charcha me |  

होम -> सिनेमा

 |  5-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 31 जुलाई, 2021 11:18 PM
अनुज शुक्ला
अनुज शुक्ला
  @anuj4media
  • Total Shares

राज कुंद्रा से जुड़ा पोर्नोग्राफी केस लगातार सुर्ख़ियों में बना हुआ है. अश्लील कंटेंट बनाने और प्रसारित करने का मामला क्या खुला, धीरे-धीरे राज कुंद्रा के खिलाफ कई और मामले सामने आने लगे. यौन उत्पीड़न और ऑनलाइन गेमिंग में ठगी का मामला भी आया है. बीजेपी नेता राम कदम ने तो एक प्रेस कॉन्फ्रेस में गंभीर आरोप लगाते हुए दावा किया कि कुंद्रा की कंपनी ने तीन हजार करोड़ का फ्रॉड भी किया है. ये फ्रॉड वियान इंडस्ट्रीज के ऑनलाइन गेम "गेम ऑफ़ डॉट" से हुआ था. गेम ने डिस्ट्रीब्यूटर्स से फ्रॉड कर करोड़ों कमाए. दूसरी ओर शिल्पा शेट्टी पूरे मामले में खुद के खिलाफ मीडिया रिपोर्टिंग को मानहानि मान रही हैं.

बीजेपी नेता ने यह भी दावा किया कि कुंद्रा ने गेम फारवर्ड करने में डिस्ट्रीब्यूटर्स को लुभाने के लिए अपनी पत्नी शिल्पा शेट्टी का भी इस्तेमाल किया. उन्होंने कुंद्रा के खिलाफ कुछ महीने पहले एक मॉडल की शिकायत पर "प्रेशर" में कोई कार्रवाई नहीं करने का आरोप भी लगाया. शर्लिन चोपड़ा और कुछ दूसरी सेलिब्रिटीज कुंद्रा पर बेहद गंभीर आरोप लगा चुकी हैं. शर्लिन का तो यहां तक दावा है कि कुंद्रा की वजह से ही वो एडल्ट इंडस्ट्री में पहुंची थीं. पूनम पांडे ने भी कुंद्रा पर निजी सूचनाओं को लीक करने के संबंध में ब्लैकमेल के आरोप लगाए हैं.

राज कुंद्रा के कथित अपराधों का काला चिट्ठा एक पर एक खुलता जा रहा है और वो पूरे मामले में अलग-थलग पड़ते जा रहे हैं. हालांकि उन्हें परिवार से काफी सपोर्ट मिल रहा है. उनकी साली शमिता शेट्टी ने खुलकर बचाव किया. वहीं कई प्रतिष्ठित मीडिया रिपोर्ट्स का दावा है कि कुछ दिन पहले पुलिस पूछताछ में शिल्पा शेट्टी ने पति पर लगे आरोपों को खारिज किया था और कहा था कि राज कुंद्रा के ऐप पर पोर्न नहीं बल्कि इरोटिक मूवीज हैं. पूछताछ में उन्होंने यह भी कहा था कि कुंद्रा के ऐप पर मौजूद कंटेंट से कहीं ज्यादा अश्लील कंटेंट अलग-अलग ओटीटी प्लेटफॉर्म पर मौजूद हैं.

shilpa-650_073021064120.jpg

इस बीच एक्ट्रेस ने पूरे मामले में कोर्ट का रुख किया है और कहा है कि पति के खिलाफ चल रहे केस से उनका नाम जोड़ कर झूठी बातें और सनसनीखेज खबरें चलाई जा रही हैं. उन्होंने अपमानजनक सामग्री को हटाने, बिना शर्त माफी की मांग की है. निजता का उल्लंघन बताते हुए उन्होंने कुछ पत्रकारों, मीडिया संस्थानों को कोर्ट में घसीटा है. फेसबुक ट्विटर और गूगल जैसे प्लेटफॉर्म्स के खिलाफ भी कार्रवाई की मांग की है. शिल्पा शेट्टी के पुराने बयान के मद्देनजर उनका कोर्ट में जाना पति को बचाने की कोशिश का भी संकेत माना जा सकता है. कुंद्रा पर अभी आरोप लगे हैं जिन्हें कोर्ट में साबित किया जाना है.

हॉटशॉट के पोर्नोग्राफी केस में राज कुंद्रा प्रमुख आरोपी हैं. पत्नी होने के नाते पूरे मामले में शिल्पा शेट्टी का जिक्र बार-बार हो रहा है. उनसे पूछताछ भी हुई है. और इस बात से इनकार नहीं किया जा सकता कि आगे भी जरूरत पड़ने पर उनसे पूछताछ हो. ये स्वाभाविक है. शिल्पा पत्नी कजे साथ-साथ राज के कुछ कारोबार में पार्टनर भी तो हैं. लेकिन राज कुंद्रा की तुलना में शिल्पा शेट्टी कहीं ज्यादा बड़ी सेलिब्रिटी और जवाबदेह सोशल फेस हैं. यह बताने की जरूरत नहीं कि अपनी स्वतंत्र पहचान की बजाय देश राज कुंद्रा को शिल्पा के पति के रूप में ही ज्यादा जानता है. ऐसी स्थिति में किसी भी रिपोर्ट में उनका जिक्र ना करना शायद संभव ना हो. जहां तक मीडिया की बात है कोई भी जिम्मेदार संस्थान तथ्यों से परे जाकर किसी की निजता का उल्लंघन करने का जोखिम शायद ही उठाए. यह इथिक्स के खिलाफ भी है. इस बात से भी इनकार नहीं किया जा सकता कि कुछ गैरजिम्मेदार मीडिया प्लेटफॉर्म मामले को सनसनीखेज बनाकर पेश कर रहे हों. सोशल प्लेटफॉर्म पर तो हमेशा पब्लिक साउंड जी ज्यादा निकल कर आता है. उसे रेगुलेट या फ़िल्टर करना लगभग असंभव है.

सोशल मीडिया पर मामूली बातों को लेकर ट्रोल आसमान सिर पर उठा लेते हैं. राज का मामला तो वैसे भी सनसनीखेज है. शिल्पा को भी बेहतर मालूम है कि इसे रेगुलेट नहीं किया जा सकता. वो खुद कई बार सोशल मीडिया ट्रोल्स का शिकार बनी हैं. जहां तक बात एक्ट्रेस की निजता का है निश्चित ही हर किसी को उसका ध्यान रखना चाहिए. केस में शिल्पा आरोपी नहीं हैं.

बावजूद मामले में शिल्पा के स्टैंड और उसके बाद उनकी तरफ से किए गए मानहानि केस से तो यही लगता है कि एक्ट्रेस पोर्नोग्राफी केस कवर कर रहे पत्रकारों और मीडिया संस्थानों को डराना चाहती हैं. शिल्पा के पति पर संगीन आरोप लगे हैं. वो मनोरंजन जगत का हिस्सा रही हैं. बावजूद पूरे मामले में उनकी तरफ से सार्वजनिक रूप से कोई सफाई नहीं आई है. उन्हें बयान तो जारी करना चाहिए था. आग उनके घर में ही लगी है.

एक ही इंडस्ट्री से होने की वजह से सवाल तो उनपर उठेंगे ही. क्या शिल्पा सार्वजनिक रूप से यह भी नहीं कह सकती थीं कि उनके पति पर जो आरोप लगे हैं वो बेबुनियाद हैं और उनकी लीगल टीम कोर्ट में दूध का दूध और पानी का पानी करने में कामयाब होगा. आखिर अंत में सही और गलत का फैसला तो कोर्ट को ही करना पड़ेगा. शिल्पा को नहीं भूलना चाहिए कि राज कुंद्रा पर यौन उत्पीडन और घिनौने काम के लिए ब्लैकमेल करने तक के आरोप लग रहे हैं. एक्ट्रेस यह भी कह सकती हैं कि यौन उत्पीड़न और ब्लैकमेल के आरोप द्वेषवश जानबूझकर लगाए जा रहे हैं. लेकिन शिल्पा तो अब तक चुप ही नजर आ रही हैं. शायद उनकी इसी चुप्पी की वजह से ही निजता से जुड़े सवाल बार-बार हो रहे हैं. मानहानि केस करना ठीक है. कोर्ट देखेगा इसे. ज्यादा अच्छा ये होता कि शिल्पा पूरे मामले में अब तक जो सवाल आए हैं उनपर अपनी राय जाहिर करतीं.

राज कुंद्रा की पत्नी होने की वजह से आप कुछ कहना भी नहीं चाहतीं और उम्मीद करती हैं कि किसी रिपोर्ट में आपका जिक्र ना हो. लोग फेसबुक ट्विटर पर आपके नाम से कुछ लिखे भी नहीं. सूचनाओं के फ्लो वाले मौजूदा दौर में तो यह असंभव है. मानहानि नोटिस से मीडिया संस्थानों को चुप नहीं कराया जा सकता. सोशल मीडिया पर पूरे मामले में रोज लाखों लोग लिख रहे हैं. अच्छा होगा कि शिल्पा शेट्टी अपनी सार्वजनिक छवि के अनुकूल भी व्यवहार करें. वो सिर्फ राज कुंद्रा की पत्नी भर नहीं हैं. उन्हें इस बात को समझना चाहिए. सही-गलत का पता तो वक्त के साथ लगेगा. केस में उनका रवैया सिर्फ राज कुंद्रा की पत्नी जैसा नहीं दिखना चाहिए. दुर्भाग्य से अभी तक ऐसा ही दिखा है.

लेखक

अनुज शुक्ला अनुज शुक्ला @anuj4media

ना कनिष्ठ ना वरिष्ठ. बस पत्रकार हूं और कहानियां लिखता हूं.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय