होम -> ह्यूमर

 |  4-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 30 मार्च, 2021 06:30 PM
बिलाल एम जाफ़री
बिलाल एम जाफ़री
  @bilal.jafri.7
  • Total Shares

... आता है जीवन में वो पल जब सारी घुमक्कड़ी, मौज मस्ती, हंसी ठिठोली धरी की धरी रह जाती है और व्यक्ति यही फील करता है कि अब सीरियस होने और ज़िंदगी में एक पार्टनर लाने का वक़्त आ गया है. स्थिति जब ऐसी होती है तो व्यक्ति की शादी की बातें ज़ोर पकड़ लेती हैं. मां पिता द्वारा लड़की खोजी जाती है. उसके घर रिश्ता भिजवाया जाता है. लड़के और लड़की के परिजन मिलते हैं और बात पक्की होती है. जैसी भारतीय संस्कृति है, अपने देश में विवाह गुड्डे गुड़ियों का खेल नहीं बल्कि एक संस्था है. जिसमें भले ही ठीक ठाक वक़्त लगता हो मगर शादी सुगमता से हो ही जाती है. लेकिन क्या सबकी शादी सुगमता से होती है? सवाल भले ही अजीब ओ गरीब लगे लेकिन इसका जवाब बहुत सीधा और 'न' में है. जी हां. आपके और हमारे लिए शादी सहज ही बात होगी लेकिन एमपी के भोपाल में उन 5 अलग अलग दूल्हों के लिए शादी सुगम नहीं थी जिनकी बारात एक ही दरवाजे पर गई और जिन्हें एक ऐसा धोखा मिला जिसे सुनकर हर कोई दांतों तले अंगुलियां दबा ले. पांचों दूल्हे एक ही दुल्हन से विवाह करने बीते 25 मार्च को उसके घर पहुंचे लेकिन उनके स्वागत के लिए लड़की के घर वाले और रिश्तेदार नहीं थे बल्कि उनका स्वागत एक बड़े से ताले ने किया.

Marriage, Groom, Bhopal, Madhya Pradesh, Bride, Betray, Fraud, Policeएमपी के भोपाल में 5 दूल्हों के साथ जो दुल्हन ने किया वो अपने में धोखे की पराकाष्ठा है

घटना भले ही फिल्मी लगे लेकिन होनी को टाला नहीं जा सकता ऐसी धोखाधड़ी भोपाल में होगी ये बात सृष्टि के निर्माण के वक़्त ईश्वर ने लिखी थी. हो गई. भोपाल में 5 दूल्हे एक ही दुल्हन से शादी करने उसके घर पहुंचे. लेकिन न तो उन्हें ससुरालवाले ही मिले और न दुल्हन और न ही शादी कराने वाली संस्था के लोग. द्वार पर जो स्वागत के लिए मिला वो बड़ा सा ताला था.

बात बहुत गंभीर थी इसलिए घटना को लेकर आहत पांचों दूल्हे अपनी व्यथा लेकर पुलिस के पास पहुंच गए. शुरू में तो पुलिस भी चकराई मगर जब उसे लुटेरी दुल्हन की करतूत पता चली तो उसके भी होश फाख्ता हो गए. पुलिस ने शादी कराने वाली संस्था के प्रबंधक पर फर्जीवाड़े का केस दर्ज कर दिया.मामले में दिलचस्प बात ये है कि सभी दूल्हों से शादी करवाने के नाम पर 20-20 हजार रुपये जमा करवाए गए थे. फिलहाल पुलिस ने दुल्हन बनी लड़की समेत दो अन्य लोगों को गिरफ्तार किया है.

मामले के मद्देनजर जो जानकारी पुलिस से मिली है यदि उसपर यकीन किया जाए तो भोपाल में शगुन जन कल्याण सेवा समिति नाम की एक संस्था है. संस्था लोगों की शादी करवाने के नाम पर लाखों की ठगी करती है. बीते दिनों समिति ने 5 दूल्हों को 25 मार्च को शादी कराने का वादा किया था. संस्था भले ही विवाह को आतुर लड़के वालों को लड़की दिखाती होलेकिन ये सब मुफ्त में नहीं होता इसके लिए बाकायदा 20 हजार रुपए का 'टोकन अमाउंट' वसूला जाता है. इस बार भी ऐसा ही हुआ मगर कहानी में ट्विस्ट तब आया जब अपनी अपनी शिकायत लेकर पांचों दूल्हे थाने पहुंच गए.

क्या थी मोडस ऑपरेंडी?

पुलिस के मुताबिक शगुन जन कल्याण सेवा समिति शहरों, कस्बों में पर्चे बांटकर लोगों का ध्यान अपनी तरफ खींचते थे और सभी से बात कर उन्हें कोलार के विनीत कुंज में स्थित अपने ऑफिस में बुलाते थे. वहां यह बताते थे कि हम गरीब बच्चियों की शादी करते हैं. इस मामले में भी पीड़ित दूल्हे ऐड देखकर ही शादी करने पहुंचे थे मगर उन बेचारों को क्या ही पता था कि उन्हें इस तरह के धोखे का सामना करना पड़ेगा.

बहरहाल अब जबकि ये मामला जिसमें पांच दूल्हों की ज़िन्दगी के साथ खेल हुआ है. और जिसमें सारे अरमान धरे के धरे रह गए हैं. हमारे सामने आ ही गया है तो हम शादी के लिए बौखलाए लोगों से बस ये कहकर अपनी बात को विराम देंगे कि जब भी शादी करने जाएं, जहां जा रहे हैं उस परिवार की तसदीख कर लें. वरना भोपाल में हुए इस मामले की तरह हंसी ठिठोली के पात्र बन जाएंगे और जो जो आपकी आप बीती सुनेगा अपनी हंसी शायद ही रोक पाए.

ये भी पढ़ें -

बेलगाम बोल: उत्तराखंड सीएम तीरथ सिंह रावत उसी स्कूल से पढ़े हैं जहां के त्रिपुरा सीएम हैं!

चुनाव जीतने पर आईफोन देने का वादा करने वाले उम्मीदवार के मतदाता हम क्यों न हुए?

प्लाजो' की अध्यक्षता में बैठक हुई है जिसमें Ripped Jeans का दुःख बांटा गया है!

लेखक

बिलाल एम जाफ़री बिलाल एम जाफ़री @bilal.jafri.7

लेखक इंडिया टुडे डिजिटल में पत्रकार हैं.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय