charcha me| 

होम -> सिनेमा

 |  5-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 23 जून, 2022 08:01 PM
मुकेश कुमार गजेंद्र
मुकेश कुमार गजेंद्र
  @mukesh.k.gajendra
  • Total Shares

पहले 'ब्रह्मास्त्र' और अब 'शमशेरा', बॉलीवुड अभिनेता रणबीर कपूर की एक के बाद एक दो फिल्मों का धांसू ट्रेलर-टीजर देखने के बाद हर कोई हैरान है. किसी को भरोसा नहीं हो रहा है कि फॉर्मूला बेस्ड फिल्में बनाने में यकीन रखने वाले बॉलीवुड में इस तरह की फिल्म भी बनाई जाएगी. अब इसे साउथ सिनेमा का असर कहें या 'आरआरआर' और 'केजीएफ' जैसी फिल्मों का प्रभाव, 'ब्रह्मास्त्र' और 'शमशेरा' बॉलीवुड के लिए उम्मीद की एक नई किरण है. जो कि आने वाले वक्त में हिंदी फिल्मों के इतिहास में एक नया अध्याय जोड़ने वाली है. यदि इन बातों पर यकीन न हो तो आज लॉन्च हुए फिल्म 'शमशेरा' के टीजर को देख लीजिए. महज 1 मिनट 22 सेकंड के इस टीजर पूरी फिल्म की झलक दिख जाएगी.

brahmastra-650_062222091920.jpgफिल्म शमशेरा और ब्रह्मास्त्र की सफलता रणबीर कपूर के करियर को नया आयाम देने वाली है.

बॉलीवुड के लिए ये बहुत बुरा दौर चल रहा है. एक तरफ जनता नाराज है, तो दूसरी तरफ लगातार फिल्में फ्लॉप हो रही है. क्या कंगना क्या अक्षय बॉलीवुड के सुपरस्टार्स की फिल्में भी डिजास्टर साबित हो रही हैं. यदि हम केवल दूसरे क्वार्टर (अप्रैल से जून) की ही बात करें तो अभी तक एक दर्जन से ज्यादा हिंदी फिल्में रिलीज हो चुकी हैं. इनमें जॉन अब्राहम की फिल्म अटैक-1, शाहिद कपूर की 'जर्सी', अजय देवगन की 'रनवे 34', टाइगर श्रॉफ की 'हीरोपंती 2', रणवीर सिंह की 'जयेशभाई जोरदार', कंगना रनौत की 'धाकड़', आयुष्मान खुराना की 'अनेक' और अक्षय कुमार की 'सम्राट पृथ्वीराज' जैसी फिल्में शामिल हैं. बॉक्स ऑफिस पर हिट होना तो छोड़िए इन फिल्मों को अपनी लागत निकालने के लिए तरसना पड़ा है.

इन कई फिल्में पैन इंडिया भी रिलीज हुई हैं. बॉलीवुड के मेकर्स को लगा कि जिस तरह से साउथ की फिल्में हिंदी पट्टी में कमाई कर रही हैं, उसी तरह उनकी फिल्में भी साउथ बॉक्स ऑफिस पर कलेक्शन कर पाएंगी. लेकिन ऐसा नहीं हो सका. हिंदी बेल्ट में 100 करोड़ तक कमाई करने वाली साउथ की फिल्मों के मुकाबले बॉलीवुड की फिल्में उनके वहां महज कुछ लाख रुपए ही कमा सकी हैं. इसके पीछे बड़ी वजह ये है कि साउथ की ऑडिएंश अपने सुपरस्टार्स की फिल्मों को देखना ज्यादा पसंद करती है. वहां के हर स्टार की अपनी फैन फॉलोइंग है. यही वजह है कि बॉलीवुड की फिल्में साउथ के बॉक्स ऑफिस पर रिलीज होती हैं, तो उनको दर्शक ही नहीं मिल पाते. लेकिन इसके विपरीत रणबीर कपूर अपनी फिल्म ब्रह्मास्त्र के जरिए साउथ के ऑडिएंस के बीच पैठ बना रहे हैं. उनको 'बाहुबली' फेम फिल्म मेकर एसएस राजामौली का भी साथ मिला है. इस वजह से उनकी वहां पहचान बनी है.

'ब्रह्मास्त्र' और अब 'शमशेरा' पैन इंडिया हिंदी, तमिल और तेलुगू में रिलीज होंगी. पहले 'शमशेरा' 24 जुलाई को रिलीज की जाएगी, उसके बाद 'ब्रह्मास्त्र' 9 सितंबर को सिनेमाघरों में आएगी. इस तरह लगातार दो बड़ी फिल्मों के जरिए रणबीर कपूर पैन इंडिया अपने नाम का बज्ज क्रिएट करने में सफल रहने वाले हैं. दोनों फिल्में उनके नाम और पहचान को उत्तर से दक्षिण तक पहुंचाने में मदद करेंगी. हिंदी दर्शकों को भी बहुत दिनों बाद बॉलीवुड की किसी फिल्म में ऐसी भव्यता देखने को मिलने वाली है. सबसे बड़ी बात ये है कि इन दोनों ही फिल्मों में वीएफएक्स और विजुअल इफेक्ट्स के बेहतरीन इस्तेमाल के साथ शानदार कहानी भी देखने को मिलने वाली है. सभी जानते हैं कि एक मजबूत कहानी दर्शकों को बांधे रखने में सफल रहती है. ऊपर इन फिल्मों की स्टारकास्ट भी तगड़ी है. कई सितारे ऐसा हैं, जिनका नाम पहले से ही साउथ से लेकर नॉर्थ तक स्थापित है.

पहले फिल्म 'ब्रह्मास्त्र' की ही बात करते हैं. इसमें रणबीर कपूर के साथ आलिया भट्ट, अमिताभ बच्चन, नागार्जुन अक्किनेनी और मौनी रॉय अहम भूमिकाओं में हैं. अमिताभ बच्चन पहले से ही पैन इंडिया स्टार हैं. उनकी फैन फॉलोइंग नॉर्थ की तरह साउथ में भी है. आलिया भट्ट फिल्म 'आरआरआर' की वजह से साउथ में पहले ही इंट्रोड्यूस हो चुकी हैं. नागार्जुन तमिल और तेलुगू इंडस्ट्री के बेताज बादशाह हैं. इतना ही नहीं चीरंजीवी और राजामौली के जुड़ने के बाद फिल्म की पैन इंडिया अपील ज्यादा बढ़ गई है. इसी तरह फिल्म 'शमशेरा' में रणबीर कपूर के साथ संजय दत्त, वाणी कपूर, आशुतोष राणा और सौरभ शुक्ला लीड रोल में हैं. केजीएफ 3 में अधीरा के किरदार में संजय दत्त ने साउथ में अपनी नई पहचान बना ली है. वो उसी तरह के रोल में शमशेरा में भी हैं. ऐसे में ऑडिएंस के साथ कनेक्ट होने में उनको परेशानी नहीं होगी. इस तरह दोनों ही फिल्में पैन इंडिया अपील कर रही हैं.

रणबीर कपूर की तीसरी फिल्म 'एनिमल' है, जिसकी शूटिंग इस वक्त मनाली में चल रही है. इस फिल्म में रणबीर के साथ अनिल कपूर, बॉबी देओल और साउथ की एक्ट्रेस रश्मिका मंदाना मौजूद हैं. पहले रश्मिका का रोल परिणति चोपड़ा को ऑफर किया गया था, लेकिन उन्होंने इम्तियाज अली की फिल्म 'चमकीला' के लिए इसे छोड़ दिया. फिल्म की कहानी बाप-बेटे संबंधों पर आधारित है. इसमें अपने रोल के बारे में रणबीर ने कहा था, ''कोरोना महामारी के दौरान हम सभी को आत्मनिरीक्षण करने और उन फिल्मों को चुनने का समय मिला जो हमारे दिल के करीब हैं. इस फिल्म की कहानी संदीप रेड्डी ने जब मुझे सुनाई तो मैं खुद इस किरदार के करीब महसूस करने लगा. इस भूमिका को करने के लिए उत्सुक हो गया. मैं उनकी दोनों फिल्मों कबीर सिंह और अर्जुन रेड्डी का बहुत बड़ा प्रशंसक हूं. इस फिल्म के साथ भूषण कुमार जैसा निर्माता का जुड़ना भी सुखद संकेत है.''

वैसे देखा जाए तो रणबीर कपूर के पर्सनल और प्रोफेशन जिंदगी के लिहाज से ये अच्छा बहुत अच्छा जा रहा है. इसी साल उन्होंने अपनी गर्लफ्रेंड आलिया भट्ट से शादी की है. चार साल बाद उनकी लगातार दो फिल्में रिलीज होने जा रही है. वो भी इतनी बेहतरीन फिल्में जिनकी चर्चा अभी से शुरू हो गई है. जिनका ट्रेलर और टीजर देखने के बाद लोग उसकी तारीफ कर रहे हैं. यदि सबकुछ सही रहा तो इसमें कोई दो राय नहीं है कि रणबीर बॉलीवुड के लिए लकी साबित होने वाले हैं.

#शमशेरा, #ब्रह्मास्त्र, #रणबीर कपूर, Ranbir Kapoor, New Superstar Of Bollywood, South Cinema

लेखक

मुकेश कुमार गजेंद्र मुकेश कुमार गजेंद्र @mukesh.k.gajendra

लेखक इंडिया टुडे ग्रुप में डिजिटल जर्नलिस्ट हैं.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय