होम -> सियासत

 |  4-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 02 मई, 2019 12:17 PM
आईचौक
आईचौक
  @iChowk
  • Total Shares

एक तरफ लोकसभा चुनाव 2019 जोरों से चल रहा है वहीं दूसरी तरफ चुनाव प्रचार कर रहे प्रत्याशियों को गर्मी से निपटना पड़ रहा है. देश के कई इलाकों में पारा 46 डिग्री पार कर गया है और इसके बाद भी लोकसभा चुनाव के प्रत्याशी अपने चुनाव प्रचार से पीछे नहीं हट रहे. हां, उनके चुनाव प्रचार के तरीके जरूर बदल गए हैं. गर्मी से बचने के लिए प्रत्याशियों ने कुछ ऐसा करना शुरू कर दिया है कि उन्हें देखकर शायद वोटर भी चौंक जाएं.

1. गर्मी से बचने के लिए पुतले से करवाया चुनाव प्रचार

ये करने वाला कोई आम इंसान तो हो नहीं सकता. ये किया है TMC के कैंडिडेट और ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी ने. बाकायदा उनके लिए नारे लगाए जा रहे हैं. जोर शोर से चुनाव प्रचार हो रहा है, बस उनकी जगह उनका पुतला है. वो भी गले में माला डाले और हाथ जोड़े हुए. अभिषेक बनर्जी डायमंड हार्बर संसद क्षेत्र से चुनाव लड़ रहे हैं और पहले ही 71.4 लाख रुपए की संपत्ती की जानकारी दे चुके हैं.

2. छतरी बिना कैसी कैंपेनिंग?

अब बात करते हैं ड्रीम गर्ल यानी हेमा मालिनी की. हेमा जी का चुनाव प्रचार वाकई बेहद अनोखा है क्योंकि वो कभी तो हसिया लेकर कटे हुए गेहूं के साथ फोटो खिंचवाती हैं, कभी वो अपने रोड शो के लिए अपनी SUV की सनरूफ से बाहर निकलती हैं. गोकुल की गलियों में अपनी एसयूवी की सनरूफ से बाहर निकली ड्रीम गर्ल को कहीं धूप न लग जाए इसके लिए उनके साथ उसी गाड़ी की खिड़की से बाहर निकलता हुआ एक स्पॉटब्वॉय भी रहता है जो छाता लिए उनकी सेवा में तत्पर रहता है. इतना ही नहीं, हेमा मालिनी ऐसे ट्रैक्टर में बैठती हैं जिसमें कथित तौर पर कूलर लगे हुए हैं. हालांकि, हेमा मालिनी ने एक इंटरव्यू में कहा कि उन्हें नहीं पता था कि वो क्या है, वो हो सकता है स्पीकर्स हों, लेकिन फिर भी अब ट्रैक्टर तो हाईटेक था.

हेमा मालिनी के चुनाव प्रचार की एक झलक.हेमा मालिनी के चुनाव प्रचार की एक झलक.

3. गर्मी में प्रचार से अच्छा है शाम में बाहर निकला जाए..

इस बार किरन खेर की कैंपेनिंग बहुत मश्हूर हो रही है. कारण? उनकी अधिकतर कैंपेनिंग ट्विटर पर होती है और सूरज की गर्मी कम होते ही पब्लिक मीटिंग और रैली होती है. यहां तक कि ट्विटर पर किरन खेर ने कई ऐसे वीडियो भी डाले हैं जिसमें उन्होंने अपने काम की तारीफ की है. किरन खेर के साथ-साथ अनुपम खेर भी अपनी पत्नी के साथ चुनाव प्रचार में लगे हुए हैं और वो भी उनका बखूबी साथ निभाते हैं. ऐसा नहीं है कि किरन खेर गर्मी में बाहर निकली ही नहीं, लेकिन अब अधिकतर शो शाम में ही हो रहे हैं.

4. लंच ब्रेक के साथ चुनावी कैंपेन..

उत्तर भारत के साथ-साथ अब दक्षिण भारत की बात भी कर लेते हैं. LDF के कैंडिडेट सी दिवाकरन और उनकी पार्टी के कार्यकर्ता सुबह 11 बजे से लेकर 3 बजे तक चुनावी कैंपेन और बाहर की गर्मी में निकलने से बचते हैं. दिवाकरन ने साफ कह दिया है कि चुनाव प्रचार और लोगों के घर जाना सुबह के वक्त करें जब बहुत ज्यादा गर्मी न हो. साथ ही, बहुत हेवी खाने से बचें और नींबू पानी भी अपने साथ रखें

चुनाव कैंपेन का लंच ब्रेक भी जरूरी है.चुनाव कैंपेन का लंच ब्रेक भी जरूरी है.

5. शशि थरूर का आंवला प्यार-

शशि थरूर चुनावी प्रचार के दौरान गर्मी से बचने के लिए आंवले का जूस और नींबू पानी अपने साथ रखते हैं और कभी-कभी नारियल पानी भी पी लेते हैं. शशि थरूर का मानना है कि चुनावी गर्मी और सूरज की गर्मी से बचने के लिए ये सबसे अच्छा तरीका है.

6. गर्मी से बचने के लिए खास डायट प्लान-

भाजपा कैंडिडेट सी कृष्णकुमार खुद को गर्मी से बचाने के लिए पारंपरिक डायट प्लान के साथ चलते हैं. उन्हें पाझम कंजी (चावल के पानी से बनी हुई) सुबह नाश्ते में लेनी होती है, फिर उनके साथ गाड़ी में हमेशा छाछ और पानी चलता है. उन्हें तय तरीके का भोजन लेना होता है ताकि गर्मी भारी न पड़े.

ये भी पढ़ें-

आतंकी बुरहान वानी पर पाकिस्तानी फ़िल्म 'शहीद'! पड़ोसी नहीं सुधरेगा...

चौथे चरण की 10 बड़ी सीटें, जिनपर है सबकी निगाह

Election Campaigning, Election Result, Kirron Kher

लेखक

आईचौक आईचौक @ichowk

इंडिया टुडे ग्रुप का ऑनलाइन ओपिनियन प्लेटफॉर्म.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय