charcha me | 

सियासत

 |  5-मिनट में पढ़ें  |   06-09-2016
आईचौक
आईचौक
  @iChowk

अमेरिकी राष्ट्रपिति बराक ओबामा को सन ऑफ ए बिच या सन ऑफ ए होर (वेश्या का बेटा) कहकर विवादों में घिरे फिलीपींस के 71 वर्षीय राष्ट्रपति रोड्रिगो दुतेर्ते के लिए विवादित बयान देना जैसे उनके जीवन का अहम हिस्सा रहा है.

फिलीपींस वॉर ऑन ड्रग्स (ड्रग्स के खिलाफ फिलीपींस की जंग) नामक कैंपेन के तहत रोड्रिगो के सत्ता संभालने के महज दो महीने के भीतर करीब 2400 ड्रग डीलर्स मारे जा चुके हैं और लाखों ने आत्मसमर्पण कर दिया है. इतनी खूनी कार्रवाई के कारण संयुक्त राष्ट्र संघ से लेकर अमेरिका और विभिन्न मानवाधिकार संगठनों के निशाने पर आए रोड्रिगो ने अपनी आलोचना के जवाब में ही संयुक्त राष्ट्र संघ से लेकर ओबामा तक के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणियां की हैं.

आइए जानें रोड्रिगो के उन विवादित बयानों के बारे में जिनकी वजह से वह विवादों में रहे.

1.पोप को 'वेश्या का बेटा' कहाः

मई में फिलीपींस के राष्ट्रपति पद का चुनाव जीतने से पहले रोड्रिगो दुतेर्ते 1988 से दावाओ शहर के मेयर थे. राष्ट्रपति चुनाव से पहले पोप फ्रांसिस के फिलिपींस दौरे के दौरान भीषण ट्रैफिक जाम में फंसे रोड्रिगो ने अपना आपा खो दिया और कहा, 'हमें होटल से एयरपोर्ट तक पहुंचने में पांच घंटे लगे. मैंने पूछा कौन आ रहा है. उन्होंने कहा पोप. मैं उन्हें (पोप) कॉल करना चाहता था: पोप, वेश्या के बेटे, घर वापस जाओ, फिर कभी मत आना.' हालांकि राष्ट्रपति बनने के बाद रोड्रिगो ने पोप के खिलाफ दिए अपने बयान के संबंध में सफाई दी और माफी मांगी.

pope-francis_090616064236.jpg
रोड्रिगो ने पोप फ्रांसिस के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी करते हुए उन्हें 'वेश्या का बेटा' कह दिया था

2.फिलीपींस के पादरियों को भी रखा निशाने परः

राष्ट्रपति पद के लिए हुए चुनावों के प्रचार अभियान के दौरान रोड्रिगो ने फिलीपींस के पादरियों को अपने निशाने पर रखा. दरअसल दावाओ शहर के मेयर के रूप में रोड्रिगो ने ड्रग डीलर्स के खिलाफ अभियान चलाकर हजारों की संख्या में ड्रग डीलर्स को मौत के घाट उतार दिया था.

इसी वजह से फिलीपींस के पादरियों ने लोगों से 'मौत की संस्कृति' का समर्थन करने वाले रोड्रिगो जैसे शख्स को राष्ट्रपति न चुनने की अपील की थी. अपने चुनाव प्रचार अभियान के दौरान चर्च और पादरियों पर हमला बोलते हुए रोड्रिगो ने कहा था कि, 'फिलीपींस में कुछ लोगों के पास खाना और दवाएं भी नहीं हैं और तुम लोग पैसे का आनंद ले रहे हो. क्या तुम, खुद पर शर्मिंदा नहीं हो? सन ऑफ बिच?' चर्च पर निशाना साधते हुए रोड्रिगो ने कहा, 'सबसे ज्यादा पाखंडी संस्थान कैथोलिक चर्च है.'

यह भी पढ़ें: एक देश के राष्‍ट्रपति ने दी है हत्याओं की 'सुपारी' !

philippines-650_090616064344.jpg
रोड्रिगो ने पादरियों और चर्च की भी आलोचना की और चर्च को सबसे बड़ा पाखंडी संस्थान बता दिया

3.संयुक्त राष्ट्र संघ को 'बेवकूफ' कहाः

फिलीपींस में जारी एंटी ड्रग कैंपेन के दौरान हजारों ड्रग डीलर्स को मार गिराए जाने के बाद मानवाधिकार के मुद्दे पर संयुक्त राष्ट्र संघ की आलोचना से रोड्रिगो बिफर पड़े. जून में संयुक्त राष्ट्र संघ महासचिव बान की मून ने एंटी ड्रग कैंपेन के नाम पर की जा रही हत्याओं को अवैध करार देते हुए इसे आजादी और मौलिक अधिकारों का हनन बताया था. संयुक्त राष्ट्र संघ की आलोचना से नाराज रोड्रिगो ने कहा यूएन के विचारों को मूर्खतापूर्ण करार देते हुए कहा कि जब फिलीपींस पलायन की समस्या से जूझ रहा था तब यूएन कहां था?

रोड्रिगो ने संयुक्त राष्ट्र संघ को मूर्ख बता दियाः

4.अमेरिकी राष्ट्रपति ओबामा को 'सन ऑफ ए बिच' कहाः

अमेरिका द्वारा फिलीपींस में ड्रग डीलर्स की हत्याओं को गलत बताने और फिलीपींस की आलोचना करना रोड्रिगो को रास नहीं आया. इसीलिए ओबामा के साथ प्रस्तावित अपनी बैठक के पहले रोड्रिगो ने गुस्से में कहा कि मैं अमेरिका का कठपुतली नही हूं और अगर उन्होंने सवाल पूछे (ड्रग डीलर्स की हत्याओं के बारे में) तो सन ऑफ बिच को मैं छोडूंगा नहीं. रोड्रिगो ने हालांकि इसके तुरंत बाद ही अपने बयान के लिए माफी मांग ली. लेकिन उनकी इस टिप्पणी से नाराज अमेरिका ने तुरंत ही ये बैठक रद्द कर दी.

यह भी पढ़ें: चीन की धरती पर पहुंचते ही ओबामा को मिला कड़ा संदेश!

ओबामा से लेकर गैंगरेप तक फिलीपींस के राष्ट्रपति के कई विवादित बयानः

5.गैंगरेप का मजाक उड़ाने का विवादः

अप्रैल में राष्ट्रपति पद के चुनाव प्रचार के दौरान रोड्रिगो ने एक रैली में दावाओ जेल में 1989 में हुए नृशंस गैंगरेप की वारदात को लेकर बेहद अमर्यादित और विवादित बयान दिया था. 1989 में दावाओ शहर की एक जेल में 16 कैदियों ने 15 लोगों को बंधक बना लिया था. उस दल में ऑस्ट्रेलियाई मिशनरी जैकलीन हामिल भी शामिल थीं. कैदियों ने जैकलीन हामिल के साथ गैंगरेप किया और बाद में उनकी हत्या कर दी. बाद में सेना की कार्रवाई में सभी 16 कैदी मारे गए थे.

रोड्रिगो ने इस साल अप्रैल में एक रैली के दौरान उसी घटना का जिक्र करते हुए कैदियों द्वारा गैंगरेप और हत्या की शिकार हुई जैकलीन के बारे में कहा था, 'जब लाशें बाहर लाई गईं तो वे ढंकी थीं,...मैंने उसका चेहरा देखा और सोचाः सन ऑफ ए बिच, वह खूबसूरत अमेरिकन ऐक्ट्रेस की तरह लगती थी. मेरे दिमाग में आया कि उन्होंने इसका रेप किया, वे सब लाइन में लगे थे. मैं इस बात से गुस्सा था कि उसका रेप हुआ, लेकिन वह बहुत खूबसूरत थी, रेप करने में पहला नंबर मेयर (रोड्रिगो) का होना चाहिए था.'

jacqueline-hamill_090616064048.jpg
1989 में फिलीपींस में गैंगरेप का शिकार हुई जैकलीन हामिल के बारे में रोड्रिगो ने कहा था, 'रेप करने वालों में पहला नंबर मेयर (मेरा) का होना चाहिए था.'

इन विवादित बयानों स्पष्ट है कि ओबामा के खिलाफ की गई फिलीपींस के राष्ट्रपति रोड्रिगो की टिप्पणी उनके लिए कोई नई बात नहीं है. रोड्रिगो ड्रग की समस्या से निजात दिलाने के लिए की जारी किलिंग के बारे में पहले ही ‘मानवाधिकारों के कानूनों के बारे में भूल जाओ’ जैसे बयान दे चुके हैं.

रोड्रिगो को राष्ट्रपति के रूप में चुनने वाली फिलीपींस की जनता के बारे में फिलीपींस बिशप कॉन्फ्रेंस के प्रेसिडेंट आर्कबिशप सोक्रेट्स विलेजस ने कहा था, ‘हमारे नागरिक रसातल में पहुंच गए हैं.'

लेखक

आईचौक आईचौक @ichowk

इंडिया टुडे ग्रुप का ऑनलाइन ओपिनियन प्लेटफॉर्म.

आपकी राय