिया.

 
 
 
View this post on Instagram

Kizie Aur Manny . . #KizieAurManny #Casting #castingchhabra #SanjanaSanghi #SushantSinghRaput

A post shared by Dil Bechara! (@dilbecharaofficial) on

‘साथ सपने देखे, लेकिन सुशांत अकेला छोड़ गया’

दिल बेचारा के डायरेक्टर मुकेश छाबड़ा ने फिल्म रिलीज डेट की घोषणा करते हुए इंस्टाग्राम पर एक लंबा पोस्ट लिखा. उन्होंने लिखा कि मैंने और सुशांत ने एक साथ कई सपने देखे. वह बोलता था कि आपकी पहली फिल्म का हीरो मैं ही होउंगा. हमने साथ जीवन की योजनाएं बनाईं. महीनों साथ समय बिताया. आज सुशांत के बिना यह फिल्म रिलीज करनी पड़ रही है. सुशांत कहीं सितारों की दुनिया से यह सब देख रहा होगा. किसी की अंतिम यात्रा हमेशा दुखदायी होती है. सुशांत सिंह राजपूत इस तरह अपने आखिरी सफर पर निकल जाएंगे, ऐसा को किसी ने सोचा ही नहीं था. लेकिन एक दिन खबर आई कि एक सुशांत सिंह राजपूत था, जिसने छोटे शहर के लाखों लोगों को सपना देखना सिखाया और खुद ही बिना बताए किसी को दुनिया से चलता बना.

 

Dil Bechara Release Date, Sushant Singh Rajput, Sushant Singh Rajput Last Film

लेखक

आईचौक आईचौक @ichowk

इंडिया टुडे ग्रुप का ऑनलाइन ओपिनियन प्लेटफॉर्म.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय