charcha me| 

सियासत

 |  5-मिनट में पढ़ें  |   16-08-2017
आईचौक
आईचौक
  @iChowk
  • Total Shares

अव्वल तो अरविंद केजरीवाल को बीजेपी के खिलाफ लामबंद विपक्षी दलों की ओर से बर्थडे गिफ्ट मिलना चाहिये था. जिस जोरदार तरीके से ममता बनर्जी विपक्षी खेमे में केजरीवाल की पैरवी कर रही थीं उससे इतनी उम्मीद तो रही ही. खैर, बिलेटेड बर्थडे गिफ्ट का स्कोप आगे भी बना ही रहेगा. हो सकता है शरद यादव के साझा विरासत बचाओ सम्मेलन में कोई सरप्राइज गिफ्ट रखा हुआ हो.

arvind kejriwalकोई सरप्राइज गिफ्ट भी है क्या?

केजरीवाल के लेटेस्ट सियासी दुश्मन बने कपिल मिश्रा ने उन्हें बड़ा ही अनोखा बर्थडे गिफ्ट दिया है. कपिल ने इसके लिए चर्चित सोनू सॉन्ग की तर्ज पर पैरोडी तैयार की और खुद भी उसमें गाते हुए नजर आये.

कपिल का तोहफा

कपिल मिश्रा ने बड़ी शिद्दत और मेहनत से अरविंद केजरीवाल को गिफ्ट करने के लिए एक वीडियो तैयार किया. कपिल मिश्रा ने ट्विटर पर पहले बताया कि वो केजरीवाल को वो बर्थडे सरप्राइज देने वाले हैं. उसके कुछ देर बाद उन्होंने वीडियो का एक ट्रेलर पोस्ट किया.

जैसे टीवी में आने वाले कार्यक्रमों के बारे में टीज किया जाता है, उसी तरह कपिल ने ट्वीट कर कहा कि लोग दस मिनट और इंतजार करें.

और फिर कपिल ने वो वीडियो भी पोस्ट कर दिया - 'AK तेरी कुर्सी गोल'. ढिंचक पूजा के बाद मशहूर हुए सोनू के गाने की तर्ज पर बने करीब ढाई मिनट के इस वीडियो में कपिल खुद लीड सिंगर हैं. कपिल की पैरोडी के बोल हैं -

AK तुझे खुद पर भरोसा नहीं क्या?

खुद पर भरोसा नहीं क्या?

विधान सभा से रहता तू गोल-गोल,

मुहं में जमी है क्या फेविकोल,

घोटालों पे मुहं अपना खोल-खोल,

AK तुझे खुद पर भरोसा नहीं क्या?

हैपी बर्थडे सरजी!

49वां जन्म दिन मना रहे केजरीवाल को आम लोगों ने जहां घर पहुंच कर बधाई दी वहीं कई नेताओं ने ट्वीट से ही काम चला लिया. इनमें ममता बनर्जी भी शामिल हैं जो फिलहाल विपक्ष में केजरीवाल को एंट्री दिलाने को लेकर सबसे बड़ी पैरोकार बनी हुई हैं.

उमर अब्दुल्ला ने तो एक ही ट्वीट में अपनी ओर से भी और अपने पिता फारूक अब्दुल्ला की ओर से भी जन्म दिन की शुभकामना दे डाली. लालू के गले मिलने को केजरीवाल ने भले ही गले पड़ना करार दिया हो, लेकिन उनके बेटे तेजस्वी के ट्वीट पर उन्होंने शुक्रिया कहा.

कोई सरप्राइज है क्या?

नीतीश के बीजेपी के खेमे में चले जाने के बाद शरद यादव जेडीयू में बागी बने हुए हैं. बिहार में तीन दिन के तूफानी दौरे के बाद वो दिल्ली में 'साझा विरासत बचाओ सम्मेलन' करने जा रहे हैं. बिहार दौरे में देखा गया कि पटना एयरपोर्ट पर उतरने से लेकर जहां जहां भी वो गये आरजेडी के कार्यकर्ता उनके सपोर्ट में डटे हुए थे.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक शरद यादव के सम्मेलन में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, राहुल गांधी, अहमद पटेल, गुलाम नबी आजाद, सीताराम येचुरी, अखिलेश यादव भी शामिल हो सकते हैं. शरद यादव का सम्मेलन भी सोनिया गांधी के बीजेपी के खिलाफ विपक्षी दलों को एकजुट करने की कोशिशों जैसा ही लगता है.

जब शरद यादव से पूछा गया कि क्या बिहार के सीएम नीतीश कुमार भी उनके सम्मेलन में हिस्सा ले सकते हैं?

शरद यादव का जवाब था - उन्होंने सभी न्योता भेजा है. उनका ये भी कहना था कि विपक्ष से विरले ही कोई होगा जो नहीं आ रहा हो?

वैसे तो केजरीवाल को लेकर किसी ने उनसे ऐसा सवाल नहीं पूछा, लेकिन उनका जवाब सुन कर मान कर चलना चाहिये कि बुलावा केजरीवाल को भी भेजा गया होगा. इसमें संशय सिर्फ इसीलिए है क्योंकि सोनिया की ओर से अब तक केजरीवाल को दूर रखा गया है. माना जा रहा है कि राहुल गांधी को मंजूर न होने के कारण ऐसा किया जा रहा है.

न्योते को लेकर शरद यादव के जवाब के बाद लगने लगा है कि केजरीवाल भी विपक्ष के इस जमावड़े का हिस्सा बन सकते हैं - और कंफर्म होने तक इसे सरप्राइज गिफ्ट कैटेगरी में तो रखा ही जा सकता है.

इन्हें भी पढ़ें :

ममता को लेफ्ट का साथ भी मंजूर, चाहती हैं केजरीवाल को लेकर सोनिया भी जिद छोड़ दें

बवाना में फिर कसौटी पर केजरीवाल !

जेटली मार्ग पर जेठमलानी चौराहे से केजरीवाल का यू-टर्न!

लेखक

आईचौक आईचौक @ichowk

इंडिया टुडे ग्रुप का ऑनलाइन ओपिनियन प्लेटफॉर्म.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय