होम -> ह्यूमर

 |  6-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 18 मार्च, 2021 06:28 PM
बिलाल एम जाफ़री
बिलाल एम जाफ़री
  @bilal.jafri.7
  • Total Shares

होंगे सोशल मीडिया के बहुतेरे फायदे. चंद लाइक्स, कमेंट और शेयर से बन जाता होगा आदमी तीस मार खां. लेकिन हर बार फैंटम या ये कहें कि खलीफा बनना आदमी को फायदा पहुंचाएगा ये बिल्कुल भी जरूरी नहीं. बात सीधी और एकदम स्पष्ट है सोशल मीडिया पर 'दद्दा' बनना किसी साधना से कम नहीं है. आदमी बूंद बूंद जुटाए और घड़ा भरे. हां मित्रों ऐसे ही आते हैं अच्छे दिन. यहीं से होती है 'दद्दा' या मठाधीश बनने की शुरुआत. सोशल मीडिया पर टाइम देने और मेहनत करने की ये बातें एक तरफ हैं. दूसरी तरफ वो लोग हैं जिनकी ज़िंदगी का मकसद शार्ट कट मारना है. ऐसे लोगों को बस यही लगता है कि वीडियो बना लो उसे सोशल मीडिया पर डाल दो' दद्दा' बन जाओगे. तो भइया ऐसा नहीं है और जब आदमी यूपी जैसे राज्य में रहकर अजीब ओ गरीब हरकत करे और कानून से बच 'सोशल मीडिया मार्का' ख़लीफ़ा बनने की सोचे तो उसे एक नहीं, दो नहीं कई बार सोचना चाहिए. रहती होंगी कहीं लेकिन यूपी का कॉन्सेप्ट बहुत सीधा है यहां एक म्यान में दो तलवारें रह ही नहीं सकती हैं और जो तलवार यहां रह रही है उसका नाम योगी आदित्यनाथ है. योगी राज में कोई उनसे दो हाथ आगे निकल जाए ये संभव नहीं मामला किस हद तक पेचीदा हो सकता है गर जो इस बात को समझना हो तो हमें फिरोजाबाद के सपा नेता के बेटे से जरूर मिलना चाहिए जिसने चलती गाड़ी के ऊपर पुश अप मारे फिर योगी की पुलिस ने ऐसा बहुत कुछ किया जिससे न केवल युवक को लेने के देने पड़े बल्कि वीडियो के जरिये उसने माफी भी मांगी.

UP Police, UP, SP, Son, Push UP, Viral Video, Instagram, Twitter यूपी में स्टंट सपा नेता के बेटे को बहुत भारी पड़ गया है

बात बीते दिनों की है. इंटरनेट पर एक वीडियो जंगल की आग की तरह फैला जिसमें एक युवक ने गाड़ी चलाने के दौरान अपनी ड्राइविंग सीट छोड़ दी और वो गाड़ी की छत पर आ गया जहां उसने पुशअप मारे. युवक की ये हरकत पुलिस ने पकड़ ली और फिर उसे एक ऐसा रिवॉर्ड मिला जिसे वो भुलाना भी चाहे तो शायद ही भुला पाएगा. दरअसल हुआ ये है कि फीरोजाबाद के उज्जवल यादव ने स्कॉर्पियो गाड़ी पर ड्राइविंग करते हुए स्टंट दिखाया. हाईवे पर उसने चलती गाड़ी पर ड्राइविंग सीट से निकलकर गाड़ी के ऊपर पुश-अप करते हुए वीडियो वायरल कर दिया.

इसके अलावा उज्जवल के कई वीडियो ऐसे भी हैं जिसमें वह गाड़ी की छत पर बैठा है, जबकि गाड़ी बिना ड्राइवर के चल रही है. उज्जवल का ये ताजा स्टंट वाला वीडियो जैसे ही इंटरनेट पर आया लोगों ने इसे धड़ल्ले के साथ शेयर करना शुरू कर दिया.वीडियो पुलिस के पास भी पहुंचा जिसने इसे इसे गंभीरता से लिया और बाद में गाड़ी का चालान वीडियो के आधार पर कर दिया गया.

गौरतलब है कि जिस स्कार्पियो गाड़ी पर स्टंट हुआ है वो फिरोजाबाद के सपा नेता कृष्ण मुरारी यादव की है. गाड़ी उनका बेटा उज्जवल चला रहा था. पुलिस ने इस स्टंट के लिए न नेता जी को 2500 रुपये का चालान थमाया बल्कि नेता जी और उनके इस कलयुगी फैंटम बेटे को थाने बुलाकर उनकी जमकर क्लास लगाई और उन्हें उनकी गलती का एहसास कराया.

मामले के बाद अपने ऑफिसियल ट्विटर हैंडल से पुलिस ने इस पूरे घटनाक्रम को शेयर किया है. यूपी पुलिस का कहना है कि अगर कोई भी व्यक्ति इस तरह से कुछ करता हुआ पकड़ा गया तो उसे इनाम ज़रूर दिया जाएगा . यूपी पुलिस के ट्विटर हैंडल से आए इस वीडियो पर भांति भांति की प्रतिक्रियाएं आ रही हैं.

ट्विटर पर लोगों का यही मानना है कि इस तरह कानून की धज्जियां उड़ाने वालों को सख्त से सख्त सजा देनी चाहिए.

लोग यूपी पुलिस को धन्यवाद भी दे रहे हैं कि वो इसी तरह काम करती रहे और यूं ही कानून का मजाक उड़ाने वालों का खात्मा होता रहे.

अब जैसा देश में लोगों का रुख है लोग अच्छाई में भी बुराई खोज निकालते हैं इस मामले में भी ऐसा ही देखने को मिल रहा है. तमाम लोग हैं जो यूपी पुलिस पर तरह तरह का ज्ञान डाल रहे हैं.

अब जबकि लड़का अपनी गलती पर माफ़ी मांग चुका है. तो कहा यही जा सकता है कि यदि यूपी में सपा बसपा की सरकार रहती तो इस स्टंट को एक बार इग्नोर किया जा सकता था लेकिन चूंकि सूबे की कमान योगी आदित्यनाथ के हाथों में हैं तो यूपी में मंत्री से लेकर संत्री तक हर कोई राइट टाइम है. लोग जानते हैं कि उन्हें क्या करना है और कितना करना है.

लड़का बार बार ऐसे अनाप शनाप वीडियो बनाकर उसे अपने सोशल मीडिया हैंडल पर डाल रहा था. मगर चूंकि पुलिस ने एक्शन ले लिया है तो सबक केवल इस लड़के को नहीं मिला है, बल्कि पुलिस की तरफ से आया हुआ ये वीडियो हर उस व्यक्ति के लिए एक सीख है जिसके लिए कानून और नियमों का मतलब जीरो बट्टे सन्नाटा है.

बाकी बात बस इतनी है कि सोशल मीडिया पर फॉलोविंग पाने के लिए लड़के द्वारा की गयी ये हरकत न केवल उसे भारी पड़ी. बल्कि शायद उसे ये भी समझ में आ गया ही कि यूपी यूपी में एक ही आदमी तूफानी हो सकता है और वो कोई और नहीं बल्कि वो है जिसके द्वारा इशारा करने भर की देर है. सूबे की पुलिस न केवल लट्टू की तरह नाचेगी बल्कि सजा देकर बता देगी कि बोया पेड़ बबूल का तो नीम या आम कहां से होए.  

ये भी पढ़ें -

ममता बनर्जी का इलाज करने वाले डॉक्टरों को देना चाहिए चिकित्सा क्षेत्र का 'नोबेल'!

दो फीट के इस 26 वर्षीय युवा का दर्द समझा जाना चाहिए...

BJP Manifesto के वादे अगर पूरे हो जाएं तो बंगालियों का जीवन सेट है! 

लेखक

बिलाल एम जाफ़री बिलाल एम जाफ़री @bilal.jafri.7

लेखक इंडिया टुडे डिजिटल में पत्रकार हैं.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय