charcha me | 

सियासत

 |  3-मिनट में पढ़ें  |   17-02-2017

शशिकला की जेल यात्रा 4 साल नहीं होगी. हालांकि सुप्रीम कोर्ट ने ट्रायल कोर्ट के आदेश को बरकरार रखते हुए उच्च न्यायालय के फैसले के उलट अपना फैसला दिया. जिसमें कहा गया कि उन्हें 4 साल की सजा होगी. 6 साल कोई चुनाव नहीं लड़ सकतीं, और 10 साल तक राजनीतिक पद पर भी नहीं रह सकतीं. मतलब वो आने वाले 10 सालों तक मुख्यमंत्री तो नहीं बन पाएंगी. अब ये जानना महत्वपूर्ण हो गया है कि क्या शशिकला 4 साल जेल में रहेंगी, या उन्हें सजा में कुछ रियायत मिलेगी, अगर मिलेगी तो किन शर्तों पर, जिन्हें समझाना जरूरी है.

sasikala1_021717030001.jpeg

शशिकला को जेल में छूट ?

- 6 दिनों की छूट या माफी होगी प्रति माह, बशर्ते उनका व्यवहार और कार्य जेल के मानदंडों के अनुरूप होगा, यानि प्रति वर्ष 72 दिनों की रियायत.

- सालाना तौर पर विशेष 20 दिनों की छूट या क्षमा, जिसका मतलब होता है 4 सालों में कुल 80 दिन.

- प्रति माह 1 दिन की अतिरिक्त छूट वशर्ते बचाब, साफ सफाई, खाना बनाने में सहयोग, के साथ जरुरतमंदों या असाध्य रोग, जैसे कैंसर से पीड़ित लोगों की देखभाल के लिए मिल सकता है.

- प्रति माह कोटे के तहत 4 सालों में 288 दिनों की छूट या क्षमा की उम्मीद की जा सकती है.

- आय से अधिक सम्पति के मामले में 35 दिनों का कारावास शशिकला ने इससे पहले 2014 में जयललिता के साथ जेल में गुजार कर पहले ही पूरा कर लिया है.

- 451 दिन या 1 साल, 2 महीने, 2 सप्ताह, और 1 दिन की छूट अधिकारियों या प्रशासन पर निर्भर करती है.

वैसे सजा के दिन कितने होंगे, इसका जवाब तो भविष्य के गर्भ में है. पर फरवरी 14 को अन्ना द्रमुक की महासचिव शशिकला ने बंगलुरु के परापन्ना जेल में आत्मसमर्पण कर दिया. सुप्रीम कोर्ट के फैसले की तामील करते हुए शशिकला को जेल हो गयी, वो भी चार साल के लिए. जेल में शशिकला की पहचान कैदी नंबर 9435 के तौर बनी. कभी जिनके इशारे पर पूरी तमिलनाडु की राजनीति घूमती थी, और जिनकी पहचान तमिलनाडु में जयललिता की प्रतिछाया के रूप में होती थी, जो करोड़ों की सम्पति की मालकिन और हमेशा वीवीआईपी सुरक्षा से घिरी रहने वाली शशिकला को बंगलुरु के जेल में कोई  अतिरिक्त सुरक्षा नहीं मिलेगी. इसके अलावा उन्हें जेल में कोई अलग से सेल भी नहीं मिलेगा. उन्हें दो अन्य महिलाओं के साथ एक सामान्य बैरक में रहना होगा. शशिकला का बैरक नंबर 2 है. पहनने के लिए उन्हें 3 साड़ियां दी गई हैं. शशिकला को जेल में कठिन परिश्रम करना पड़ेगा, और उन्हें एक दिन के 50 रुपए बतौर तनख्वाह मिलेगी अपनी महनत के बदले में.

खबरों के मुताबिक, शशिकला के 'भरत', तमिलनाडु के नए मुख्यमंत्री बने पलानीसामी आज शशिकला से मिलने जेल जाएंगे. पलानीस्वामी पिछले नौ महीने में इस शीर्ष पद पर काबिज होने वाले तीसरे व्यक्ति हैं. जयललिता की मौत के बाद पार्टी में चल रही खींचतान फिलहाल थम गई है, शशिकला ने इससे पहले 2014 में जयललिता के साथ महीना भर जेल में गुजारा था.

60 वर्षीय शशिकला को अपनी सजा के दिन जेल में ही बिताने होंगे, इतना तो तय है, और इसे ही भाग्य और समय का चक्र कहते हैं.

ये भी पढ़ें-

CM बनने जा रही शशिकला कैदी नंबर 9434 बन गई !

लेखक

जगत सिंह जगत सिंह @jagat.singh.9210

लेखक आज तक में पत्रकार हैं.

आपकी राय