charcha me| 

टेक्नोलॉजी

 |  3-मिनट में पढ़ें  |   20-09-2017
आईचौक
आईचौक
  @iChowk
  • Total Shares

आईफोन X जब से लॉन्च हुआ है तब से ही चर्चा का विषय बना हुआ है. चाहें इसका फेस अनलॉक फीचर हो या फिर इसकी कीमत. आईफोन X एपल का सबसे महंगा फोन है और भारत में तो इसकी कीमत भी सबसे ज्यादा होगी. 1 लाख की कीमत वाला ये फोन भले ही फीचर्स के मामले में उतना लोगों को रिझा पाए या नहीं, लेकिन ये फोन लॉन्च होने के समय से ही इंटरनेट का तो राजा बना हुआ है.

आईफोन X के मामले में आईचौक पर पहले ही बहुत कुछ बताया जा चुका है, लेकिन अभी भी एक ऐसी बात है जो लोगों तक नहीं पहुंची है. क्या है वो? वो है आईफोन X की कीमत... न न खरीदने वाली कीमत नहीं, आईफोन X एपल को कितनी कीमत में एपल ने बनाया है और प्रॉफिट कितना कमा रही है कंपनी.

आईफोन, आईफोन X, आईफोन 8, एपल, स्मार्टफोन, टिम कुक

आईफोन X की इतनी ऊंची कीमत को देखते हुए चीनी कंपनियों ने इसकी कीमत का अंदाजा लगाने की सोची. वेबसाइट ichunt पर पब्लिश की गई एक स्टोरी के मुताबिक आईफोन X में एपल का प्रॉफिट आम लोगों की उम्मीद से कही ज्यादा है.

रिपोर्ट के मुताबिक आईफोन X की कीमत कुछ ऐसी है...

1. सुपर रेटिना डिस्प्ले: इस डिस्प्ले को सैमसंग कंपनी ने सप्लाई किया है. इसकी कीमत कुछ 80 डॉलर है. यानि 5100 रुपए के आस-पास.

2. प्रोसेसर : एपल का बायोनिक A11 चिपसेट जो कंपनी का सबसे तेज प्रोसेसर है उसकी कीमत 26 डॉलर यानि 1650 रुपए है.

3. मॉडम : क्वालकॉम कंपनी का मॉडम जो 18 डॉलर का है वो भारतीय करंसी में 1160 रुपए का होगा.

4. 3D सेंसर: 3D फेसिंग चिप की कीमत 25 डॉलर है और भारत में वो 1600 रुपए है.

5. मेमोरी : तोषिबा द्वारा सप्लाई की जाने वाली NAND फ्लैश मेमोरी 45 डॉलर यानि 2900 रुपए की है.

इसके अलावा भी एपल आईफोन X में कई पार्ट्स लगे हैं. सभी को अगर जोड़ दिया जाए तो एपल आईफोन X की कीमत 412 डॉलर (लगभग 26445 रुपए) होगी.

इसके अलावा, एपल का अधिकतर खर्च रिसर्च और डेवलपमेंट में जाता है. थोड़ा मार्जिन उसका भी निकालना पड़ेगा क्योंकि आखिर बिना रिसर्च के आईफोन कैसे बनता. इसके बाद नंबर आता है मार्केटिंग का. एडवर्टाइजिंग और मार्केटिंग के साथ-साथ आईफोन को बेचने के लिए बहुत से खर्च किए जाते हैं. इसमें रिटेल स्टोर वर्करों की सैलरी से लेकर एपल के इंजीनियर्स के बोनस तक सब कुछ शामिल होता है.

आईफोन, आईफोन X, आईफोन 8, एपल, स्मार्टफोन, टिम कुक

अगर इस सबको जोड़ दिया जाए तो समझ आएगा कि एपल का प्रॉफिट मार्जिन इतना भी नहीं है जितना समझ आ रहा है.

ये सभी आंकड़े सिर्फ अंजादे से ही दिए गए हैं और हो सकता है कि असल में एपल आईफोन X की कीमत इससे काफी ज्यादा हो. पर पूरी गणित लगाते हुए ये कहा जा सकता है कि एपल कंपनी अपने आईफोन X से और भी ज्यादा प्रॉफिट कमा सकती थी, लेकिन शायद कंपनी ने लोगों पर कुछ तरस खाया और आईफोन को सस्ता बना दिया.

ये भी पढ़ें-

आखिर क्यों भारत में आईफोन बाकी देशों से ज्यादा महंगा होता है...

iPhone X है एपल के लिए सबसे बड़ा रिस्क...

लेखक

आईचौक आईचौक @ichowk

इंडिया टुडे ग्रुप का ऑनलाइन ओपिनियन प्लेटफॉर्म.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय