charcha me| 

ह्यूमर

 |  1-मिनट में पढ़ें  |   06-09-2016

राहुल गांधी की पहली खाट सभा का समापन ऐसे होगा, यह शायद कांग्रेस के रणनीतिकारों ने सोचा नहीं था. सोशल मीडिया पर कांग्रेस और राहुल गांधी की टांग खींचने का इंतजार कर रहे लोगों ने देर नहीं की.

उत्‍तर प्रदेश में अलग-अलग खाट सभाओं के लिए कांग्रेस पार्टी ने 4000 खाटों का इंतजाम किया था. लेकिन देवरिया की पहली खाट सभा में ही 1500 खाटें उपयोग कर ली गईं. सभा खत्‍म होते ही वहां पहुंचे लोग ये खटिया उठा कर ले गए.

अब इस सभा का कितना राजनीतिक फायदा हुआ, इसका आंकलन तो कांग्रेस बाद में करेगी, लेकिन यह तय हो गया कि करीब 800 रुपए की दर से जुटाई गई ये खाटें उन्‍हें कभी नहीं मिलेंगी.

इस हंगामे के बाद से शुरू हुआ 'किस्सा खाट का'. अलग-अलग जुगाड़ करके खाट लेकर जाते लोगों के फोटो सोशल मीडिया पर वायरल होने लगे. कोई इन्‍हें खाट यात्री कह रहा था तो कोई कांग्रेस को 'खटिया सरकाओ पार्टी'.

कुछ लोगों ने और दिमाग चलाया और फिर खाट को फिल्‍मी नामों में फिट करने लगे. और इसी प्रयोग के साथ ट्विटर पर ट्रेंड करने लगा #ReplaceMovieNameswithKhaat.

कुछ गाने तो कुछ फिल्‍मों से जुड़ी ऐसी ही कल्‍पनाओं की तस्‍वीरें यहां देखिए-

1-khat_090616092314.jpg
 
2-khat_090616092338.jpg
 
3-khat_090616092406.jpg
 
4-khat-psd_090616092420.jpg
 
4-khat_090616092438.jpg
 
5-khat_090616092604.jpg
 

लेखक

आईचौक आईचौक @ichowk

इंडिया टुडे ग्रुप का ऑनलाइन ओपिनियन प्लेटफॉर्म.

आपकी राय