होम -> सिनेमा

 |  4-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 25 जनवरी, 2016 08:37 PM
पारुल चंद्रा
पारुल चंद्रा
  @parulchandraa
  • Total Shares

@WhoSunilGrover??? ट्विटर का ये हैंडल पूछ रहा है कि कौन सुनील ग्रोवर... और इस सवाल का जवाब आज हर किसी के पास है. सुनील ग्रोवर को आज हर कोई जानता है. कॉमेडी की दुनिया का वो नाम जिसे लोग गुत्थी के नाम से जानते हैं. इस किरदार को लोगों ने इतना पसंद किया कि सुनील खुद भी डर गए थे कि लोग उन्हें महिला के किरदार में ही पसंद करते हैं, अपनी इमेज को लेकर उन्होंने किरदारों के साथ काफी एक्सपेरिमेंट किए और अब सुनील ग्रोवर किसी भी किरदार में आ जाएं, उनका काम उनको सबसे अलग, सबसे बेहतर साबित कर देता है. कॉमेडी नाइट्स विद कपिल को भले ही कपिल लीड कर रहे हों, लेकिन शो को टीआरपी गुत्थी ने ही दिलवाई.

शर्मीली - हाजिर जवाब गुत्‍थी:

सुनील ग्रोवर अब तक कई शो में दिखाई दिए, कई किरदार में नजर आए, लेकिन वो एक शो, वो एक किरदार जो लोगों के दिलों में हमेशा के लिए बस गया वो है 'गुत्थी'. चटख रंग का सलवार सूट, दो गुथी चोटियां, उसमें बंधा लाल रिबन, पैरों में स्पोर्ट्स शूज़, नजरें नीचे और चेहरे पर शरारती सी मुस्कुराहट...ये है गुत्थी. ये वो किरदार है जिसने सुनील को स्टार बना दिया. और लोगों को सुनील का दीवाना. 'कॉमेडी नाइट्स विद कपिल' में बिट्टू(कपिल शर्मा) जितना पॉपुलर है, उतनी ही गुत्थी(सुनील) भी. वो सिग्नेचर सॉन्ग जो किसी कलाकार के आने पर गुत्थी अक्सर गाया करती थी, 'आप आए हमारे घर...फूल खिले हैं गुलशन गुलशन..' वो हर किसी के चेहरे पर मुस्कुराहटें ले आता. और गुत्थी की कही कुछ बातें जैसे 'जूस मी' को क्या कोई भूल सकता है.

 

38 की गुत्‍थी

गुत्थी कुछ न भी बोले तो उसके चेहरे के हाव-भाव न जाने कितना कुछ बोलते. ये सुनील ग्रोवर के अभिनय और टेलेंट का कमाल था कि ये अहसास भी नहीं होता था कि एक शर्मीली और बुद्धू लड़की का किरदार निभाने वाला यह कलाकार 38 वर्षीय पुरुष है. आदमी होकर भी एक औरत के किरदार को जीना, उसे फूहड़ दिखाए बिना दर्शकों के दिलों में जगह बनाना, काबिले तारीफ है. उनके इंट्रोडक्शन डायलॉग पर तालियां और सीटियां आज भी जोर-शोर से बजती हैं.

रूठी गुत्‍थी

सुनील एक बार कॉमेडी नाइट्स छोड़कर शो से अलग भी हो गए थे. उनके जाने से शो की टीआरपी पर तो असर पड़ा ही उनके प्रशंसकों को भी निराश होना पड़ा. हालांकी दूसरे शो में काम करने पर भी लोग गुत्थी के किरदार को भुला नहीं पाए. आखिरकार सुनील को कॉमेडी नाइट्स पर वापस आना पड़ा. और दोबारा जब वो आए तो एक नया किरदार साथ लेकर. वो किरदार था बिट्टू शर्मा के ससुर यानी मंजू के पापा खैरातीलाल का. जिसे उन्होंने उतने ही शानदार तरीके से निभाया है. यहां तक कि सलमान खान भी उनके इस किरदार पर बेतहाशा हंसे.

फिल्‍मी गुत्‍थी

सुनील चंडीगढ़ में थिएटर में काम करते थे जहां उन्हें टीवी के सबसे पुराने कॉमेडियन जसपाल भट्टी के साथ काम करने का मौका मिला. तब से सुनील ने रेडियो, टीवी और फिल्मों में कई सारे किरदार निभाए और उन्हें अमर कर दिया. रेडियो पर सुनाए जाने वाले चुटकुले हों या फिर फिल्म 'गजनी' में सम्पत का किरदार, फिल्म 'जिला गाजियाबाद' का फकीरा हो या फिर 'गब्बर इज बैक' का कांस्टेबल साधुराम, 'कॉमेडी नाइटेस' की गुत्थी हो या फिर मंजू के पापा, वो कॉमेडी करें या फिर सीरियस रोल अदा करें, उनका हर किरदार बेमिसाल है. फिल्म दिलवाले के गीत 'गेरुआ' के सही मायने अगर किसी ने समझाए तो वो थे सुनील ग्रोवर. अपने काम को किस शिद्दत से करना चाहिए ये इस वीडियो में साफ दिखता है.

सैल्‍यूट गुत्‍थी

बचपन में सुनील अपने परिवार वालों की नकल किया करते थे. लोग हंसते, उनके चुटकुलों पर ठहाके लगाया करते थे. उन्हीं ठहाकों ने सुनील को अपना भविष्य गढ़ने की प्रेरणा दी थी. सुनील ग्रोवर का वो भविष्य आज हर किसी के होठों की मुस्कान बना हुआ है. आम आदमी हो या फिर फिल्मी सितारे आज सब सुनील के दीवाने हैं. कहने को तो अब कॉमेडी नाइट्स विद कपिल ऑफ एयर हो रहा है. 17 जनवारी को इस शो का आखिरी एपिसोड दिखाया जाएगा. इसके बाद शायद ही हम इन किरदारों को दोबारा कभी एक साथ देख पाएं. शो बदल जाएंगे, किरदार बदल जाएंगे, लेकिन वो जादू कभी नहीं बदलेगा जो सुनील ग्रोवर ने अपने चाहने वालों पर चलाया है. We will miss you gutthi!!

लेखक

पारुल चंद्रा पारुल चंद्रा @parulchandraa

लेखक इंडिया टुडे डिजिटल में पत्रकार हैं

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय