charcha me| 

सियासत

 |  1-मिनट में पढ़ें  |   18-12-2017
आईचौक
आईचौक
  @iChowk
  • Total Shares

गुजरात विधानसभा चुनावों के रूझानों से साफ जाहिर हो गया कि भाजपा लगातार छठी बार सरकार बनाने वाली है. हालांकि इस चुनाव में विपक्ष ने उन्हें कड़ी टक्कर दी. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ये सुनिश्चित किया कि भाजपा को आसानी से सरकार बनाने का मौका न दिया जाए. इसके लिए उन्होंने साम-दाम-दंड-भेद हर हथकंडा अपना लिया. फिर चाहे मंदिरों में माथा टेकना हो या फिर हार्दिक पटेल, जिग्नेश मेवाणी और अल्पेश ठाकोर जैसे मोदी विरोधियों के साथ गठबंधन कर चुनाव को दिलचस्प भी बना दिया.

हार्दिक पटेल, जिग्नेश मेवाणी और अल्पेश ठाकोर आरक्षण की मांग ने गुजरात की राजनीति में भूचाल मचा दिया था. उसी रथ पर सवार हो कांग्रेस इनके साथ गठबंधन कर चुनाव जीतना चाह रहे थे.

इसी क्रम में हमने पाटीदार सीटों का आंकलन किया. 2012 के चुनावों में राज्य के 22 पाटीदार सीटों में से भाजपा के हाथ 14, कांग्रेस के 6 और केशुभाई पटेल की पार्टी गुजरात परिवर्तन पार्टी के हिस्से 2 सीटें आई थी.

gujarat election, result

gujarat election, result

वहीं अभी तक के आए रुझानों और रिजल्ट को देखें तो टक्कर बराबरी की है. भाजपा 11 और कांग्रेस भी 11 सीटों पर बढ़त बनाए हुए है. हार्दिक पटेल के क्षेत्र और पाटीदार आंदोलन के गढ़ मेहसाणा में ही कांग्रेस गठबंधन को हार का मुंह देखना पड़ा है. सूरत सिटी उत्तर से भाजपा ने इन नेताओं को धूल चटा दी है.

ये भी पढ़ें-

Gujarat Elections results : हार्दिक के लिए कुछ दो टूक सबक...

बदलते Gujarat election results के साथ EVM की चोरी पकड़ी गई !

Gujarat election results 2017: जब 'भक्तों' ने टीवी तोड़ दिए !

लेखक

आईचौक आईचौक @ichowk

इंडिया टुडे ग्रुप का ऑनलाइन ओपिनियन प्लेटफॉर्म.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय