होम -> सिनेमा

बड़ा आर्टिकल  |  
Updated: 20 सितम्बर, 2020 03:36 PM
आईचौक
आईचौक
  @iChowk
  • Total Shares

हिंदी फ़िल्म इंडस्ट्री और यहां के लोग ड्रग्स के सेवन और सुशांत सिंह राजपूत की मौत मामले के साये से निकल नहीं पा रहे हैं और इस बीच बॉलीवुड के बेहद फेमस चेहरों में से एक राइटर, एक्टर, प्रोड्यूसर और डायरेक्टर अनुराग कश्यप पर एक्ट्रेस पायल घोष ने यौन उत्पीड़न की कोशिश का आरोप लगाकर नए विवाद को जन्म दे दिया है. बीते कुछ वर्षों के दौरान नाना पाटेकर, साजिद खान, सुभाष घई, राजकुमार हिरानी, विकास बहल समेत ढेरों डायरेक्टर, प्रोड्यूसर और एक्टर पर लगे MeToo के आरोपों की श्रृंखला में अनुराग कश्यप का नाम जुड़ने से सोशल मीडिया समेत फ़िल्मी गलियारों में भी हंगामा मच गया है और इस मामले में राष्ट्रीय महिला आयोग ने भी संज्ञान लिया है. हालांकि, अनुराग कश्यप ने पायल घोष के आरोपों को बेबुनियाद बताते हुए कहा है कि उन्हें चुप करवाने की यह कोशिश मात्र है और उन्होंने किसी के साथ कुछ भी गलत नहीं किया है. हालांकि, कंगना रनौत पर एक के बाद एक टिप्पणी करने और नरेंद्र मोदी सरकार के धुर आलोचक अनुराग कश्यप अब पायल घोष के आरोपों के बाद सोशलल मीडिया पर लोगों की नजरों में चढ़ गए हैं और उन्हें बॉलीवुड के चरसी गैंग के सरगना कहने के साथ ही मीटू के मामलों में घसीटा जाने लगा है.

सोशल मीडिया पर अपनी बेबाकी और बयानबाजी के लिए फेमस अनुराग कश्यप भले कंगना रनौत मामले और सुशांत सिंह राजपूत को लेकर दिए गए बयानों की वजह से हाल के दिनों में फेमस हों, लेकिन बीते शुक्रवार को जब पायल घोष नामक एक्ट्रेस ने एक तेलुगू चैनल को दिए इंटरव्यू में खुलासा किया कि अनुराग कश्यप ने साल 2014-15 के दौरान उनके साथ जबरदस्ती करने की कोशिश की और कहा कि फ़िल्मों में रोल के लिए ये सब करना आम बात है. पायल घोष ने यहां तक कहा कि अनुराग कश्यप ने उन्हें चुप रहने की धमकी दी और ऐसा न करने पर उनपर एसिड अटैक करवाने की भी बात कही. दुनिया को इस रचनात्मक आदमी के अंदर के शैतान को देखना चाहिए. पायल घोष ने इस मामले में पीएम नरेंद्र मोदी और पीएमओ को टैग करते अपील की कि उन्हें सुरक्षा मुहैया कराई जाए, क्योंकि इसके बाद उनकी जान को खतरा हो सकता है.

पायल घोष के खुलासे के बाद तो जैसे हंगामा हो गया. पल भर में सोशल मीडिया पर अनुराग के खिलाफ ट्रेंड्स चलने लगे और कंगना रनौत ने भी पायल घोष का समर्थन करते हुए सच सामने लाने की अपील की. इस मामले में राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने भी पायल घोष को महिला आयोग में विस्तृत शिकायत दर्ज कराने को कहा. इस मामले में अब सोशल मीडिया पर अनुराग कश्यप की भारी फजीहत हो रही है और यह विवाद गहराता जा रहा है, जब लोग बोलने लगे हैं कि नाना पाटेकर मामले में तो फ़िल्म इंडस्ट्री ने नाना का साथ नहीं दिया, अब अनुराग कश्यप मामले में देखते हैं कि फ़िल्म इंडस्ट्री का रुख क्या होता है और सच्चाई किस तरह सामने आती है. आपको बता दूं कि फ़िल्म इंडस्ट्री में अनुराग के खिलाफ फिलहाल इक्का-दुक्का लोग ही हैं, जो बोल रहे हैं या पायल घोष का समर्थन कर रहे हैं.

अनुराग कश्यप ने पायल घोष के आरोपों पर बहुत कुछ कहा...

अनुराग कश्यप पर जब पायल घोष ने यौन उत्पीड़न के आरोप लगाए तो उन्होंने जवाब देने में थोड़ा समय लिया और शनिवार देर रात उन्होंने सिलसिलेवार ट्वीट में अपनी बातें रखीं. अनुराग ने कहा- ‘क्या बात है , इतना समय ले लिया मुझे चुप करवाने की कोशिश में. चलो कोई नहीं. मुझे चुप कराते-कराते इतना झूठ बोल गए कि औरत होते हुए दूसरी औरतों को भी संग घसीट लिया. थोड़ी तो मर्यादा रखिए मैडम. बस यही कहूंगा कि जो भी आरोप हैं आपके, सब बेबुनियाद हैं. बाकी मुझपे आरोप लगाते लगाते, मेरे कलाकारों और बच्चन परिवार को संग में घसीटना तो मतलब नहले पे चौका भी नहीं मार पाए. मैडम दो शादियां की हैं, अगर वो जुर्म है तो मंज़ूर है और बहुत प्रेम किया है, वो भी क़बूलता हूं. चाहे मेरी पहली पत्नी हो या दूसरी पत्नी हों या कोई भी प्रेमिका या वो बहुत सारी अभिनेत्रियां, जिनके साथ मैंने काम किया है, या वो पूरी लड़कियों और औरतों की टीम, जो हमेशा मेरे साथ काम करती आई हैं, या वो सारी औरतें, जिनसे मैं मिला बस, अकेले में या जनता के बीच. मैं इस तरह का व्यवहार ना तो कभी करता हूं, ना तो कभी किसी कीमत पर बर्दाश्त करता हूं. बाकी जो भी होता है, देखते हैं. आपके वीडिओ में ही दिख जाता है कि कितना सच है, कितना नहीं, बाकी आपको बस दुआ और प्यार. आपकी अंग्रेजी का जवाब हिंदी में देने के लिए माफी.’ अनुराग कश्यप ने इस मौके को भांप लिया है और अपने फैंस के साथ ही विरोधियों को भी इस ट्वीट के माध्यम से अगाह कर दिया है कि अभी तो बहुत आक्रमण होने वाले हैं. यह बस शुरुआत है. बहुत फोन आ चुके हैं कि नहीं मत बोल और चुप हो जा. यह भी पता है कि पता नहीं कहां-कहां से तीर छोड़े जाने वाले हैं. इंतेज़ार है.

 

 

 

 

 

आखिर माजरा क्या है?

अनुराग कश्यप के ऊपर लगे MeToo के आरोपों के बाद सोशल मीडिया पर बहस शुरू हो गई है कि क्या मीटू को लेकर मुखर रहने वाले और अपने बिजनेस पार्टनर और डायरेक्टर विकास बहल पर यौन उत्पीड़न के आरोपों के बाद उनसे संबंध तोड़ने वाले अनुराग कश्यप ने वाकई पायल घोष के साथ जबरदस्ती करने की कोशिश की या पायल घोष उनपर मनगढ़ंत आरोप लगा रही है. इस मुद्दे पर फ़िल्म इंडस्ट्री के साथ ही सोशल मीडिया भी बंट गई है. कुछ लोगों को कहना है कि अनुराग कश्यप ने पायल घोष ही नहीं, बल्कि और भी मॉडल या एक्ट्रेस होंगी, जिनके साथ गलत व्यवहार किया होगा. वहीं अनुराग कश्यप के फैंस और उनके दोस्त कह रहे हैं कि अब 5 साल बाद अचानक से पायल घोष को याद आया कि अनुराग ने उनका यौन उत्पीड़न किया है और धमकी दी है, यह बात पच नहीं रही. लोग इसे कंगना और अनुराग के ट्विटर वॉर से भी जोड़कर देख रहे हैं कि जबसे अनुराग ने कंगना को जवाब देना शुरू किया है, उसके बाद ही पायल घोष का यह इकरारनामा आया है और कंगना के साथ ही पायल भी बीजेपी के हित में ऐसा कर रही है, क्योंकि अनुराग अक्सर सरकार विरोधी बयानबाजी करते रहते हैं.

अनुराग कश्यप को लेकर फ़िल्म इंडस्ट्री की प्रतिक्रिया क्या?

अनुराग कश्यप से मीटू मामला जुड़ने के बाद एक बार फिर से मीटू कैंपेन के दुरुपयोग की बात सामने आने लगी है, जहां लोग नाना पाटेकर का हवाला देते हुए कई तरह की बातें कर रहे हैं. साथ ही इस तरह की बातें भी उठने लगीं हैं कि आज जब अनुराग कश्यप के ऊपर आरोप लगे तो फ़िल्म इंडस्ट्री के लोग चुप क्यों हैं? सोशल मीडिया पर तो बीते दो दिन से अनुराग कश्यप के खिलाफ हजारों ट्वीट्स हो चुके हैं और लोग उनकी असलियत दुनिया के सामने लाने की अपील करते हुए पायल घोष के समर्थन में आवाज उठा रहे हैं. हालांकि, इन सबके बीच एक बात बताना जरूरी है कि पायल घोष ने साफ-साफ कहा है कि उनके पास अनुराग के खिलाफ कोई सबूत नहीं है और अनुराग से उनकी बातचीत भी नहीं होती. अपने वीडियो में पायल घोष ने कहा है कि वह जब पहली बार अनुराग से मिली थीं तो अनुराग ने उन्हें खाना खिलाया था. बाद में वह कई बार अनुराग के घर पर या ऑफिस में मिलीं और इसी दरमियां एक बार अनुराग ने जबरदस्ती करने की कोशिश की. अब आने वाले समय में ये देखना दिलचस्प होगा कि अनुराग कश्यप के ऊपर पायल घोष द्वारा लगाए आरोपों पर क्या होता है और इसकी सच्चाई किस तरह सामने आती है.

Anurag Kashyap, Anurag Kashyap Metoo, Anurag Kashyap Harassment Accusation

लेखक

आईचौक आईचौक @ichowk

इंडिया टुडे ग्रुप का ऑनलाइन ओपिनियन प्लेटफॉर्म.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय